--Advertisement--

11 विधायकों के नाम मटकों पर लिखकर दी तिलांजलि, आदिवासियों का विरोध प्रदर्शन

भू-राजस्व संहिता संशोधन बिल का विरोध में उतरा आदिवासी समाज।

Dainik Bhaskar

Jan 07, 2018, 09:07 AM IST
समाज के पदाधिकारियों ने एक स्व समाज के पदाधिकारियों ने एक स्व
कोरबा(छत्तीसगढ़). भू-राजस्व संशोधन विधेयक के विरोध में शनिवार को छत्तीसगढ़ सर्व आदिवासी समाज ने राज्यभर में प्रदर्शन किया। कोरबा में समाज के लोगों ने मटकों पर बिल के समर्थक भाजपा के 4 आदिवासी मंत्रियों सहित 11 विधायकों का नाम लिखकर विरोध दर्ज किया। समाज के पदाधिकारियों ने एक स्वर में इसे आदिवासियों के लिए काला कानून बताया। उन्होंने कहा कि जब तक भू-राजस्व कानून को निरस्त नहीं किया जाता तब तक आदिवासी समाज के भाजपा मंत्रियों व विधायकों का विरोध किया जाएगा। अस्तर एवं सरगुजा संभाग में भी समाज के लोगों ने सड़क जामकर और रैली निकालकर बिल का विरोध किया। पूर्व गृहमंत्री ननकीराम कंवर ने भी नए कानून पर सवाल उठाते हुए कहा कि अगर पार्टी के वरिष्ठ नेता भू-राजस्व संशोधन विधेयक पर सवाल उठा रहे हैं तो इस पर पुनर्विचार किया जाना चाहिए।
X
समाज के पदाधिकारियों ने एक स्वसमाज के पदाधिकारियों ने एक स्व
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..