--Advertisement--

मकान से निकल रहा था धुंआ, अंदर से आ रही थी बच्चों के रोने की आवाज

इन्वर्टर की बैटरी फटने से आग लग गई। घटना के समय मकान बाहर से लॉक था और दो बच्चे अंदर बंद थे।

Dainik Bhaskar

Dec 09, 2017, 02:19 AM IST
आग से घर के भीतर मची तबाही। आग से घर के भीतर मची तबाही।

बिलासपुर. बिलासपुर के सरकंडा इलाके में जोरापारा तालाब के पास एक मकान में इन्वर्टर की बैटरी फटने से आग लग गई। घटना के समय मकान बाहर से लॉक था और दो बच्चे अंदर बंद थे। पड़ोसियों ने दरवाजा तोड़कर बच्चों को सुरक्षित बाहर निकाला। बाद में मौके पर पहुंचे दमकल कर्मियों ने आग पर काबू पाया।

मकान से निकल रहा था धुंआ, अंदर से आ रही थी बच्चों के रोने की आवाज

- आग वन विभाग के एसडीओ हेमंत कुमार बंजारे के यहां लगी थी। दोपहर को हुए इस हादसे के वक्त बंजारे पत्नी को छोड़ने कोचिंग सेंटर गए थे, इसलिए घर के बाहर ताला लगा गए थे।

- बच्चे जिस कमरे में खेल रहे थे बैटरी उसी कमरे में फटी और उससे निकली चिंगारी दरवाजे पर लगे पर्दे में आग लग गई। आग तेजी से फैल रही थी। धमाका हुआ तो सभी ने बाहर निकलकर देखा- बंजारे के मकान से धुंआ निकल रहा था। अंदर से बच्चों के रोने की आवाज आ रही थी।

- पड़ोसियों ने ताला तोड़ा और बच्चों को निकाला। इस बीच किसी ने फायर ब्रिगेड को सूचना दे दी थी, बाद में आग पर काबू पा लिया गया।

एक बच्चा बेहोश होने को था
पड़ोसी प्रताप पांडेय ने बताया "बंजारे के घर से धुंआ निकलते देख मैंने उन्हें काॅल किया। उन्होंने बताया कि उनके बच्चे अंदर हैं। मैं तुरंत उनके घर के दरवाजे की ओर भागा और पत्थर से ताला तोड़ने लगा। कुछ और लोग साथ देने आ गए, फिर हमने बच्चों को बाहर निकाला। इस बीच बंजारे भी आ गए। एक बच्चा बेहोशी की कगार पर पहुंच गया था, हमने दोनों बच्चों को अस्पताल भेजा। शुक्र है कि उन्हें कुछ नहीं हुआ।’’

बच्चों के करीब पहुंच चुकी थी आग
पड़ोसी नीरज जायसवाल "मैं छत पर खड़ा था, पता चला बंजारे के घर में आग लगी है। मैं सीधे उनके यहां पहुंचा हमने ताला तोड़ा। अंदर आग फैल चुकी थी और बच्चे आग के करीब ही थे, दोनों रो रहे थे। यदि पांच मिनट भी देर होती तो वह झुलस गए होते।’’

इन्वर्टर की बैटरी फटने से घर में लगी थी आग। इन्वर्टर की बैटरी फटने से घर में लगी थी आग।
पड़ोसी प्रताप पांडेय पहुंचे बच्चों की जान बचाने। पड़ोसी प्रताप पांडेय पहुंचे बच्चों की जान बचाने।
पड़ोसी नीरज जायसवाल ने बताई हादसे की दास्तान। पड़ोसी नीरज जायसवाल ने बताई हादसे की दास्तान।
X
आग से घर के भीतर मची तबाही।आग से घर के भीतर मची तबाही।
इन्वर्टर की बैटरी फटने से घर में लगी थी आग।इन्वर्टर की बैटरी फटने से घर में लगी थी आग।
पड़ोसी प्रताप पांडेय पहुंचे बच्चों की जान बचाने।पड़ोसी प्रताप पांडेय पहुंचे बच्चों की जान बचाने।
पड़ोसी नीरज जायसवाल ने बताई हादसे की दास्तान।पड़ोसी नीरज जायसवाल ने बताई हादसे की दास्तान।
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..