• Home
  • Chhattisgarh
  • Bilaspur
  • मेरी मौत हुई तो... मेरा कातिल हितेन और मुरारी को समझा जाए
--Advertisement--

मेरी मौत हुई तो... मेरा कातिल हितेन और मुरारी को समझा जाए

रुपयों के लेन-देन को लेकर गुरुवार को गीताजंलि फेस-2 में बंधक बनाए गए मोबाइल एसेसरीज के व्यापारी अमर पंजवानी के जीजा...

Danik Bhaskar | Jul 14, 2018, 02:20 AM IST
रुपयों के लेन-देन को लेकर गुरुवार को गीताजंलि फेस-2 में बंधक बनाए गए मोबाइल एसेसरीज के व्यापारी अमर पंजवानी के जीजा राज भोजवानी ने बिलासपुर रेंज के पुलिस महानिरीक्षक को वाट्सएप पर मैसेज भेजकर अपनी आपबीती बताई। उसने कहा कि यदि वह मर जाए तो उसका कातिल हितेन और मुरारी को समझा जाए। आईजी के निर्देश पर सरकंडा पुलिस सक्रिय हुई और उसने पीड़ित की रिपोर्ट लिखी। आईजी ने पुलिस को बदमाशों पर कार्यवाही करने के निर्देश दिए। वाट्सएप मिलने और कार्यवाही कराने की पुष्टि आईजी ने की है। भेजे मैसेज से यह साबित होता है कि शहर में बदमाशों का कितना खौफ है।

क्या है मामला : हिस्ट्रीशीटर हितेन्द्र सिंह ठाकुर उर्फ हित्तू का राज भोजवानी से रुपयों को लेकर विवाद चल रहा है। जब राज भोजवानी नहीं मिला तो बदमाशों ने उसके साले अमर पंजवानी को बुलाकर बंधक बना लिया था और गीतांजलि फेस-2 के एक फ्लैट में बंधक बनाकर मारपीट की थी। जैसे-तैसे अमर पंजवानी बदमाशों के चंगुल से बचकर पुलिस के पास पहुंचा।

पढ़िए... आईजी को मिले वाट्सएप में क्या लिखा है

हितेन ठाकुर नाम का आदमी है जो टॉर्चर कर रहा है। इनका लोकेशन देख लीजिएगा। सर मैं अापराधिक लोगों के बीच फंस गया हूं। बिलासपुर से पिछले 15 दिन से भटक रहा हूं। मेरे एक पैर में फ्रैक्चर है, मैं बीपी और शुगर का मरीज हूं। शायद मुझे कुछ हो जाए। आज वे मेरे साले अमर पंजवानी को पकड़ कर एक फ्लैट में टॉर्चर कर रहे हैं। ये मेरे साले का नंबर है। गीतांजलि फेस-2 वहीं पर कहीं फ्लैट है, लोकेशन देख लीजिएगा। मुरारी सोनी ये भी हितेन ठाकुर का साथी है। अगर मुझे रास्ते में कभी पकड़ लिया और मैं मर गया तो मेरा कातिल इन दोनों को ही समझा जाए। 3 वर्षों से मेरा खून चूस लिया है सर, आपके बारे में मालूम चला, प्लीज हेल्प मी। मैं अभी बिलासपुर के लिए निकला हूं, लगातार मेरे मोबाइल का लोकेशन मालूम कर रहा है। मेरी तबियत बहुत खराब है, शायद मैं किसी हॉस्पिटल में एडमिट हो जाऊं। साहब मेरे छोटे बच्चे हैं। साहब मेरे साले को बहुत टॉर्चर कर रहा है। आप क्राइम वालों को ही भेजिएगा, वहां का पुलिस स्टेशन सीपत रोड वाला सब उनको पहचानते हैं। उस फ्लैट को चैक करवाइएगा शायद आपके काम की कुछ चीज मिल जाएगी। जो गैर कानूनी हो। अगर बच गया तो सुबह किसी हॉस्पिटल से आपको फोन करूंगा। प्लीज सर हेल्प, सर प्लीज, फ्लैट सीपत रोड गीतांजलि फेस-2 लोकेशन है। मेरा नाम राज भोजवानी है। सर मेरे साले को बहुत मारा है उन लोगों ने। मारकर घर पर छोड़ कर चले गए। सरकंडा थाने की पुलिस मेरे साले को उठाकर ले गई और मेरे साले को ही अंदर कर दिया है।

मामला स्पष्ट नहीं है: