--Advertisement--

संबंधों में लंबे समय तक मन-मुटाव न रखें: शांतनु

हमारे जीवन में आने वाली समस्याओं का कारण हमारे मन के कमजोर, नकारात्मक और व्यर्थ संकल्प हैं। हमारा फोकस उन कार्यों...

Dainik Bhaskar

Feb 01, 2018, 03:15 AM IST
हमारे जीवन में आने वाली समस्याओं का कारण हमारे मन के कमजोर, नकारात्मक और व्यर्थ संकल्प हैं। हमारा फोकस उन कार्यों पर हो जो हम चाहते हैं जबकि हम ठीक इसके विपरीत यही सोचते हैं कि यह न हो और यही हमारे जीवन के विघ्नों का कारण है। हर कर्म से पूर्व मात्र दो मिनट भगवान की याद हो और विचारों में दृढ़ता हो कि मुझे यह करना ही है तो हर कर्म सार्थक होगा। हम सभी गीता की वही बातें सुनते हैं लेकिन आगे वही बढ़ता है जो सही पात्र बनकर ज्ञान को धारण कर जीवन में अमल करता है। यह बातें ब्रह्माकुमारीज टिकरापारा सेवाकेंद्र में माउंट आबू से आए ब्रह्माकुमार शांतनु ने साधकों को संबोधित करते हुए कही। उन्होंने आगे कहा कि हम आपस में मिलते हैं तब एक-दूसरे से ओमशांति कहकर अभिवादन करते हैं यह हमें याद दिलाता है कि मैं शांति के सागर परमात्मा की संतान एक आत्मा हूं, मेरा स्वरूप शांत है, मेरे इस अनमोल जीवन का उद्देश्य ही है विश्व में आपसी भाईचारा फैलाकर शांति स्थापित करना। वस्तु-वैभव, धन-संपत्ति आदि संभालना है क्योंकि उससे परिवार को पालना है, सामाजिक सेवाओं में लगाना है। संबंधों में कभी-भी लंबे समय तब मन-मुटाव न रखें। आपने हर कर्म में भगवान को साथी बनाकर रखने और उनकी श्रीमत की लकीर के अंदर रहने और दत्तात्रेय ऋषि की तरह गुणग्राही बनने की सलाह दी।

ब्रह्माकुमारीज टिकरापारा सेवाकेंद्र में क्लास के दौरान उपस्थित साधक।

राजयोग शिविर का आयोजन आज से

सेवाकेन्द्र प्रभारी ब्रकु मंजू दीदी ने बताया कि 1 फरवरी से शाम 6 से 7:30 बजे निशुल्क सात दिवसीय राजयोग शिविर का आयोजन किया जा रहा है। इसमें सभी वर्ग, आयु के व्यक्ति शामिल हो सकते हैं। उन्होंने बताया कि यह शिविर रिश्तों में मधुरता लाने, छात्रों की एकाग्रता बढ़ाने, युवाओं की मानसिक सबलता के लिए और सभी की बौद्धिक, भावनात्मक, नैतिक एवं आध्यात्मिक क्षमताओं के विकास के लिए उपयोगी है।

X
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..