--Advertisement--

पीड़ित कह रहे हैंडपंप के गंदे पानी से हुए बीमार

जिला मुख्यालय से 16 किलोमीटर दूर ग्राम बोरी (खपरी), एक भवन में अस्थाई कैंप लगाकर उल्टी-दस्त से पीड़ित मरीज को ग्लूकोज...

Dainik Bhaskar

May 02, 2018, 02:05 AM IST
पीड़ित कह रहे हैंडपंप के गंदे पानी से हुए बीमार
जिला मुख्यालय से 16 किलोमीटर दूर ग्राम बोरी (खपरी), एक भवन में अस्थाई कैंप लगाकर उल्टी-दस्त से पीड़ित मरीज को ग्लूकोज बाटल चढ़ाकर इलाज करने का सिलसिला मंगलवार को भी जारी रहा। यहां अब तक 37 मरीज मिल चुके हैं। जो कह रहे है कि हैंडपंप का गंदा पानी पीए थे, इसलिए पेट दर्द होने की शिकायत हुई फिर उल्टी, दस्त।

स्वास्थ्य विभाग के अफसर कह रहे है कि पानी नहीं खानपान के कारण लोग बीमार हो रहे है। मंगलवार को यहां पानी जांच की।

ग्राम बोरी में अस्थाई कैंप लगाकर मरीजों को ग्लूकोज चढ़ाया जा रहा है।

बोरी खपरी में अब तक 37 लोगों की बिगड़ी तबीयत

तीन जगहों पर भोजन किया: रविवार को उल्टी-दस्त की शिकायत शुरू हुई। जबकि गांव में 25 को सुनेत व शुक्रवार को मलक राम साहू के घर में शादी समाप्त हुई। यहां मरीज नहीं है।

खानपान है वजह: बीएमओ एसके सोनी का कहना है कि खानपान के कारण ही ग्रामीण बीमार हुए है। पानी कोई कारण नहीं है। खपरी के सचिव महेन्द्र साहू ने बताया कि खानपान की वजह से हुआ है ऐसी जानकारी है।

इनका इलाज जारी: पुष्पा, नेहा, कुसुमलता, महेश कुमार, शीतल, सोहन, दानीराम, रुपराम, चोवाराम सहित अन्य 37 बीमार हैं। जिसका इलाज चल रहा है।

पानी के कारण नहीं हुआ: गांव में हैंडपंप व टंकी के भरोसे पानी सप्लाई होती है। पीएचई ने 15 दिन पहले सिर्फ नल जल योजना के तहत टंकी के पानी की जांच की थी।

हुई थी जांच: जनपद उपाध्यक्ष लतादेवी साहू ने बताया कि 15 दिन पहले ही टंकी के पानी जांच पीएचई ने की थी, बोरी के ग्रामीण जिस पानी को पीने से बीमार हो रहे हैं, वह हैंडपंप का है।

X
पीड़ित कह रहे हैंडपंप के गंदे पानी से हुए बीमार
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..