बिलासपुर

  • Home
  • Chhattisgarh
  • Bilaspur
  • स्कूल परिसर में कब्जा कर बनाई दुकानें- होटल, हाईकोर्ट ने कार्रवाई के लिए दिया एक और मौका
--Advertisement--

स्कूल परिसर में कब्जा कर बनाई दुकानें- होटल, हाईकोर्ट ने कार्रवाई के लिए दिया एक और मौका

मस्तूरी में रहने वाले नागरिक ने नवंबर में मस्तूरी के एसडीएम, बिलासपुर कलेक्टर समेत अन्य अधिकारियों को आवेदन...

Danik Bhaskar

Apr 17, 2018, 02:35 AM IST
मस्तूरी में रहने वाले नागरिक ने नवंबर में मस्तूरी के एसडीएम, बिलासपुर कलेक्टर समेत अन्य अधिकारियों को आवेदन प्रस्तुत कर बताया था कि एक व्यक्ति ने स्कूल परिसर में बेजा कब्जा कर दुकानें व होटल बना लिया है। कार्रवाई नहीं होने पर याचिका लगाई। हाईकोर्ट ने दिसंबर के पहले सप्ताह में कलेक्टर को उचित कार्रवाई के निर्देश दिए थे, लेकिन इसका पालन नहीं किया गया। इस पर अवमानना याचिका लगाई गई है।

मस्तूरी में रहने वाले विनोद सारथी ने 22 नवंबर 2017 को वहीं रहने वाले प्रमोद भारत अवस्थी पर स्कूल परिसर में बेजा कब्जा कर दुकानें और होटल बनाने का आरोप लगाते हुए शिकायत कलेक्टर, एसडीएम, तहसीलदार, थाना प्रभारी से शिकायत की, लेकिन इस पर कोई कार्रवाई नहीं की गई। इस पर उसने हाईकोर्ट में याचिका लगाई। हाईकोर्ट ने 5 दिसंबर 2017 को दोनों पक्षों को सुनवाई का मौका देते हुए याचिकाकर्ता के आवेदन पर तीन माह के भीतर निर्णय लेने के निर्देश दिए थे, लेकिन निर्धारित समय में इसका पालन नहीं किया जा सका। इस पर सारथी ने हाईकोर्ट में अवमानना याचिका लगाई है। जस्टिस संजय के अग्रवाल की बेंच ने अवमानना याचिका पर सुनवाई करते हुए कलेक्टर समेत अन्य संबंधित अधिकारियों को हाईकोर्ट द्वारा 5 दिसंबर 2017 को दिए गए आदेश का पालन करने के लिए एक और मौका देते हुए अवमानना याचिका निराकृत कर दी है। याचिकाकर्ता को अवमानना याचिका पर दिए गए आदेश की कॉपी के साथ नया आवेदन प्रस्तुत करने के भी निर्देश दिए गए हैं।

Click to listen..