• Hindi News
  • Chhattisgarh
  • Bilaspur
  • राइट टू रिकॉल से तय होगा कि रतनपुर नपा अध्यक्ष पद पर रहेंगी या नहीं
--Advertisement--

राइट टू रिकॉल से तय होगा कि रतनपुर नपा अध्यक्ष पद पर रहेंगी या नहीं

जिले के रतनपुर नगरपालिका अध्यक्ष आशा सूर्यवंशी को वापस बुलाने के लिए चुनाव होगा। राज्य निर्वाचन आयोग ने इसकी...

Dainik Bhaskar

Feb 01, 2018, 03:30 AM IST
जिले के रतनपुर नगरपालिका अध्यक्ष आशा सूर्यवंशी को वापस बुलाने के लिए चुनाव होगा। राज्य निर्वाचन आयोग ने इसकी घोषणा कर दी है। इसके लिए सात फरवरी से वोटर लिस्ट बनाने का काम शुरू होगा। वोटरलिस्ट बनाने का आधार 1 जनवरी 2018 होगा। रतनपुर में उप चुनाव करवाने के लिए राज्य शासन ने आयोग से कहा है। यह चुनाव राइट टू रिकॉल के तहत होगा। यानी अध्यक्ष कुर्सी पर बने रहे या न रहे, यह मतदान से तय होगा। यह प्रकिया दो चरणों में पूरी होगी। पहले चरण में वोटर लिस्ट बनने के बाद अध्यक्ष कुर्सी पर बनी रहें या नहीं, इसके लिए चुनाव होगा। चुनाव चिन्ह भरी कुर्सी और खाली कुर्सी होगा।

शेष|पेज 7

यदि भरी कुर्सी पर ज्यादा वोट पड़े तो माना जाएगा कि अध्यक्ष पद पर बनी रहें, यह जनता चाहती है।



यदि खाली कुर्सी पर ज्यादा मत पड़े तो अध्यक्ष को कुर्सी छोड़ने होगी। तब आयोग दूसरे चरण में अध्यक्ष का चुनाव कराने चुनाव कराएगा। राज्य निर्वाचन आयुक्त ठाकुर राम सिंह ने भास्कर से कहा कि आयोग को शासन से राइट टू रिकॉल को तहत चुनाव कराने का पत्र मिला है। फिलहाल हमने पहले चरण की प्रक्रिया पूरी करने कार्यक्रम जारी किया है।

यह है मामला - रतनपुर नगरपालिका परिषद में आशा सूर्यवंशी अध्यक्ष हैं। वे कांग्रेस पार्टी की हैं। परिषद में सात कांग्रेस और सात भाजपा तथा एक निर्दलीय पार्षद हैं। सूर्यवंशी के खिलाफ कांग्रेस-भाजपा के असंतुष्ट पार्षदों ने आरोप लगाते हुए उन्हें पद से हटाने की कलेक्टर से मांग की थी। कलेक्टर ने इसे राज्य शासन को समुचित कार्रवाई के लिए भेजा था। अब राज्य शासन ने आयोग को राइट टू रिकॉल के लिए पत्र भेजा है।

चुनाव कार्यक्रम -
X

Recommended

Click to listen..