Hindi News »Chhatisgarh »Bilaspur» पेट्रोल उधार नहीं देने पर पंप के गल्ले से लूटी रकम, कर्मचारियों को भी पीटा

पेट्रोल उधार नहीं देने पर पंप के गल्ले से लूटी रकम, कर्मचारियों को भी पीटा

क्राइम रिपोर्टर, बिलासपुर | सीपत पुलिस थाना क्षेत्र के धनिया में मां फ्यूल पेट्रोल पंप पर पास के ही गांव के युवकों...

Bhaskar News Network | Last Modified - Jul 14, 2018, 02:25 AM IST

पेट्रोल उधार नहीं देने पर पंप के गल्ले से लूटी रकम, कर्मचारियों को भी पीटा
क्राइम रिपोर्टर, बिलासपुर | सीपत पुलिस थाना क्षेत्र के धनिया में मां फ्यूल पेट्रोल पंप पर पास के ही गांव के युवकों ने स्टाफ पर हमला कर वहां गल्ले में रखी हुई रकम लूट ली। स्टाफ व बदमाशों के बीच विवाद उधारी में पेट्रोल नहीं देने को लेकर हुआ। घटना 10 जुलाई की है, लेकिन पुलिस अपनी किरकिरी से बचने के लिए इसे दबाए बैठे रही। लूट की घटना के बाद भी सीपत थाना पुलिस ने इस मामले में साधारण मारपीट का मामला दर्ज किया है।

जानिए पूरी घटना पेट्रोल पंप मालिक की जुबानी

धनिया में मेरा मां फ्यूल के नाम से पेट्रोल पंप है। 10 जुलाई की रात लगभग 10 बजे बाइक पर सवार होकर 3 से 4 की संख्या में युवक पहुंचे। इस समय मेरा स्टाफ खाना खा रहा था। पेट्रोल पंप पर जो युवक पहुंचे उन्होंने मेरे कर्मचारी नूर आलम और किशन कश्यप से उधारी में पेट्रोल मांगा, लेकिन कर्मचारियों ने यह कहा कि हमारे मैनेजर ने किसी को भी उधार में पेट्रोल देने से मना कर रखा है इसलिए हम नहीं दे सकते। कर्मचारियों ने यह भी कहा कि हम तुम लोगों को जानते तक नहीं हैं तो कैसे उधार में पेट्रोल दे सकते हैं। उस समय तो वह युवक चले गए, लेकिन कुछ समय बाद भौराडीह में रहने वाले सितलेश उर्फ गोलू, रामायण, राजेश नाम के युवक वापस आए और कर्मचारियों से बोले तुमने हमारी बेइज्जती की है और यह कहते हुए मारपीट शुरू कर दी। इनमें से एक को हमारा कर्मचारी जानता है। कर्मचारियों को इतना पीटा कि नूर आलम का हाथ फ्रैक्चर हो गया और किशन कश्यप की छाती में गंभीर चोट आई है। कर्मचारियों ने हमलावरों से जैसे-तैसे अपने आप को बचाया। हमलावरों ने पेट्रोल पंप के गल्ले में रखा 16 हजार 840 रुपए भी लूट लिया। घटना की जानकारी पुलिस को दी तो वह पंप पर आई और पूछताछ करके चली गई। बदमाशों के खिलाफ पुलिस ने साधारण मारपीट का मामला दर्ज किया है। जबकि कर्मचारियों के साथ इतनी बेरहमी से मारपीट की गई है कि उनकी हालत बहुत खराब है।

जैसा मां फ्यूल पेट्रोल पंप के संचालक चित्रसेन सिंह ठाकुर ने दैनिक भास्कर को बताया।

जैसा पेट्रोल पंप कर्मचारियों ने पुलिस को बताया है उसी के अाधार पर एफआईआर दर्ज की है। जांच के बाद भी एफआईआर में धाराएं बढ़ाई जा सकती है। कुछ धाराएं गैर जमानती भी हैं। अभी फिलहाल एक भी आरोपी पकड़ में नहीं आया है लेकिन जल्द ही आरोपियों को पकड़ लिया जाएगा। श्याम कुमार सिदार, थाना प्रभारी, सीपत

जैसा उन्होंने बताया उसके आधार पर कायमी की है

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Bilaspur

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×