• Home
  • Chhattisgarh
  • Bilaspur
  • छत्तीसगढ़ की सीनियर टीम घोषित कर्नाटक में पहला मैच हिमाचल से
--Advertisement--

छत्तीसगढ़ की सीनियर टीम घोषित कर्नाटक में पहला मैच हिमाचल से

स्पोर्ट्स रिपोर्टर | बिलासपुर कर्नाटक में होने वाले चार दिवसीय डाॅ. कैप्टन थिम्मापाह स्मृति टूर्नामेंट में...

Danik Bhaskar | Jul 14, 2018, 02:20 AM IST
स्पोर्ट्स रिपोर्टर | बिलासपुर

कर्नाटक में होने वाले चार दिवसीय डाॅ. कैप्टन थिम्मापाह स्मृति टूर्नामेंट में पहली बार छत्तीसगढ़ की सीनियर मेंस क्रिकेट टीम शामिल होगी। 17 सदस्यीय टीम की घोषणा शुक्रवार को की गई। टीम में बिलासपुर के 2 खिलाड़ियों को जगह मिली है। तेज गेंदबाज शाहनवाज हुसैन और शिवेंद्र सिंह को चुना गया है। कर्नाटक क्रिकेट एसोसिएशन द्वारा कराए जा रहे इस टूर्नामेंट में देश की टॉप-16 टीमें शामिल होती हैं। टूर्नामेंट की शुरुआत 18 जुलाई से होने जा रही है। टीम 16 को रवाना होगी। टीम का पहला मुकाबला 18 जुलाई से हिमाचल के खिलाफ होगा।

तीसरे दिन बारिश के कारण 54 ओवर का ही खेल हो सका

आशुतोष का अर्धशतक, बी ने चार विकेट पर बनाए 142 रन

छत्तीसगढ़ क्रिकेट संघ की ओर से आयोजित सीनियर ग्रुप के प्रैक्टिस मुकाबले के तीसरे दिन बारिश के कारण 54 ओवर का ही खेल हो सका। अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम में खेल जा रहे चार दिवसीय मुकाबले में बी टीम ने पहली पारी में 23 ओवर में तीन विकेट पर 60 रन से आगे खेलना शुरू किया। खेल खत्म होने पर टीम ने 76.5 ओवर में चार विकेट पर 142 रन बना लिए थे। आशुतोष सिंह ने 59 रन बनाए। उन्होंने अपनी पारी में छह चौके लगाए। संचीत देसाई ने भी 27 रन का योगदान दिया। ओंकार वर्मा को दो जबकि शहनवाज और अभिषेक खरे को एक-एक विकेट मिला। ए टीम ने पहली पारी में 409 रन बनाए थे। टीम के विशाल कुशवाहा ने शानदार 150 रन की नाबाद पारी खेली। इस पारी में उन्होंने 154 गेंद का सामना किया। 10 चौके और 11 छक्के लगाए थे।

जानिए छत्तीसगढ़ की टीम में शामिल 17 खिलाड़ियों को


कब, किससे मुकाबला






16 टीमें चार ग्रुप में

टूर्नामेंट में शामिल होने वाली 16 टीमों को चार ग्रुप में बांटा जाता है। सभी टीम को तीन लीग मुकाबले खेलने होंगे। इसके बाद हर ग्रुप की टॉप टीम को सेमीफाइनल में जगह मिलती है। इसके बाद खिताबी मुकाबला होता है। पिछले साल टूर्नामेंट में हिमाचल, बंगाल, हरियाणा, आंध्र प्रदेश, तमिलनाडु, गुजरात, केरल, विदर्भ की टीमें उतरी थीं। ऐसे में छत्तीसगढ़ को रणजी से पहले बड़ी टीमों के खिलाफ मौका मिलेगा। हमारे खिलाड़ियों के पास टूर्नामेंट से पहले खुद को परखने का मौका भी होगा।

खिलाड़ियों को अच्छा मौका

रणजी के नए सीजन से प्री-क्वार्टर फाइनल मुकाबले कराए जाने की तैयारी चल रही है। ऐसे में टॉप-16 टीम को यहां मौका मिलेगा। छत्तीसगढ़ टीम रणजी से पहले दो से तीन टूर्नामेंट में और उतरेगी। इसमें अलग-अलग खिलाड़ियों का उतारा जाएगा। इसमें प्रदर्शन और कैंप में प्रदर्शन को आधार बनाकर टीम चुनी जाएगी। छग टीम ने पिछले साल छह में एक मुकाबला जीतने में सफल रही थी। तीन मुकाबले ड्रॉ रहे थे। टीम को दो मुकाबलों में हार मिली थी। हालांकि टीम ने चैंपियन विदर्भ के खिलाफ अच्छा खेल दिखाया था और पहली पारी में बढ़त के आधार पर तीन पॉइंट भी हासिल किए थे। टीम के खिलाड़ियों के पास अब अहम मुकाबलों का अनुभव भी है। इसका फायदा हमें मौजूदा सीजन में देखने को मिलेगा।