• Hindi News
  • Chhattisgarh
  • Bilaspur
  • विद्यार्थियों के साथ लोगों को भी विज्ञान के प्रति जागरूक करने की है जरूरत
--Advertisement--

विद्यार्थियों के साथ लोगों को भी विज्ञान के प्रति जागरूक करने की है जरूरत

Bilaspur News - राष्ट्रीय विज्ञान दिवस के अवसर पर शासकीय श्यामा प्रसाद मुखर्जी महाविद्यालय के रसायन शास्त्र विभाग द्वारा विविध...

Dainik Bhaskar

Mar 02, 2018, 03:20 AM IST
विद्यार्थियों के साथ लोगों को भी विज्ञान के प्रति जागरूक करने की है जरूरत
राष्ट्रीय विज्ञान दिवस के अवसर पर शासकीय श्यामा प्रसाद मुखर्जी महाविद्यालय के रसायन शास्त्र विभाग द्वारा विविध कार्यक्रम आयोजित किए गए। प्राचार्य प्रो. शशिमा कुजूर ने सीवी रमन की प्रतिमा पर माल्यार्पण कर कार्यक्रम का शुभारंभ किया।

इस अवसर पर रसायन विभागाध्यक्ष डा. रोहित कुमार बरगाह ने कहा कि राष्ट्रीय विज्ञान दिवस का मूल उद्देश्य विद्यार्थियों को विज्ञान के प्रति आकर्षित करना एवं आमजन को विज्ञान एवं वैज्ञानिक उपलब्धियों के प्रति सजग बनाना है। उन्होंने कहा कि वैज्ञानिकों की आत्मकथा, शोध, रंगोली एवं संगोष्ठी के माध्यम से छात्रों में विज्ञान के प्रति रूचि बढ़ेगी। प्राचार्य शशिमा कुजूर ने कहा कि विज्ञान वरदान के साथ-साथ अभिशाप भी है। प्रो. बीआर चौहान ने रमन प्रभाव व उसके खोज को मानव जीवन के लिए उपयोगी बताया। विज्ञान दिवस पर छात्रों ने पोस्टट व्याख्यान माला रंगोली एवं वैज्ञानिको के बारे मं बताया गया कार्यक्रम में बीआर चौहान रविन्द्र भगत सुरेश साहू आदेंश गुप्ता ए विशाल उपस्थित थे।

शशिमा कुजूर ने कहा- विज्ञान वरदान के साथ अभिशाप भी है

कृत्रिम रंग हानिकारक, प्राकृतिक रंगोें का उपयोग करें: डा. बरगाह ने छात्रों सेकहा कि कृत्रिम रासायनिक रंगो से मानव शरीर पर हानिकारक प्रभाव पड़ता है। होली का त्यौहार रंगों का त्यौहार है। प्राचीन समय में फूलों एवं प्राकृतिक पदार्थो से तैयार किए जाने वाले रंगों का ही उपयोग करना चाहिए। आज कृत्रिम केमिकल्स से रंग बनाए जाते हैं। इसमेंें काफी हानिकारक रसायन होते हैं जो शरीर के कई प्रकार के रोगों का कारण बनते हैं।

X
विद्यार्थियों के साथ लोगों को भी विज्ञान के प्रति जागरूक करने की है जरूरत
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..