• Hindi News
  • Chhattisgarh
  • Bilaspur
  • होलिका दहन: हुरियारों की टोलियां गलियों में निकलीं राजस्थानी गीत संगीत के बीच उड़ाना शुरू किया गुलाल
--Advertisement--

होलिका दहन: हुरियारों की टोलियां गलियों में निकलीं राजस्थानी गीत-संगीत के बीच उड़ाना शुरू किया गुलाल

Bilaspur News - भास्कर संवाददातादा| मनेंद्रगढ़ होलिका दहन बुराई पर अच्छाई की विजय और रंगों का त्योहार होली अपनों से मिल कर आपस...

Dainik Bhaskar

Mar 02, 2018, 02:05 AM IST
होलिका दहन: हुरियारों की टोलियां गलियों में निकलीं राजस्थानी गीत-संगीत के बीच उड़ाना शुरू किया गुलाल
भास्कर संवाददातादा| मनेंद्रगढ़

होलिका दहन बुराई पर अच्छाई की विजय और रंगों का त्योहार होली अपनों से मिल कर आपस में खुशियां बांटने का संदेश देती है। गुरुवार को होलिका दहन किया गया। शुक्रवार को होली का पर्व है। इस पर्व को लेकर लोगों में खासा उत्साह है। लोग हर बार ही तरह इस बार भी होली का पर्व मनाने की तैयारियां में जुटे हैं।

समूचे जिले में रंगों का महापर्व होली परंपरागत उत्साह से मनाने पूरी तैयारियां कर ली गई हैं। शुक्रवार को धुरेड़ी की सुबह से इंद्रधनुषीय रंगों की बौछार शुरू होगी जो रंगपंचमी तक शहर को भिगोती रहेगी। गुरुवार को बाजार में रंग और पिचकारी की दुकानों में भीड़ रही । श्री राम मंदिर प्रांगण में मारवाड़ी युवा मंच, हरियाणा नागरिक संघ व राजस्थान नवयुवक मंडल की तरफ से आयोजित सार्वजनिक होलिका दहन किया गया। श्रद्धालुओं ने होलिका की परिक्रमा लगाने के बाद बाधाओं को दूर करने की कामना की गई। होलिका दहन के बाद ही हुरियारों की टोलियां सक्रिय हो गईं। राजस्थानी गीत संगीत ने रंग पर्व का उत्साह दोगुना कर दिया।

बाजार रहा गुलजार: होली बाजार गुरुवार को पूरी तरह गुलजार नजर आया। होली पर्व के मद्देनजर रंग-गुलाल और पिचकारियों की खरीदारी करने बाजार में भीड़ नजर आयी। खासकर बच्चों में काफी उत्साह देखा गया। बच्चों ने तमाम प्रकार की पिचकारियों के साथ ही चाइनीज बैलून और मुखौटों की जमकर खरीदारी की। इस वर्ष हर्बल रंगों की भी मांग रही है। मिठाइयों की दुकानों में भी देर शाम तक ग्राहकों की भीड़ लगी रही। खोए से बनी मिठाइयों के साथ ही गुझिया और बर्फी की खरीदारी विशेष रूप से की गई। प्रेम और सौहार्द के साथ होली जनहित के लिए समर्पित संस्था आम नागरिक मंच ने समस्त नगरवासियों को होली पर्व की शुभकामनाएं दी है। पर्व को बुद्धजीवियों ने शांति की अपील की है।

होली खुशियों का त्योहार, शराब पीकर वाहन न चलाएं , हो सकते हैं दुर्घटना का शिकार

बैकुंठपुर। केबी.पटेल आॅफ नर्सिंग काॅलेज की छात्राओं ने होली के एक दिन पहले ही होली मनाई और लोगो को होली के दौरान सूखे अबीर गुलाल से होली मनाने का संदेश दिया। साथ ही शराब पीकर वाहन नही चलाने आग्रह करते हुए छात्रों कहा कि होली खुशियों का पर्व है। इसे हंसी-खुंशी के साथ ही मनाने चाहिए और दुर्घटना ने बचना चाहिए।

