• Hindi News
  • Chhattisgarh
  • Bilaspur
  • खुद को धूमा का सरपंच बताया और किशोरी को सिलाई मशीन दिलाने का झांसा देकर अपने साथ ले गया, दुष्कर्म की कोशिश
--Advertisement--

खुद को धूमा का सरपंच बताया और किशोरी को सिलाई मशीन दिलाने का झांसा देकर अपने साथ ले गया, दुष्कर्म की कोशिश

Dainik Bhaskar

May 03, 2018, 02:25 AM IST

Bilaspur News - खुद को धूमा का सरपंच बताकर युवक सिरगिट्टी क्षेत्र की 15 वर्षीय किशोरी को सिलाई मशीन दिलाने का झांसा दिया और अपने साथ...

खुद को धूमा का सरपंच बताया और किशोरी को सिलाई मशीन दिलाने का झांसा देकर अपने साथ ले गया, दुष्कर्म की कोशिश
खुद को धूमा का सरपंच बताकर युवक सिरगिट्टी क्षेत्र की 15 वर्षीय किशोरी को सिलाई मशीन दिलाने का झांसा दिया और अपने साथ ले गया। सीपत क्षेत्र में लेजाकर उसके साथ दुष्कर्म करने की कोशिश भी की। किशोरी बाइक से कूद गई। पुलिस ने युवक के खिलाफ जुर्म दर्ज कर लिया है।

सिरगिट्टी थाना क्षेत्र की रहने वाली 15 वर्षीय किशोरी मंगलवार की सुबह घर पर थी। उसके माता पिता किसी रिश्तेदार के घर कोनी क्षेत्र गए हुए थे। करीब 10 बजे उसके घर 30-35 साल का व्यक्ति आया। भीतर गया और खुद को ग्राम पंचायत धूमा का सरपंच बताया। उसने सरकारी योजना के तहत सिलाई मशीन दिलाने का झांसा दिया और अपने साथ चलने के लिए कहा। किशोरी उसके झांसे में आ गई और बाइक में बैठकर चली गई। बाइक सवार ने उसे सीपत की ओर ले जाने लगा। किशोरी ने पूछताछ की तो कहा कि वहां भी एक लड़की है और उसे भी सिलाई मशीन दिलवाने साथ लाना पड़ेगा। किशोरी ने विरोध नहीं किया। सीपत से पहले सूनसान इलाका में युवक ने अचानक बाइक रोक दी और कपड़े का नाप लेने का बहाना कर किशोरी को खेत में ले गया। यहां दुष्कर्म करने के इरादे से उसके साथ छेड़छाड़ करने लगा। किशोरी के विरोध करने के कारण वह इसमें सफल नहीं हो पाया। इस बीच वह डरा धमकाकर किशोरी को फिर से अपनी बाइक बिठा लिया और ले जाने लगा। किशोरी डरी हुई थी। ग्राम देवरी के पास जैसे ही उसे सड़क पर कुछ लोग नजर आए वह शोर मचाकर बाइक से कूद पड़ी। युवक वहां से भाग निकला। किशोरी को देवरी का सरपंच सीपत थाने लेकर गया। सीपत पुलिस ने सिरगिट्टी क्षेत्र को घटनास्थल बताकर किसी तरह की कार्रवाई करने से मना कर दिया और चाइल्ड लाइन को फोन कर बुलाया फिर किशोरी को उनके सुपुर्द कर दिया। सीपत पुलिस ने इस बीच सिरगिट्टी थाने में भी फोन कर घटना की सूचना दे दी थी। गुरुवार को किशोरी सिरगिट्टी थाने पहुंची। पुलिस को उसने बयान दिया। पुलिस ने पहचान कराने के लिए धूमा के सरपंच को को बुलाया। थानेदार प्रशिक्षु डीएसपी प्रतीक चतुर्वेदी का कहना है कि किशोरी ने उसे पहचानने से इनकार कर दिया। उसके बताए हुलिए के आधार पर संदेही की तलाश शुरू कर दी गई है। युवक काले रंग की गाड़ी में आया था और वह भी काले ही रंग का था। पुलिस ने इस मामले में आरोपी के खिलाफ अपहरण, पॉस्को एक्ट के तहत जुर्म दर्ज कर लिया है। गुरुवार को उसका मेडिकल होगा। फिलहाल किशोरी को उसके पिता को सुपुर्द कर दिया गया है।

सिरगिट्टी क्षेत्र से अगवा कर ले गया था सीपत क्षेत्र, बाइक से कूदी तो लोग उसे थाने लेकर पहुंचे

बहादुरी की चर्चा

पुलिस कर्मचारियों में इस बात की चर्चा रही कि किशोरी अपनी बहादुरी के कारण ही बच पाई। न केवल बाइक से कूद गई बल्कि गलत हरकत का विरोध भी किया। थाने पहुंची तो उसके पैर में चोट थी और लंगड़ाकर चल रही थी। इसके बावजूद उसने हिम्मत नहीं हारी। पूरी रिपोर्ट लिखाई और संदेहियों को पहचानने तक रुकी रही।

X
खुद को धूमा का सरपंच बताया और किशोरी को सिलाई मशीन दिलाने का झांसा देकर अपने साथ ले गया, दुष्कर्म की कोशिश
Astrology

Recommended

Click to listen..