Hindi News »Chhatisgarh »Bilaspur» Labour Minister Done Worship For Stopping Elephants In Baikunthpur

छत्तीसगढ़: वन महकमा नाकाम हुआ तो श्रममंत्री राजवाड़े ने गांवों में घुस रहे हाथियों को रोकने के लिए किया हवन

कोरिया के ग्राम माति झारिया में हाथी प्रभावितों को बांटा मुआवजा

dainikbhaskar.com | Last Modified - Jul 19, 2018, 02:43 PM IST

  • छत्तीसगढ़: वन महकमा नाकाम हुआ तो श्रममंत्री राजवाड़े ने गांवों में घुस रहे हाथियों को रोकने के लिए किया हवन
    +2और स्लाइड देखें
    हाथियों को रोकने के लिए पूजा की तैयारी कराते पंडित जी

    बैकुंठपुर।कोरिया में बैकुंठपुर के माति झारिया गांव में कई मकानों को हाथियों ने तोड़ दिया। फसलों को भी काफी नुकसान पहुंचाया। ऐसे में श्रममंत्री भैयालाल राजवाड़े बुधवार देर शाम मौके पर पहुंचकर हाथियों को रोकने के लिए पूजा की। श्रममंत्री राजवाड़े मति झारिया गांव में हाथी प्रभावितों को मुआवजा बांटने पहुंचे थे।

    - दरअसल, करीब 12 दिनों से क्षेत्र में हाथियों ने उत्पात मचा रखा है। वो इलाका हाथियों का कॉरिडोर है। पहले हाथी सिर्फ एक या दो दिन रुकते रहे हैं, लेकिन इस बार लंबे समय से उनका उत्पात जारी है। वन विभाग तमाम कोशिश के बावजूद उन्हें नहीं रोक पा रहा है।

    - विभाग की ओर से इसके लिए करंट से चलने वाला बैरिगेट भी लगाया गया है, जिसके बाद हाथी अंदर तो नहीं आ पा रहे, लेकिन चिरमिरी की ओर बढ़ रहे हैं। इससे हाथियों ने ग्राम माति झारिया में मकान, फसल और अनाज आदि की काफी नुकसान किया है।

    - श्रममंत्री भैया लाल राजवाड़े मंगलवार देर शाम ग्रामीणों को मुआवजा बांटने के लिए पहुंचे थे। मुआवजा बांटने के बाद वो अगले दिन जंगल की ओर रास्ते में रुक गए और हाथियों को रोकने के लिए बाकायदा पंडित जी से पूजा व हवन कराया।

    इन लोगों को बांटा गया मुआवजा

    -श्रममंत्री राजवाड़े ने गांव में 24 ग्रामीणों को 14 लाख 68 हजार 530 रुपये मुआवजा राशि का चेक वितरण किया है। इसमें शिवप्रसाद को 54 हजार 350 रुपये, सुखमत बाई को 19 हजार, सुन्दर सिंह को 48 हजार, रामलाल को 7 हजार, रायसिंह आत्मज दुबराज और रायसिंह आत्मज को क्रमशः 47 हजार 550 रुपये, राजकुमार को 69 हजार 300, सिंगारो बाई को 2 हजार 590, दशरत को 32 हजार 230 रुपये, दिलवर को 79 हजार 130 रुपये, विजय सिंह को 99 हजार 790, रामकुमार को 20 हजार 120, बृजलाल को एक लाख 11 हजार 800 रुपये।

    - इसी प्रकार शिव वचन को 10 हजार 490, रायसिंह को एक लाख 8 हजार 480, राय सिंह को एक लाख 10 हजार 540, रामनाथ को एक लाख 31 हजार 130, सुशीला को 3 हजार 550 और फूल कुवंर को 12 हजार 710 रुपये मुआवजा राशि प्रदान किया है.

    - इसी तरह ग्राम टेंगनी के धर्मजीत सिंह को एक लाख 54 हजार 350, विजय सिंह को एक लाख 7 हजार 930 रुपये, सहदेव को एक लाख एक हजार 110 रुपये, सोनसाय को 13 हजार 260 रुपये और शंकर सिंह को 79 हजार 550 रुपये का मुआवजा राशि का वितरण किया। इस अवसर पर वन विभाग के वन विभाग के अधिकारी एवं गांव वासी मौजूद थे।

    कंटेंट/फोटो : अमित सोनी

  • छत्तीसगढ़: वन महकमा नाकाम हुआ तो श्रममंत्री राजवाड़े ने गांवों में घुस रहे हाथियों को रोकने के लिए किया हवन
    +2और स्लाइड देखें
    हाथियों को रोकने के लिए पूजा करते श्रममंत्री
  • छत्तीसगढ़: वन महकमा नाकाम हुआ तो श्रममंत्री राजवाड़े ने गांवों में घुस रहे हाथियों को रोकने के लिए किया हवन
    +2और स्लाइड देखें
    हाथियों काे रोकने के लिए हवन करते श्रममंत्री
Topics:
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Bilaspur

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×