होलिका दहन के बाद पूजा अर्चना व रंग गुलाल उड़ाकर मनाई जाएगी होली

भास्कर संवाददाता | बरबसपुर

क्षेत्र में गुरुवार को होलिका दहन व शुक्रवार को भाईचारे का पर्व होली धूमधाम से मनाया जाएगा। होली के लिए दुकानें सजी हैं। गौरतलब है कि फाल्गुन के पूर्णमासी को मनाया जाएगा । इसमें गुरुवार को क्षेत्र के ग्राम पंचायत बरबसपुर ,उजियारपुर, लोहारी, जगतपुर समेत महराजपुर में शुभ मुहर्त पर रात को होलिका दहन विधिवत पूजा अर्चना गांव के बैगा करेंगे। सुबह गांव के देवस्थलों पर फाग की टोलियों के साथ ही पूजा अर्चना कर धुरेडी के साथ ही होली का पर्व मनाया जाएगा।

ढोलक, करताल व टिमकी बजाकर गाए फाग गीत

फाग गीतों में ढोलक,करताल,मंजीरा,टिमकी आदि का उपयोग किया जाता है। इसमें पहले की यहां की फाग टीमों में जानकी कोटवार व जलटूसाव ढोलक में माहिर थे वहीं अब की टीम में ज्ञान सिंह व मोहन टान्डेय हैं। इसके अलावा यदि हम गायकों की बात करे तों फाग गीत में सबसे सही राग सत्यनारायण साहू,महिपाल सिंह,व कन्हैया लाल का नाम आगे है। साथ में परसराम दुबे,कन्हैयालाल,रवि अग्रवाल आदि होते है। युवा भी इनको बजाने का अभ्यास कर रहे हैं।

विद्यालय मंे होलिका दहन कर बच्चों को महत्व बताया

मनेंद्रगढ़। नगर के प्रतिष्ठित विद्यालय बचपन प्ले स्कूल में रंगों का त्याेहार होली का मनाया गया। इस अवसर पर बच्चे उत्साही व खुश दिखे। विद्यालय परिसर में होलिका दहन कर बच्चों को इसका महत्व समझाया। विद्यालय की काउंसलर सोनाली दास ने कहा कि होली बुराई पर अच्छाई की जीत का त्यौहार है। इस दिन अत्याचारी राजा हिरण्य कश्यप ने अपने पुत्र प्रहलाद जो कि श्री हरि विष्णु के परम भक्त थे, उन्हें अपनी बहन होलिका जिसे वरदान मिला था कि उसे अग्नि कभी नहीं जला पाएगी। उसके साथ प्रहलाद को अग्नि के हवाले कर दिया, किंतु दुराचारी का साथ देने के कारण होलिका भस्म हो गई और विष्णु भक्त प्रहलाद बच गए। उसी समय से हम समाज की बुराईयों को जलाने के लिए होलिका दहन मनाते आ रहे हैं। शिक्षिका अनीता मिश्रा बच्चों को होली के महत्व को समझाने के साथ-साथ उन्हें यह भी बतलाया कि उन्हें होली अपने अभिभावकों की देखरेख में खेलना चाहिए और हानिकारक केमिकलों से दूर रहना चाहिए, ताकि उनकी त्वचा व स्वास्थ्य पर कोई बुरा असर न पड़े। इस अवसर पर ज्योति ताम्रकार, आशी कक्कड़ ने सभी को प्यार, खुशी, साैहार्द और भरोसे के रंगों में डूबी होली की शुभकामनाएं दी।

श्रम मंत्री ने होली हुड़दंग पत्रिका का विमोचन किया

बैकुंठपुर|
होली प्रेम और सदभावाना का संदेश देती है। मुझे खुशी है कि हमारे प्रदेश में यह पर्व पूरे उत्साह और धूमधाम के साथ मनाया जाता है। मैं अपनी ओर से सभी को इस पर्व की शुभकामनायें देता हूं। स्थानीय विश्रामगृह में होली हुड़दंग पत्रिका के विमोचन अवसर पर प्रदेश के श्रम एवं खेल मंत्री भैयालाल राजवाड़े ने कही। उन्होंने होली हुड़दंग पत्रिका का विमोचन किया । इस अवसर पर सभी राजनीतिक दलों के साथ ही क्षेत्र के जनप्रतिनिधि उपस्थित रहे। इस अवसर पर अनूप बड़ेरिया, कमलेश शर्म, जगजीत सिंह गिरेवाल, तीरथ गुप्ता, नजीर अजहर, योगेश शुक्ला, वेदांती तिवारी, शैैलेष शिवहरे, कुबेर साहू, अनुराग दुबे उपस्थित रहे।

X
होलिका दहन: हुरियारों की टोलियां गलियों में निकलीं राजस्थानी गीत-संगीत के बीच उड़ाना शुरू किया गुलाल
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..