• Hindi News
  • Chhatisgarh
  • Balod
  • बंगाल की खाड़ी में चक्रवात का असर जिले में, हुई 40 मिमी बारिश
--Advertisement--

बंगाल की खाड़ी में चक्रवात का असर जिले में, हुई 40 मिमी बारिश

Dainik Bhaskar

Aug 08, 2018, 02:05 AM IST

Balod News - पिछले 48 घंटे में जिले में औसत 40.1 मिमी बारिश हो चुकी है। जिसे किसानों के लिए अच्छा माना जा रहा है, क्योंकि धान की फसल को...

बंगाल की खाड़ी में चक्रवात का असर जिले में, हुई 40 मिमी बारिश
पिछले 48 घंटे में जिले में औसत 40.1 मिमी बारिश हो चुकी है। जिसे किसानों के लिए अच्छा माना जा रहा है, क्योंकि धान की फसल को सुरक्षित रखने के लिए पानी की जरुरत थी। सावन के 7 दिन बारिश नहीं हुई थी, ऐसे में किसान चिंतित नजर आ रहे थे। खेताें में दरारें पड़ गई थी। लेकिन 40 मिमी बारिश ने फिलहाल किसानों की परेशानी दूर कर दी है।

सोमवार रात को लगातार बारिश होती रही। जिसका असर मंगलवार को दिखा, बारिश तो नहीं हुई लेकिन सुबह से शाम तक आसमान में बादल छाए रहे। ठंडी हवाएं चली। तापमान में 5 डिग्री की गिरावट आई। जिससे लोगाें को ठंडकता महसूस हुई। अभी जो बारिश हो रही है और तापमान में गिरावट आई है। इनकी वजह बंगाल की खाड़ी में कम दबाव का क्षेत्र है। इसके ऊपर साढ़े सात किलोमीटर के दायरे में ऊपरी चक्रवात बना हुआ है। इसका असर बुधवार तक रहेगा, ऐसा दावा मौसम विभाग कर रहा है। मौसम विभाग की मानें तो बंगाल की खाड़ी में कम दाब या कोई भी सिस्टम बनता है तो बारिश होती है। कम दाब के अलावा फिलहाल कहीं द्रोणिका व चक्रवात नहीं बना है।

डैम को ओवरफ्लो के लिए चाहिए 18 फीट और पानी, आज भी बारिश के संकेत

बालोद. ब्लाॅक में सबसे ज्यादा 56.3 मिमी बारिश हुई, पानी तांदुला डैम में जा रहा।

जिले के लिए इस बार रेड नहीं, आरेंज अलर्ट जारी

बारिश के बाद तांदुला डैम का जलस्तर 0.60 फीट बढ़ा है। यहां अब कुल 20.50 फीट पानी है। ओवरफ्लो के लिए अब 18 फीट पानी की जरुरत है। वहीं गोंदली का जलस्तर 0.40 फीट बढ़ा है। यहां 22.80 फीट पानी है। नालियों से अब तक दोनों डैम में पानी आ रहा है। मौसम विभाग रायपुर के कई संभाग के लिए रेड अलर्ट जारी किया है। वहीं बालोद जिले के लिए अभी आरेंज अलर्ट जारी किया गया है।

आरेंज अलर्ट यानि कहीं ज्यादा तो कहीं कम बारिश

इसका मतलब यह है कि कहीं ज्यादा बारिश होगी तो कहीं कम, इसलिए सूचना दी जाती है कि बारिश के पहले सुरक्षा के इंतजाम किए जाए। अारेंज अलर्ट यानि खतरा इसलिए तैयार रहें। जैसे-जैसे मौसम और खराब होता है तो येलो अलर्ट को अपडेट करके आरेंज कर दिया जाता है। इसमें लोगों को इधर-उधर जाने के प्रति सावधानी बरतने को कहा जाता है। खाड़ी में कम दाब के कारण चक्रवात बना हुआ है। ं

जानिए, ब्लॉकवार बारिश का हाल

ब्लाॅक मंगलवार अब तक

बालोद 56.3 658.2

गुंडरदेही 37.2 608.1

गुरुर 38.0 514.4

डौंडीलोहारा 24.4 347.0

डौंडी 16.0 408.6

औसत 34.4 507.3

जिले में सावन के 7 दिन इसलिए नहीं हुई बारिश

बंगाल की खाड़ी में हलचल हुई, चक्रवात भी बने लेकिन यह ओडिशा और छत्तीसगढ के आते तक कमजोर हो गया। लिहाजा बारिश नहीं हुई। अब कम दाब का क्षेत्र बना हुआ है। जिससे उड़ीसा और छत्तीसगढ़ के सीमावर्ती क्षेत्र में चक्रवात बनने के आसार है। जो बारिश के लिए अनुकूल रहेगा। मौसम वैज्ञानिक पोषण देवांगन ने बताया कि बंगाल की खाड़ी में कम दाब का क्षेत्र बना हुआ है।

X
बंगाल की खाड़ी में चक्रवात का असर जिले में, हुई 40 मिमी बारिश
Astrology

Recommended

Click to listen..