• Home
  • Chhattisgarh
  • Bilaspur
  • बीयू ने 500 की बजाय 400 पूर्णांक बताकर जारी कर दिया रिजल्ट, प्रैक्टिकल के नंबर ही नहीं जोड़े
--Advertisement--

बीयू ने 500 की बजाय 400 पूर्णांक बताकर जारी कर दिया रिजल्ट, प्रैक्टिकल के नंबर ही नहीं जोड़े

एजुकेशन रिपोर्टर | बिलासपुर परीक्षा के प्रवेश पत्र में छात्रों के जेंडर बदलकर उन्हें मुसीबत में डालने वाले...

Danik Bhaskar | Mar 01, 2018, 02:35 AM IST
एजुकेशन रिपोर्टर | बिलासपुर

परीक्षा के प्रवेश पत्र में छात्रों के जेंडर बदलकर उन्हें मुसीबत में डालने वाले बिलासपुर यूनिवर्सिटी ने अब एक नया ही कारनामा कर दिया है। हाल ही में परीक्षा के नतीजे में बीयू ने पूर्णांक 500 की बजाय 400 बताकर उसे जारी भी कर दिया है। छात्रों की शिकायत पर अपनी गलती स्वीकार करते हुए बीयू ने सुधार कर फिर से नतीजे वेबसाइट पर अपलोड करने का आश्वासन दिया है।

बीयू के टीचिंग डिपार्टमेंट में 5 विभाग संचालित हो रहे हैं। इन लगभग में लगभग 615 छात्र अध्ययनरत हैं। इन छात्रों की सेमेस्टर परीक्षा यूनिवर्सिटी ने दो महीने पहले ली थी। इसके बाद से छात्र रिजल्ट का इंतजार कर रहे थे। यूनिवर्सिटी 615 छात्रों का रिजल्ट जारी नहीं कर पा रही थी। इसको लेकर छात्रों ने कई बार शिकायत किया। दो महीने बाद यूनिवर्सिटी ने छात्रों का रिजल्ट जारी किया। छात्रों में रिजल्ट को लेकर उत्साह था, लेकिन जब छात्रों ने अपना-अपना रिजल्ट चेक किया तो सभी मायूस हो गए, क्योंकि एक-दो छात्रों के रिजल्ट में गड़बड़ी नहीं थी, बल्कि सभी छात्रों के रिजल्ट गलत थे। एमएससी कंप्यूटर साइंस थर्ड सेमेस्टर के रिजल्ट में प्रायोगिक परीक्षा के अंक ही नहीं जुड़े हैं। यूनिवर्सिटी ने 500 की बजाय 400 के पूर्णांक में रिजल्ट जारी कर दिया है। छात्रों ने इसकी शिकायत की तो परीक्षा विभाग के अधिकारियों ने कहा कि ऐसा हो जाता है, उसे सही कर लिया जाएगा।

अब यूनिवर्सिटी कह रही- सुधारकर दोबारा अपलोड किया जाएगा रिजल्ट

इंटरनल का नंबर मार्कशीट में गलत

यूटीडी के छात्राें के इंटरनल का नंबर उनके रिजल्ट में जुड़ता है। विभाग ने इसके लिए छात्रों की इंटरनल परीक्षा ली थी। उसका नंबर भी छात्रों को दिया था। सभी छात्रों के नंबर विभाग के प्रोफेसरों ने परीक्षा विभाग को दिए थे। रिजल्ट घोषित हुआ है। इसमें छात्रों के इंटरनल का नंबर दूसरे छात्र की मार्कशीट पर अंकित हो गया है। इस कारण छात्रों का रिजल्ट परिवर्तित हो गया है।

नहीं दिया जवाब: यूटीडी की परीक्षा जिम्मेदारी सहायक कुलसचिव सीएचएल टंडन के पास है। जब रिजल्ट में गड़बड़ी को लेकर सहायक कुलसचिव टंडन से बात की तो उन्होंने जवाब नहीं दिया।