• Home
  • Chhattisgarh
  • Bilaspur
  • बड़े कार्य करने के लिए छोटे लक्ष्यों को हासिल करना पड़ेगा: प्रो. मनीषा
--Advertisement--

बड़े कार्य करने के लिए छोटे लक्ष्यों को हासिल करना पड़ेगा: प्रो. मनीषा

एजुकेशन रिपोर्टर | बिलासपुर कम उम्र में ही ऊंची सोच के साथ बड़े-बड़े कार्य किए जा सकते हैं, लेकिन उसे पाने के लिए...

Danik Bhaskar | Mar 01, 2018, 02:25 AM IST
एजुकेशन रिपोर्टर | बिलासपुर

कम उम्र में ही ऊंची सोच के साथ बड़े-बड़े कार्य किए जा सकते हैं, लेकिन उसे पाने के लिए छोटे-छाेटे लक्ष्य को साथ लेकर चलना होगा। इसके लिए लक्ष्य पर केंद्रित होकर लगातार प्रयास करने की जरूरत है। छात्र-छात्राओं से स्वामी विवेकानंद के सिद्घांतों और आदर्शों पर चलने को कहा। उक्त बातें सीयू के अर्थशास्त्र की विभागाध्यक्ष प्रोफेसर मनीषा दुबे ने शिविर में छात्रों से कही।

उन्नत भारत अभियान योजना के अंतर्गत सेंट्रल यूनिवर्सिटी के गोद ग्राम तेंदूभाठा में 7 दिवसीय राष्ट्रीय सेवा योजना शिविर लगाया गया है। शिविर में 70 स्वयं सेवकों के व्यक्ति निर्माण के लिए मार्गदर्शन और प्रोत्साहित किया जा रहा है। बुधवार को उन्नत भारत अभियान के नोडल अधिकारी डाॅ. केके चंद्रा ने शिविर में भाग लेकर छात्र-छात्राओं और ग्रामीणों को संबोधित किया। नोडल अधिकारी डाॅ. चंद्रा ने छात्र-छात्राओं से आह्वान किया कि वे ग्रामीणों के रहन-सहन, दिनचर्या आदि को ज्यादा से ज्यादा समझने का प्रयास करें, ताकि उनकी समस्याओं के समाधान के लिए प्रयास किया जा सके। उन्होंने तेंदूभाठा में योजना अंतर्गत किए गए प्रयासों में से ग्रामीण स्वच्छ भारत मिशन के अंतर्गत टायलेट के निर्माण और उज्जवला योजना से अवगत कराया। डॉ. चंद्रा ने स्वयं सेवकों से कहा कि वे घर-घर जाकर ग्रामीण महिलाओं और बच्चों को टायलेट उपयोग के लिए समझाने के लिए प्रेरित करें। साथ ही गैस कनेक्शन के लाभार्थियों को रसोई गैस उपयोग में सावधानी की जानकारी प्रदान करें।

तेंदूभाठा गांव में प्रोफेसरों ने स्वयं सेवकों को संबोधित किया।