--Advertisement--

इस कार्निवाल में होती है बहुरूपियों की परेड, देखने पहुंचे 200 गांवों के हजारों लोग

परेड देखने 200 गांवों के हजारों लोग सड़क के किनारों पर लगभग 8 घंटे तक खड़े रहे।

Dainik Bhaskar

Jan 01, 2018, 07:50 AM IST
छग का 27 साल पुराना कैशलेस कार्निवालः छग का 27 साल पुराना कैशलेस कार्निवालः

मनेंद्रगढ़(छत्तीसगढ़). साल के आखिरी दिन रविवार को मनेंद्रगढ़ की सड़कों पर छत्तीसगढ़ के सबसे बड़े कैशलेस कार्निवाल में बहुरूपियों की परेड देखने के लिए 200 गांवों के हजारों लोग सड़क के किनारों पर लगभग 8 घंटे तक खड़े रहे। सुबह 11 बजे से 30 समूहों ने अलग-अलग तरीके से लोगों का मनोरंजन किया। एकल में 30 कलाकारों ने अपनी कला दिखाई।

कलाकारों ने अपनी कला से लोगों को हैरान कर दिया
- कोरिया जिले के लगभग 1 लाख आबादी वाले मनेन्द्रगढ़ में बहुरूपिया महोत्सव ने 27 वें साल भी शहर के चौक-चौराहों व गलियों में लोगों का मनोरंजन किया। प्रगति मंच के इस आयोजन में न केवल छत्तीसगढ़ वरन मध्यप्रदेश के कई जिलों से भी कलाकार शामिल हुए। शहरभर में बहुरूप लिए कलाकारों ने अपनी कला से लोगों को हैरान कर दिया।

- एकल व समूह दो वर्गों में कलाकारों ने विभिन्न रूप धारण किए। इस साल बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ, संपूर्ण स्वच्छता अभियान जैसी सोच के साथ लोगों ने अपनी कला का प्रदर्शन किया।

- कई ने परंपरागत रूप धरकर लोगों का मनोरंजन किया। कोई तोता बना था तो कोई बाल गणेश। किसी ने जिन्न का रूप धरा था तो किसी ने गाय को बचाने का संदेश दिया।

- कलाकारों ने प्रधानमंत्री मोदी का रूप धारण कर स्वच्छता का संदेश दिया।

पूरी तरह कैशलेस है यह आयोजन

कार्निवाल की खास बात यह है कि किसी भी कलाकार को पुरस्कार के रूप में नगद राशि नहीं दी जाती। व्यापारियों द्वारा उनके प्रतिष्ठान से दिया जाने वाला सामान पुरस्कार के रूप में दिया जाता है। लगभग 3 सौ से अधिक व्यापारी इस आयोजन से सीधे सीधे जुड़े हैं।

एकल में कहानियों का राजकुमार व समूह में बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ नारा देते भील समूह की जीत

बहुरूपिया प्रतियोगिता में एकल वर्ग में पहला इनाम घोड़े पर सवार कहानियों का राजकुमार बने हरीराम यादव व दूसरा इनाम सांताक्लाज का रूप धारण किए अरूण जायसवाल को मिला। वहीं समूह वर्ग में बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ के संबंध में जागरूकता का संदेश देते भील समूह परमजीत सिंह रैना एंड गु्रप को पहला इनाम व दूसरा इनाम विजय गुप्ता एंड गु्रप को राउतनाच के लिए दिया गया। इनके अलावे टॉप टेन एवं शेष प्रतिभागियों को सांत्वना पुरस्कारों से समानित किया गया।

लक्ष्मण को बचाने संजीवनी बूटी ला रहे हनुमान। लक्ष्मण को बचाने संजीवनी बूटी ला रहे हनुमान।
बालाजी बना एक बहुरूपिया। बालाजी बना एक बहुरूपिया।
बहुरूपियों को देखने उमड़ी हजारों लोगों की भीड़। बहुरूपियों को देखने उमड़ी हजारों लोगों की भीड़।
X
छग का 27 साल पुराना कैशलेस कार्निवालःछग का 27 साल पुराना कैशलेस कार्निवालः
लक्ष्मण को बचाने संजीवनी बूटी ला रहे हनुमान।लक्ष्मण को बचाने संजीवनी बूटी ला रहे हनुमान।
बालाजी बना एक बहुरूपिया।बालाजी बना एक बहुरूपिया।
बहुरूपियों को देखने उमड़ी हजारों लोगों की भीड़।बहुरूपियों को देखने उमड़ी हजारों लोगों की भीड़।
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..