• Home
  • Chhattisgarh
  • Bilaspur
  • सीवेज: खुदाई के दौरान रोड धंसी, मजदूर पर इलेक्ट्रिक कटर गिरा, करंट से झुलसा
--Advertisement--

सीवेज: खुदाई के दौरान रोड धंसी, मजदूर पर इलेक्ट्रिक कटर गिरा, करंट से झुलसा

अंडर ग्राउंड सीवेज प्रोजेक्ट के लिए देवकीनंदन चौक के पास चल रही खुदाई के दौरान किस कदर सुरक्षा इंतजामों की अनदेखी...

Danik Bhaskar | Mar 01, 2018, 02:30 AM IST
अंडर ग्राउंड सीवेज प्रोजेक्ट के लिए देवकीनंदन चौक के पास चल रही खुदाई के दौरान किस कदर सुरक्षा इंतजामों की अनदेखी की जा रही है, इसका एक मामला सामने आया है। शाम 4 बजे के करीब सीवेज की पाइप लाइन बिछाने के लिए चल रही खुदाई के दौरान अचानक रोड धंस गई। इससे इलेक्ट्रिक कटर मशीन मजदूर के ऊपर गिर गया। मोटर में करंट प्रवाहित हो रहा था। करंट की चपेट में आने से मजदूर गंभीर रूप से झुलस गया। इसके बाद आनन- फानन में अन्य मजदूरों ने बेहोशी की हालत में उसे सिम्स में भर्ती कराया। केजुअल्टी वार्ड में घायल युवक का इलाज चल रहा है। युवक की हालत स्थिर बताई जा रही है।

सड़क खुदाई के दौरान निगम के अफसर, इंजीनियर और सिंप्लेक्स के अधिकारियों की गैर मौजूदगी से पता चलता है कि सुरक्षा में लगातार लापरवाही बरती जा रही है। वेस्ट बंगाल निवासी आबुराईहान पिता रोकीबोर रहमान 21 वर्ष पिछले एक महीने से सीवेज की खुदाई में काम कर रहा है। बुधवार को आबुराईहान के अलावा अन्य मजदूर वहां काम कर रहे थे। शाम करीब 4 बजे सभी मजदूर काम पर व्यस्त थे। काम में इलेक्ट्रिक मोटर का उपयोग किया जा रहा था। इसी दौरान अचानक सड़क धंस गई। इस हादसे में मोटर मजदूर के ऊपर गिर गया जिससे वह करंट की चपेट में आ गया। इसके बाद वहां मौजूद मजदूरों ने उसे गहरे गड्‌ढे से बाहर निकालकर वाहन से इलाज के लिए सिम्स पहुंचाया।

खुदाई के दौरान उचित बेस के अभाव में सड़क का यह हिस्सा अचानक धंस गया।

घायल मजदूर को सिम्स में भर्ती कराया गया।

खुदाई के दौरान सुरक्षा इंतजामों की परवाह नहीं

शहर में 28 जगहों पर खुदाई का काम चल रहा है। मुख्य मार्ग पर 8 स्थानों पर ट्रैंचलेस तथा 7 जगहों पर वुडन सोलिंग तथा कोतवाली रोड सहित शेष स्थानों पर खुली खुदाई चल रही है। खुदाई के दौरान समुचित बेरिकेडिंग नहीं की गई है। सीवेज सेल ने सिंप्लेक्स को मनमानी की छूट दे रखी है। इसी प्रकार वार्डों में निर्माण कार्यों के दौरान कई मेनहोल व प्रापर्टी चैंबर के कवर खिसक गए हैं। रात में इसमें गिरने का खतरा रहता है। देवकीनंदन स्कूल के पास खुदाई के दौरान गैस सिलेंडर का खुलेआम इस्तेमाल हो रहा है। वहीं 10 फुट की दूरी पर पेट्रोल पंप है। चूंकि सीवेज सेल के अफसरों सुरक्षा बंदोबस्त की जांच करने की फुर्सत नहीं है। हाल ही में सिंप्लेक्स ने फूटे हुए पाइप का इस्तेमाल किया। हद तो तब हो गई जब रिजेक्ट पाइप को भी ठेकेदार बिछाने से बाज नहीं आए। इन्हें नहीं निकाला नहीं गया।

ईई ने मामूली घटना बताया

रोड धंसने तथा उसमें एक व्यक्ति के करंट लगने से झुलसने के मामले में सीवेज सेल के प्रभारी मनोरंजन सरकार का रवैया संवेदनहीन रहा। मौके का जायजा लेने या प्रभावित की जानकारी लेने की बजाय उन्होंने इसे सामान्य घटना बताया।