Hindi News »Chhatisgarh »Bilaspur» Man Burnt Alive In Fire With House

नशे के नशे में ठंड लगी तो आग जलाकर सो गया, घर सहित जिंदा जल गया

आग इतनी भीषण थी कि घर की छत के ऊपर से लपटें उठ रहीं थीं।

Bhaskar News | Last Modified - Jan 01, 2018, 07:29 AM IST

नशे के नशे में ठंड लगी तो आग जलाकर सो गया, घर सहित जिंदा जल गया

बिलासपुर. बीती रात ठंड से बचने के लिए मकान के भीतर अलाव जलाकर युवक सो रहा था। युवक के सोने के दौरान घर में अचानक भीषण आग लग गई। हादसे में युवक की जिंदा जलने से मौत हो गई। ग्रामीणों की मदद से आग पर काबू पाया गया। आग बुझाने के बाद पुलिस ने जला हुआ युवक का शव बरामद किया। पुलिस मामले की जांच कर रही है।

घर की छत के ऊपर से तक लपटें उठ रहीं थीं

सीपत थाना क्षेत्र के ग्राम रांक निवासी सीताराम यादव 58 वर्ष रविवार की शाम घर पर मौजूद था। रात करीब 6.30 बजे उसका बेटा संतोष उर्फ भकोली यादव 28 वर्ष शराब पीकर घर आया।

संतोष को नशे की हालत में देखकर उसकी पिता को गुस्सा आया। दोनों के बीच कहासुनी शुरू हो गई। इसके बाद उसके पिता घर से बाहर चले गए। वह कोई रिश्तेदार के घर में जाकर सो गए।

इसके बाद ठंड से बचने के लिए संतोष कमरे के भीतर अलाव जलाकर दरवाजा बंद करके सो गया। रात करीब 8.30 बजे अचानक संताेष के घर में आग लग गई। आग इतनी भीषण थी कि घर की छत के ऊपर से लपटें उठ रहीं थीं।

तमाम कोशिशों के बावजूद घर जलकर राख

इसी बीच किसी ने देखकर गांववालों को इसकी सूचना दी। तब तक घर में आग पूरी तरह से फैल चुकी थी। आग को काबू कर पाना मुश्किल हो गया था। ग्रामीणों ने अपने-अपने घरों से बर्तन सामग्री लाकर आग बुझाना शुरू कर दिया। भीषण आग को देखते हुए पड़ाेस का बोर चालू कराया गया। बोर के पानी से आग बुझाई गई। तब तक घर जलकर राख चुका था। इसके बाद पुलिस मौके पर पहुंची। घर के अंदर घुसने पर पता चला कि सोते हुए ही कोई व्यक्ति जल गया है।

पत्नी मायके में

पुलिस ने बताया कि मृतक संतोष उर्फ भकोली की शराबी होने के कारण उसकी पत्नी उसके साथ में नहीं रहती है। एक बच्चा है, जिसे उसकी पत्नी अपने साथ रखती है। कुछ दिन पहले दोनों के बीच विवाद हो गया था, तभी से उसकी पत्नी अपनी बच्चे के साथ मायके में रह रही है।

15 दिन पहले बिहार से लौटा

मृतक संतोष यादव के अकेला होने के कारण कमाने के उद्देश्य से वह मजदूरी करने बिहार चला गया। उसमें धीरे-धीरे शराब पीने की आदत पड़ गई। इसके बाद वह रोजाना नशे की हालत में रात को घर पहुंचता था। इससे घर वाले परेशान रहते थे।

ग्रामीणों को पता नहीं था

अाग लगने की घटना के बाद आसपास के लोग बड़ी संख्या में एकत्रित हो गए। सभी अपने-अपने तरीके से आग को बुझाने में लगे रहे। युवक शराबी था। इससे वह दिन हो या रात घर के बाहर घूमता रहता था। यही मृतक की पिता सीताराम भी सोच रहे थे। ग्रामीणों का ध्यान आग बुझाने में लग गया, इससे युवक जिंदा जल गया।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Bilaspur News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: nashe ke nashe mein thnd lagi to aag jlaakar so gaya, ghr shit jindaa jl gaya
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From Bilaspur

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×