भिलाई-रायपुर | रविवार 09 दिसंबर, 2018 / भिलाई-रायपुर | रविवार 09 दिसंबर, 2018

Bhaskar News Network

Dec 09, 2018, 02:05 AM IST

Balod News - बालोद. भालू के हमले से घायल अजय ठाकुर का इलाज जिला अस्पताल में चल रहा है। घायल की जुबानी: दो भालू आ रहे थे हमला...

Balod News - bhilai raipur sunday december 09 2018
बालोद. भालू के हमले से घायल अजय ठाकुर का इलाज जिला अस्पताल में चल रहा है।

घायल की जुबानी: दो भालू आ रहे थे हमला करने, मुश्किल से बची जान

जिला अस्पताल में भर्ती घायल अजय ठाकुर ने कहा कि वह अपने 2 दोस्तों के साथ जंगल में जलाऊ लकड़ी लाने गया था। कुछ दूर जाने के बाद तीनों दोस्त अलग-अलग क्षेत्र में लकड़ी ढूंढने निकल गए। इस दौरान उनका सामना एक भालू से हो गया। जो उन्हें देखकर लपकने लगा। हाथ, पैर व चेहरे में पंजा मारने लगा। इस भालू के 50- 60 फीट दूर दूसरा भालू भी उन्हीं की ओर आ रहा था। लेकिन उन्होंने हिम्मत नहीं हारी और कैसे भी करके खुद को भालू से बचाते हुए दौड़ लगाई। घने जंगल से बाहर आकर अपनी जान बचाई। कुछ दूर तक दोनों भालू उनका पीछा भी कर रहे थे। फिर लौट गए। जान बचाकर थका हारा वह एक पेड़ के नीचे बैठा था। कुछ देर बाद उनके दो दोस्त लकड़ी इकट्ठा करते हुए वहीं पर आए और उसे कंधों के सहारे उठाकर गांव लाए। फिर घोटिया अस्पताल में प्राथमिक इलाज के लिए ले गए। वहां स्थिति में सुधार नहीं आने पर संजीवनी 108 के जरिए जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

विभाग से की गई सुरक्षा की मांग पर कोई झांकने भी आता नहीं

ग्रामीण घनश्याम श्रीवासी, कत्तु निषाद, शिशुपाल हिड़को ने कहा कि कई बार वन विभाग के अफसरों को क्षेत्र में सुरक्षा व्यवस्था बढ़ाने के लिए मांग की गई है। लेकिन ध्यान नहीं दिया जाता। रेंजर रिजवान खान का कहना है कि जब हमें कहीं से कोई शिकायत आती है तो मौके पर जरूर जाते हैं। ऐसी घटना में घायलों को मुआवजा दिलाने का भी प्रावधान है। 24 घंटे में हम तक सूचना पहुंचना चाहिए। ग्रामीण अकेले जंगल में नहीं जाएं।

X
Balod News - bhilai raipur sunday december 09 2018
COMMENT