• Home
  • Chhattisgarh News
  • Bastar News
  • मिनी मैराथन : 72 साल की कमला दौड़ीं नंगे पांव, श्रीलंका में भी मनवा चुकी हैं लोहा
--Advertisement--

मिनी मैराथन : 72 साल की कमला दौड़ीं नंगे पांव, श्रीलंका में भी मनवा चुकी हैं लोहा

जगदलपुर | मैराथन में शामिल होने के लिए विजय वार्ड निवासी 72 वर्षीय कमला दुबे हाता ग्राउंड पहुंची थी। कमला नंगे पांव...

Danik Bhaskar | Apr 02, 2018, 02:05 AM IST
जगदलपुर | मैराथन में शामिल होने के लिए विजय वार्ड निवासी 72 वर्षीय कमला दुबे हाता ग्राउंड पहुंची थी। कमला नंगे पांव ही दौड़ लगाती हैं। 72 की उम्र में उन्होंने बिना रुके ही पांच किमी की मैराथन दौड़ पूरी की। इससे पहले कमला ने श्रीलंका में आयोजित दौड़ में हिस्सा ले चुकी हैं। उम्र के इस पड़ाव में भी उनके अंदर स्वस्थ रहने का एक अलग ही जज्बा है। कमलवती बताती हैं कि वे नंगे पैर ही दौड़ लगाती हैं। इस दौरान कई बार उनके पैर में चोटें भी आती हैं। रविवार को भी पैर में चोट आई लेकिन यह चोट एक-दो दिनों में ही ठीक हो जाती हैं।

आयोजन को सफल बनाने में इनका अहम योगदान

मैराथन दौड़ पूरी करवाने में शहर के अलग-अलग स्कूलों के पीटीआई ने महत्वपूर्ण भूमिका निभाई। इनकी बदौलत मैराथन पूरी हो पाई। ऐसे में पीटीआई नबी मोहम्मद, एएन शाही, संजय मूर्ति, अजय मूर्ति, राजकुमार महतो, अतुल शुक्ला, जोगेंद्र ठाकुर, रूपक मुखर्जी, रविंद्र पटनायक, दीपक देवांगन, चंद्रमोहन वर्मा, जुगल किशोर मोहंती, सरला रथ, माया सिंह, शाहिला, चैतराम सारथी, संजय श्रीवास्तव, कोटेश्वर नायडू, विजय शेरकर का सम्मान विशेष पुरस्कार देकर किया गया। मिनी मैराथन में किरंदुल के सीआईएस एफ के जवानों ने भी शिरकत की। जिसमें विजय कुमार जांगिड ने बहुत ही अच्छा प्रदर्शन करते हुए टॉप 10 में जगह बनाकर पुरस्कार हासिल किया। किरंदुल से 7 जवानों ने दौड़ में भाग लिया जिसमें एसआई प्रदीप कुमार, विजय कुमार जांगिड, आरसी मुर्मू, किस्तो कुमार, राजीव सुंडी, राहुल बाबरी, राजेंद्र सिंह गुज्जर, किशोर जाल, रामकृष्ण बैरागी दौड़ में शामिल हुए।

इस कार्यक्रम में शामिल होने के लिए शहर के आमो-खास लोग भी पहुंचे हुए थे। कार्यक्रम की शुरूआत दैनिक भास्कर के समाचार संपादक भंवर बोथरा ने यहां मौजूद लोगों का पुष्पगुच्छ से स्वागत कर किया। उन्होंने अपने उद्बोधन में कहा कि स्वच्छता को लेकर बनाई गई पुस्तिका का वितरण शहर के हर घर में किया जाएगा। यह पुस्तक स्वच्छता को लेकर लोगों के लिए काफी उपयोगी साबित होगी।भास्कर के द्वारा आयोजित किए गए मिनी मैराथन दौड़ के सपोर्ट में शहर के लोग खुद ही उतर आए। कई चौक चौराहों पर धावकों का उत्साहवर्धन किया तो करीब आधा दर्जन स्थानों पर दौड़ने वाले लोगों के लिए पीने के पानी की व्यवस्था की। इस दौरान थक चुके धावकों को लोगों ने मोटिवेट किया।

इस दौड़ में शामिल होने के लिए बस्तर संभाग के अलावा पूरे प्रदेश से लोग पहुंचे थे। रात में बारिश और ओला वृष्टि के बाद ऐसा लगने लगा कि लोग सुबह शहर की सड़कों पर दौड़ेंगे या नहीं लेकिन सुबह छह बजे से ही बड़ी संख्या में लोग हाता ग्राउंड पहुंचने का सिलसिला शुरू हो गया। बदले मौसम की परवाह किए बिना लोग स्वच्छता का संदेश देने हाता ग्राउंड पहुंचे। इसके बाद मैराथन की शुरूआत हुई। लोगों ने सुबह शहर की सड़कों पर दौड़कर लोगों स्वच्छता के प्रति जागरूक किया।

दौड़ में शामिल होने पहुंची 72 वर्षीय कमला