Hindi News »Chhatisgarh »Bhatapara» काली पट्टी बांधकर किया विराेध, जिला निर्माण संघर्ष समिति ने दिया मौन धरना

काली पट्टी बांधकर किया विराेध, जिला निर्माण संघर्ष समिति ने दिया मौन धरना

भाटापारा को जिला बनाने की मांग को लेकर जिला निर्माण संघर्ष समिति ने एक दिवसीय मौन धरना-प्रदर्शन रविवार को सुभाष...

Bhaskar News Network | Last Modified - Aug 13, 2018, 03:20 AM IST

काली पट्टी बांधकर किया विराेध, जिला निर्माण संघर्ष समिति ने दिया मौन धरना
भाटापारा को जिला बनाने की मांग को लेकर जिला निर्माण संघर्ष समिति ने एक दिवसीय मौन धरना-प्रदर्शन रविवार को सुभाष बाजार में किया। मौन धरने पर संघर्ष समिति के लोग सुबह 11 से शाम 3 बजे तक बैठे रहे, जिसे विभिन्न दलों के नेताओं सहित सभी वर्ग के लोगों ने खुलकर समर्थन दिया और मुंह पर काली पट्टी बांधकर विरोध जताया।

ज्ञात हो कि भाटापारा जिले की मांग 28 साल पुरानी है, जिसे लेकर समिति 10 महीने से लगातार प्रदर्शन कर रही है। राज्य शासन की लगातार उपेक्षा से व्यथित होकर यहां की जनता ने इस बार मौन प्रदर्शन किया और 3 बजे मुख्यमंत्री के नाम पुलिस अफसरो को ज्ञापन सौंपा। धरने में व्यवसायी, नेता, साहित्यकार, बुद्धिजीवी और समाजसेवियों ने बढ़-चढ़कर हिस्सा लिया। इस दौरान संघर्ष समिति के बलदेव भारती, नंदकिशोर शर्मा, पूर्व विधायक नरेंद्र शर्मा, कांग्रेस नेता सतीश अग्रवाल, सुशील शर्मा, इंद्र साव, अमित शर्मा, रमेश यदु, सचिंद्र शर्मा, दिवाकर मिश्रा, देवेंद्र भृगु, पूरन सिंह सबलानी, आलोक मिश्रा, संतोष अग्रवाल, लक्ष्मण किंगरानी, राजकुमार मल, शंकर सोनी, राजीव तिवारी, राजकुमार मल, विनोद शर्मा, अजय अमृतांशु, संजय श्रीवास, विनोद केशरवानी, शिव नारायण साहू, राजकुमार साव, भूपेंद्र सेन, चंद्रकांत यदु, दिनेश सोनी, एजाज खान, रजनीकांत मंत्री, विनोद यदु, किशन साहू, श्यामसुंदर अवस्थी, गिरीश पापयानी, संजय शर्मा, हनी यदु आिद लोग उपस्थित थे।

सुभाष बाजार में जिला बनाने की मांग को लेकर मौन धरने पर बैठे सदस्य।

कांग्रेस, जोगी कांग्रेस बोली सरकार बनी तो मांग पूरी

इस बात से कतई इंकार नहीं किया जा सकता कि आगामी विधानसभा चुनाव में भाटापारा जिला निर्माण का मुद्दा ही प्रमुख होगा। हाल ही में नेता प्रतिपक्ष टीएस सिंहदेव ने नगर प्रवास के दौरान भाटापारा को जिला बनाने की मांग को कांग्रेस के घोषणापत्र में शामिल करने तथा सरकार बनने पर जिला घोषित करने की बात कही है। इसके पहले भी पूर्व मुख्यमंत्री अजीत जोगी और प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष भूपेश बघेल द्वारा भी अपनी सरकार बनने पर जिला बनाने की बात कही जा चुकी है। जिले के नाम पर तीन बार भाटापारा को छले जाने के बाद से यहां की जनता आक्रोशित और आंदोलित हो गई है, जिसकी अनदेखी किसी भी राजनीतिक दल को महंगी पड़ेगी।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Bhatapara

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×