Hindi News »Chhatisgarh »Bilaspur» Driver Murder To Loot Scorpio Vehicle

बुकिंग में ले गए स्कार्पियो, जंगल में ड्राइवर की हत्या कर ले भागे गाड़ी

मृतक ड्राइवर की पत्नी अपने दुधमुंहे बच्चे के साथ उसका इंतजार ही करती रही।

Bhaskar News | Last Modified - Feb 14, 2018, 06:34 AM IST

बुकिंग में ले गए स्कार्पियो,  जंगल में ड्राइवर की हत्या कर ले भागे गाड़ी

कोरबा(छत्तीसगढ़).बालको थाना अंतर्गत लालघाट निवासी वास्तव वैष्णव (26) पिता भारत दास पेशे से चार पहिया वाहन चालक था। वर्तमान में वह हवलदार विरेंद्र मिश्रा की स्कार्पियो क्रमांक सीजी-12-एके-3559 चला रहा था। सोमवार 5 फरवरी की सुबह वह रिस्दा में अपने बहन के यहां था। जहां दो लोग पहुंचे। उन्होंने वास्तव को स्कार्पियो में किसी काम के सिलसिले में श्यांग जाने-आने के लिए बात की। बुकिंग 2 हजार रुपए में तय हुआ। जिसके बाद वास्तव उन दोनों को स्कार्पियो में बिठाकर श्यांग के लिए रवाना हो गया। जिसके बाद से वास्तव का मोबाइल स्विच ऑफ हो गया। रात तक वास्तव वापस नहीं आया। मंगलवार को गुरमा के जंगल में उसकी लाश मिली है।

लूट के लिए हत्या करने का संदेह, जांच जारी
पुलिस के मुताबिक, गुरमा जंगल में लापता वाहन चालक वास्तव का शव मिला जो प्रथम दृष्टया हत्या है। वाहन लूट के लिए हत्या करने का संदेह है। इसके आधार पर हत्या का जुर्म दर्ज कर जांच शुरू कर दी गई है। 10 फरवरी को बालको थाना में उसकी गुमशुदगी की सूचना दी गई। पुलिस अभी उसकी पतासाजी में जुटी थी कि मंगलवार की सुबह श्यांग थाना अंतर्गत गुरमा के जंगल में उसका शव मिला। सूचना पर पुलिस मौके पर पहुंची। जंगल में खोजबीन करने के बाद भी स्कार्पियो नहीं मिली। वारदात के पीछे बाहरी गिरोह का हाथ माना जा रहा है जो बुकिंग में चार पहिया ले जाने के बाद चालक की हत्या कर वाहन लूट ले जाते हैं।

जंगल के रास्ते श्यांग होते धरमजयगढ़ भागे
मामले की जांच में जुटी पुलिस यह मान रही है कि बालको की ओर से जंगल के रास्ते लेमरू होते हुए गुरमा तक पहुंचे। जहां जंगल में चालक वास्तव की हत्या करके शव को फेंक दिया। फिर श्यांग से सीधे धरमजयगढ़ होते आगे की ओर भाग निकले होंगे। ऐसे गिरोह झारखंड, बिहार व यूपी में सक्रिय है। इसलिए वहां के गिरोह के बारे में जानकारी ली जा रही है।

रात तक लौट आऊंगा कहकर निकला था
मृतक वास्तव अपनी पत्नी अंजनी व 15 माह के दूधमुंहे पुत्र के साथ रहता था। पत्नी अंजनी के मुताबिक सोमवार को पति वास्तव ने उसे श्यांग जाने की जानकारी दी थी। वहां मोबाइल नहीं लगने की बात कहते हुए रात तक वापस घर लौट आने को कहा था। रात में खाना बनाकर वह इंतजार करती रही। लेकिन इसके बाद वापस नहीं आने पर आगे बुकिंग में कहीं चले जाने की सोचकर परिवार परेशान था।

एसपी व एएसपी पहुंचे घटनास्थल, जांच तेज
मंगलवार की सुबह जैसे ही गुरमा जंगल में मिले युवक के शव की शिनाख्त लापता चालक वास्तव के रूप में हुई एसपी मयंक श्रीवास्तव व एएसपी कीर्तन राठाैर ने श्यांग में घटनास्थल पहुंचकर निरीक्षण किया। क्राइम ब्रांच की टीम भी जांच में बुलाई गई। हत्या का मामला दर्ज कर जांच शुरू की गई। पुलिस टीम बालको नगर में लगे सीसीटीवी फुटेज व मोबाइल टॉवर से घटना दिनांक को आपरेट मोबाइल की जानकारी जुटा रही है।

एसडीओपी ऑफिस में रीडर है वाहन मालिक
चालक की हत्या करके जिस स्कार्पियो को पार किया गया है वह बालको नगर निवासी हवलदार विरेंद्र मिश्रा के नाम से रजिस्टर्ड है। विरेंद्र मिश्रा कटघोरा एसडीओपी ऑफिस में रीडर है। वास्तव विरेंद्र मिश्रा की स्कार्पियाे को बुकिंग में चलाता था।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Bilaspur News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: buking mein le gae skarpiyo, jngal mein draaivr ki Hatya kar le bhaagae gaaadei
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From Bilaspur

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×