एनएच में शामिल करने 100 किमी चाहिए, काम शुरू नहीं

Balod News - बालोद जिले के झलमला तिराहा से दुर्ग जिले के पुलगांव चौक तक 54 किलोमीटर सड़क को नेशनल हाइवे में शामिल किया जाएगा। तभी...

Bhaskar News Network

Mar 17, 2019, 02:05 AM IST
Balod News - chhattisgarh news 100 km should be included in nh work does not start
बालोद जिले के झलमला तिराहा से दुर्ग जिले के पुलगांव चौक तक 54 किलोमीटर सड़क को नेशनल हाइवे में शामिल किया जाएगा। तभी फोरलेन बनाने का काम शुरू होगा। लेकिन यह तब होगा जब दुर्ग, बेमेतरा, धमधा की सड़कों को भी शामिल किया जाएगा। यह कब तक होगा, इस संबंध में कोई कुछ कह नहीं पा रहा है। फिलहाल लोगों की आवाजाही की दृष्टिकोण से महत्वपूर्ण बालोद-दुर्ग की सड़क नेशनल हाइवे के अधीन नहीं है। इसलिए पुलगांव से खप्परवाड़ा तक फोरलेन, झलमला चौक तक चौड़ीकरण कार्य अटका है।

दुर्ग को जोड़ने वाली इस प्रमुख सड़क में सुबह से शाम तक वाहनों का दबाव बना रहता है। औसत प्रति पांच सेकंड में एक वाहन गुजर रहा है। यह रोड दुर्ग को धमतरी, जगदलपुर, दंतेवाड़ा से जोड़ती है। इसमें करीब 45 सेकंड के अंतराल पर भारी वाहन भी गुजरते हैं। लंबी दूरी की दो दर्जन से ज्यादा बसें भी चलती हैं। इसलिए फोरलेन बनाने की योजना बनाई गई है।

देरी: 100 किमी करेंगे तब फोरलेन व डामरीकरण होगा शुरू

बालोद. पुलगांव चाैक से झलमला चौक तक कई जगह मोड़ होने के चलते हादसे की आशंका है।

सिर्फ फाइलों में योजना

सड़क दुर्घटना व यातायात के दबाव को कम करने के लिए खप्परवाड़ा (गुंडरदेही) से पुलगांव चौक (दुर्ग) तक फोरलेन बनाने की योजना तीन साल से फाइलों में कैद है। बालोद व दुर्ग जिले के 24 से अधिक गांव इस प्रोजेक्ट में आ रहे हैं।

होगा यह फायदा

फोरलेन बनने से एक ओर जहां दुर्ग व बालोद जिले के लगभग 24 गांवों की आवागमन सुविधा पहले से बेहतर हो जाएगी। वहीं वे शहरी विकास की दौड़ में सीधे शामिल हो जाएंगे। कोलिहापुरी, पीसेगांव, चंदखुरी, भाठागांव, कुथरेल, कोनारी के लोगाों को फायदा होगा।

काम शुरू होने में यह बन रहा रोड़ा, दूर करने विभाग की अब यह प्लानिंग

अभी ये है स्थिति: पुलगांव से झलमला की दूरी 54 किमी है, जो कम है। लिहाजा शासन व संबंधित विभाग की ओर से टेंडर जारी नहीं हो पाया है। दो साल पहले बजट में 10 करोड़ का प्रावधान हुआ था।

कैसे दूर होगी समस्या: अफसरों का कहना है कि बेमेतरा जिले की सड़कें को शामिल कर नेशनल हाइवे के दायरे में लाएंगे, फिर काम शुरू करेंगे। नेशनल हाइवे का दायरा दुर्ग व बेमेतरा तक बढ़ाने की कार्रवाई जारी है। यह नियम के चलते किया गया।

क्या आ रही रोड़ा: नेशनल हाइवे विभाग 100 किलोमीटर से ज्यादा सड़क को अपने अधीन में लाने के बाद कार्य करती है। नेशनल हाइवे विभाग के अधीन करने सैद्धांतिक सहमति मिल चुकी है।

अफसर कह रहे

नेशनल हाइवे के एसडीओ बी. केरकेट्‌टा ने बताया कि फोरलेन निर्माण व सड़क को एनएच में लाने के लिए राज्य व केन्द्र शासन की सहमति का इंतजार कर रहे हैं। वैसे सैद्धांतिक सहमति मिल चुकी है। ड्राइंग, डिजाइन व एस्टीमेट को मंजूरी के लिए भेजा जाएगा।

X
Balod News - chhattisgarh news 100 km should be included in nh work does not start
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना