--Advertisement--

सीयू में छात्रा की खुदकुशी, निलंबित प्रोफेसर पर जल्द निर्णय ले कार्य परिषद

सेंट्रल यूनिवर्सिटी में छात्रा की खुदकुशी के मामले में सस्पेंड किए गए एसोसिएट प्रोफेसर ने हाईकोर्ट में याचिका लगाई थी।

Dainik Bhaskar

Nov 22, 2017, 07:34 AM IST
Student suicides in CU

बिलासपुर. सेंट्रल यूनिवर्सिटी में छात्रा की खुदकुशी के मामले में सस्पेंड किए गए एसोसिएट प्रोफेसर ने हाईकोर्ट में याचिका लगाई थी। हाईकोर्ट ने कार्यपरिषद को उनके मामले में जल्द निर्णय लेने के निर्देश दिए हैं। विवि में बीएड विशेष शिक्षा की छात्रा पूनम चंद्रा ने 5 अक्टूबर 2017 की रात खुदकुशी कर ली थी। सीयू प्रबंधन ने मामले की जांच के आदेश दिए थे। 8 अक्टूबर 2017 को जांच की प्रारंभिक रिपोर्ट प्रस्तुत की गई।

इसके आधार पर शिक्षा विभाग में एसोसिएट प्रोफेसर डॉ. सुजीत कुमार मिश्रा को 14 अक्टूबर 2017 को विभागीय कार्यों में लापरवाही के आरोप में सस्पेंड कर दिया गया। इसके खिलाफ उन्होंने हाईकोर्ट में अधिवक्ता मतीन सिद्दिकी और ईशान वर्मा के जरिए याचिका लगाई थी। याचिका में बताया गया कि जांच प्रतिवेदन में सिर्फ दो जगह उनका उल्लेख किया गया है, इसमें पहला उन्हें वरिष्ठ शिक्षक डॉ. मुकेश कुमार चंद्राकर द्वारा छात्रा की शिकायत से संबंधित जानकारी दी गई थी।


इस जानकारी के बाद उन्होंने पत्र पर टीप दर्ज किया था कि 6 अक्टूबर 2017 की सुबह 11 बजे कक्ष क्रमांक 35 में बैठक रखी जाए। साथ ही 12 अक्टूबर 2017 को एक और जांच रिपोर्ट प्रस्तुत की गई है, जिसमें उनके खिलाफ कोई टिप्पणी नहीं की गई है। याचिका में निलंबन को गलत बताते हुए निरस्त करने की मांग की गई है। हाईकोर्ट ने आदेश में कहा है कि केंद्रीय विश्वविद्यालय अधिनियम 2009 में कार्य परिषद में अपील करने का प्रावधान है। सीयू के वकील की तरफ से बताया गया है कि दिसंबर के पहले या दूसरे सप्ताह में कार्य परिषद की बैठक होने वाली है। हाईकोर्ट ने याचिकाकर्ता को एक सप्ताह के भीतर अपील प्रस्तुत करने और कार्य परिषद को इस पर जल्द निर्णय लेने के निर्देश दिए हैं।

X
Student suicides in CU
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..