लड़की ने निकाह करने रखी दी शर्त, लड़के ने पूरी की तो पब्लिक टाॅयलेट में रचाई शादी

5 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक

रायपुर(छत्तीसगढ़). राजधानी के रहने वाले एक युवक की शादी हाल में बिलासपुर की लड़की से शादी तय हुई, लेकिन निकाह के ठीक पहले मामला अजीब तरह से फंस गया। दरअसल जैसे ही लड़की को पता चला कि लड़के के घर पक्का टाॅयलेट नहीं है तो उसने निकाह करने से इंकार कर दिया। उसकी मांग थी कि लड़के के घर में पक्का टॉयलेट होना ही चाहिए। 


घर में पक्का टॉयलेट बनवाया, तब सबा शादी के लिए तैयार हुई

राजधानी के गुढ़ियारी इलाके के रहनेवाले सरफराज को जब मार्च 2017 में शबा के उसके साथ निकाह न करने और शर्त के बारे में पता चला तो वह हड़बड़ाकर नगर निगम के दफ्तर पहुंचा और टाॅयलेट बनाने की गुहार लगाई। मई में दी गई अर्जी पर निगम ने जून में स्वच्छ भारत मिशन के तहत घर में पक्का टॉयलेट बनवाया, तब सबा शादी के लिए तैयार हुई। 21 जनवरी 2018 को दाेनों ने सबकी रजामंदी और रिश्तेदारों की मौजूदगी में निकाह किया, लेकिन एक पॉजिटिव देने दोनों ने बुधवार को पब्लिक टॉयलेट में एक दूसरे को वरमाला पहनाई।


स्वच्छता सर्वे की दिल्ली टीम को पता चली बात तो दिया गिफ्ट

राजधानी में इन दिनों स्वच्छता सर्वे के लिए दिल्ली से टीम आई हुई है। हालांकि, टीम चुपचाप तरीके से अपना सर्वे कर रही है, लेकिन क्योंकि सबा और सरफराज का मामला दिलचस्प था। इसलिए उनकी कहानी इस टीम को सर्वे के दौरान ही पता चली। इसके बाद टीम उनके घर गई और न्यूली मैरिड कपल से मिलकर उन्हें मौके पर ही एक मोबाइल फोन गिफ्ट कर दिया।  यही नहीं, सेंट्रल के फंड से दोनों को एक स्मार्टफोन भी गिफ्ट किया और इस पर स्वच्छता एेप भी डाउनलोड करवाया।


लड़के का क्या कहना है?

सरफराज ने सर्वे कर रही टीम को बताया कि वे अब तक सुलभ शौचालय का इस्तेमाल कर रहे थे। शादी के बाद उसकी पत्नी को सुलभ शौचालय जाना पड़ता। यह पता चलने के बाद सबा ने निकाह से इंकार किया, तब हमने घर में तुरंत टाॅयलेट बनवाया। 

 

वीडियो और फोटो : निश्चय खरे 

खबरें और भी हैं...