--Advertisement--

10 दिन से नहीं हुई बारिश, सूख रहे धान के पौधे

सावन के महीने में बारिश नहीं होने क्षेत्र के 20 ग्राम मल्दी, मोपर, देवरानी, टोपा, गोढ़ी, अमलीडीह, खम्हरिया, तुरमा,...

Dainik Bhaskar

Aug 05, 2018, 02:06 AM IST
10 दिन से नहीं हुई बारिश, सूख रहे धान के पौधे
सावन के महीने में बारिश नहीं होने क्षेत्र के 20 ग्राम मल्दी, मोपर, देवरानी, टोपा, गोढ़ी, अमलीडीह, खम्हरिया, तुरमा, गुर्रा, खैरी, परसाडीह टोनाटार नवागांव, मिरगी, खैरताल, रवान, भद्रापाली आदि में खेती किसानी का काम रुक गया है। पानी गिरे करीब 10 दिन बीत गए हैं। अब भी बारिश की कोई उम्मीद नहीं दिखाई दे रही है। किसानों ने गंगरेल से नहर में पानी छोड़ने की मांग शासन-प्रशासन से की है।

बोर पंप वाले किसानों का रोपा, बियासी का काम चल रहा है। बाकी किसान खरपतवार नाशक दवाई डालकर पानी गिरने का बेसब्री से इंतजार कर रहे हैं। ग्राम अर्जुनी में केवल 20 प्रतिशत रोपाई हुई है। बाकी किसान बियासी के लिए बारिश का इंतजार कर रहे हैं। किसान रामकुमार वर्मा, तुम्मन वर्मा, रामप्रसाद वर्मा, जवाहर वर्मा, हीरालाल वर्मा, बालमुकुंद शर्मा, नोहर शर्मा, मल्दी के भरतलाल साहू, भोला वर्मा, मोपर के दौलत साहू, सोनाराम साहू, सहदेव साहू, हीरादास साहू आदि का कहना है कि यदि एक सप्ताह के अंदर धान की फसल को पानी नहीं मिला तो सूखे की स्थिति निर्मित हो जाएगी।

सावन में भी नहीं हो रही बारिश, अर्जुनी क्षेत्र के 20 गांवों में फसल प्रभावित

अर्जुनी. टोनाटार खार में पानी नहीं गिरने से फसल सूख रही है।

पंप के लिए 24 घंटे बिजली देने की मांग

राज्य सरकार से अटल ज्योति योजना के तहत बोर पंप को 24 घंटे में केवल 5 से 6 घंटे ही बिजली सप्लाई होती है। किसानों ने बलौदा बाजार के विद्युत कार्यपालन अभियंता से 24 घंटे सप्लाई देने की मांग की है।

X
10 दिन से नहीं हुई बारिश, सूख रहे धान के पौधे
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..