--Advertisement--

फसल क्षति हुई तो किसानों को मिलेगा 432 करोड़

प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के तहत सभी 69 सहकारी समितियों से जिला सहकारी केन्द्रीय मर्यादित बैंक को रिकाॅर्ड मिल...

Dainik Bhaskar

Aug 08, 2018, 02:05 AM IST
प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के तहत सभी 69 सहकारी समितियों से जिला सहकारी केन्द्रीय मर्यादित बैंक को रिकाॅर्ड मिल गया है। इस बार 2 अगस्त तक बीमा कराने का समय दिया गया था। जिसके बाद पोर्टल में आॅनलाइन एंट्री बंद हो गई है। खरीफ सीजन 2018-19 के लिए जिले के 83 हजार 937 किसान बीमा के लिए पात्रता की श्रेणी में है। जिसमें सिंचित क्षेत्र के 41 हजार 224 व असिंचित क्षेत्र के 40 हजार 872 किसान शामिल है।

अऋणी किसानों की संख्या सिंचित क्षेत्र के 510 व असिंचित के 1284 है। योजना के तहत धान के अलावा सोयाबीन, उड़द फसल का बीमा किया गया है। कुल रकबा एक लाख 17 हजार 433.3 हेक्टेयर है। किसानों से शासन से अधिकृत बीमा कंपनी को 8 करोड़ 68 लाख 41 हजार 422 रुपए प्रीमियम भुगतान किया गया है। प्रीमियम राशि बैंक की ओर से संबंधित को भेज दी गई है। फसल क्षति होने की स्थिति में किसानों को 4 अरब 34 करोड़ 20 लाख 71 हजार रुपए बीमा कंपनी को भुगतान करना होगा।

सोयाबीन व उड़द फसल के लिए भी किसानों ने बीमा कराया है। डौंडी के एक किसान ने एक हेक्टेयर सोयाबीन का व डौंडीलोहारा के 45 किसानों ने 8.89 हेक्टेयर में लगे उड़द के एवज में बीमा कराया है।

इस बार रकबा कम लेकिन किसानों की संख्या ज्यादा

खरीफ सीजन 2017-18 में 83 हजार 412 किसानों ने एक लाख 21 हजार 415.10 हेक्टेयर रकबे में लगे धान व अन्य फसल का बीमा कराया था। पिछले साल की अपेक्षा इस बार 3 हजार 982.01 हेक्टेयर रकबे कम है। लेकिन किसानों की संख्या बढ़ी है। बीमा कराने वाले इस बार 525 किसान ज्यादा है।

सिंचित में प्रति हेक्टेयर 900, असिंचित में 600 रुपए

जिला सहकारी केन्द्रीय बैंक के नोडल अफसर आरके आलेन्द्र के अनुसार जिले के 69 सहकारी समितियों से ऋण व खाद बीज लेने वाले किसानों का बीमा हुआ है। सिंचित क्षेत्र के किसानों से प्रति हेक्टेयर 900 रुपए व असिंचित क्षेत्र के किसानों से प्रति हेक्टेयर 600 रुपए के हिसाब से बीमा प्रीमियम राशि ली गई।

फसल बीमा के लिए ऋणी पंजीकृत किसान रकबावार

सिंचित रकबा: 54,138.48 हेक्टे.

पंजीकृत किसान: 41,224

असिंचित रकबा: 61,336 हेक्टे.

पंजीकृत किसान: 40,872

अऋणी पंजीकृत किसान रकबावार

सिंचित रकबा: 47,359 हेक्टेयर

पंजीकृत किसान: 510

असिंचित रकबा: 1473.74 हेक्टे.

पंजीकृत किसान: 1,284

X
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..