• Hindi News
  • Chhatisgarh
  • Balod
  • यालको कंपनी की 14 करोड़ मूल्य की जमीन बेचकर निवेशकों की राशि देंगे

यालको कंपनी की 14 करोड़ मूल्य की जमीन बेचकर निवेशकों की राशि देंगे / यालको कंपनी की 14 करोड़ मूल्य की जमीन बेचकर निवेशकों की राशि देंगे

Balod News - दल्लीराजहरा क्षेत्र में सैकड़ों लोगों से 56 लाख रुपए से अधिक ठगी करने वाली यालको रियल स्टेट एंड एग्रो फ़ोर्मिन्ग...

Bhaskar News Network

Aug 11, 2018, 02:06 AM IST
यालको कंपनी की 14 करोड़ मूल्य की जमीन बेचकर निवेशकों की राशि देंगे
दल्लीराजहरा क्षेत्र में सैकड़ों लोगों से 56 लाख रुपए से अधिक ठगी करने वाली यालको रियल स्टेट एंड एग्रो फ़ोर्मिन्ग लिमिटेड कंपनी के राजनांदगांव में 292 एकड़ व दल्लीराजहरा में 2.266 हेक्टेयर जमीन है ।

इसकी पुष्टि वहां के जिला प्रशासन, जिला पुलिस कार्यालय, पंजीयन कार्यालय से जानकारी मिलने के बाद दल्लीराजहरा पुलिस ने की है। अब इसे कुर्की कर निवेशकों को पैसा लौटाया जाएगा। वहां जिला प्रशासन ने यालको कंपनी की 292 एकड़ जमीन कुर्क कर ली है। इस कंपनी के 15 अकाउंट सील करने के लिए संबंधित बैंकों को पत्र भी लिखा गया है। यालको कंपनी के एमडी प्रेमलाल देवांगन को पुलिस गिरफ्तार कर चुकी है। इसी तरह उनकी प|ी दुर्ग जेल में बंद है। उसके साला रवि देवांगन भी पुलिस गिरफ्त में है। पिछले सप्ताह गिरफ्तार निशा देवांगन ने जमानत ली है। यह सभी पांच साल में राशि डबल करने का लालच देकर लोगों से धोखाधड़ी करते थे।

पुलिस और प्रशासन ने जमीन सीज की कार्रवाई की

मैच्योरिटी के बाद भी नहीं लौटाए निवेशकों के पैसे

पुलिस के अनुसार राजधानी रायपुर, बालोद, राजनांदगांव के अलावा प्रदेशभर में यालको कंपनी में 10 हजार से अधिक लोगों ने पैसे जमा किए थे। मैच्योरिटी के बाद भी उन्हें रकम नहीं लौटाई गई। शिकायत पर पुलिस और प्रशासन ने जमीन सीज करने की कार्रवाई की है।

पहले 12 करोड़ आंकी गई थी जमीन की कीमत

कंपनी में करीब 10 हजार लोगों ने 5 हजार से 10 लाख रुपए तक निवेश किया है। कंपनी की कुर्क की गई 292 एकड़ जमीन की कीमत 12 करोड़ 13 लाख रुपए आंकी गई है। हालांकि यह वर्ष 2016 के हिसाब से जमीन की कीमत है। अब इनकी कीमत 14 करोड़ से ज्यादा होने के दावे पुलिस कर रही है, साथ ही जिले में भी जमीन मिली हैं।

छापे की कार्रवाई से पहले ही लगे ताले: कंपनी ने बालोद, नांदगांव के अलावा रायपुर, धमतरी में कारोबार फैला रखा था। कंपनी ने शुरुआत राजधानी में लालपुर स्थित एक काॅम्प्लेक्स से की थी। वहां पुलिस ने छापा मारा तो कंपनी ने न्यू राजेंद्र नगर में नया ऑफिस खोला। वहां भी ताला लगा भाग गए।

एमडी प्रेमलाल व ममता किरण पर मामला दर्ज

यालको कंपनी के एमडी प्रेमलाल देवांगन और ममता किरण देवांगन पर बसंतपुर थाना में रकम दोगुनी करने का झांसा देकर धोखाधड़ी की एफआईआर दर्ज है। तब दोनों फरार हो गए थे। इसके बाद पुलिस ने दोनों पर 10-10 हजार रुपए का इनाम भी घोषित किया।

अफसरों को लिखा पत्र: टीआई मनीष कुमार परिहार ने बताया कि राजनांदगांव में जो जमीन मिली है, वह उनके या कंपनी के नाम पर है या नहीं, इसे कंफर्म कर रहे हैं। हम भी उच्च अफसरों से मार्गदर्शन लेकर उनके आदेश पर पत्र लिखकर जमीन संपत्ति कुर्की को लेकर कार्रवाई करेंगे।

X
यालको कंपनी की 14 करोड़ मूल्य की जमीन बेचकर निवेशकों की राशि देंगे
COMMENT