बिलासपुर

  • Home
  • Chhattisgarh
  • Bilaspur
  • सेफ्टी कमेटी व डीजीएमएस ने किया खदान का निरीक्षण
--Advertisement--

सेफ्टी कमेटी व डीजीएमएस ने किया खदान का निरीक्षण

कुसमुंडा| एसईसीएल कुसमुंडा खदान में गुरुवार को बीजीआर कंपनी के साइट पर वाल्वो की चपेट में आकर मूलत: कटनी (मप्र)...

Danik Bhaskar

Jul 14, 2018, 02:55 AM IST
कुसमुंडा| एसईसीएल कुसमुंडा खदान में गुरुवार को बीजीआर कंपनी के साइट पर वाल्वो की चपेट में आकर मूलत: कटनी (मप्र) निवासी सुपरवाइजर राकेश कुमार की मौत हो गई थी। घटना के बाद कंपनी के सेफ्टी जीएम ने मौके का दौरा किया और जानकारी ली। वहीं दूसरे दिन सेफ्टी बोर्ड मेंबर ने भी खदान का निरीक्षण किया।

सेफ्टी कमेटी के सदस्यों को मौके पर कई तरह की खामियां नजर आई। जिसकी रिपोर्ट प्रबंधन को सौंपी जाएगी। डीजीएमएस के अफसरों ने भी घटना के संबंध में जानकारी स्थानीय प्रबंधन से ली है। गुरुवार को हादसे में कंपनी के कर्मी राकेश कुमार की मौत के बाद सहकर्मियों का आक्रोश बढ़ गया था। मुआवजा व अन्य मांगों को लेकर संबंधित कंपनी के खिलाफ मोर्चा खोल दिया था। बाद में विधायक जयसिंह अग्रवाल भी पहुंचे गए थे। उन्होंने भी कर्मियों के मांगों को जायज ठहराते हुए। मृतक के परिवार को आर्थिक सहायता व परिवार के सदस्य को कंपनी में नौकरी देने की मांग रखी थी। रात में एसईसीएल, बीजीआर कंपनी के अधिकारियों की उपस्थिति में समझौता हुआ। जिसमें मृत कर्मचारी के परिजन को 3 लाख रुपए की तात्कालिक सहायता, 8 लाख 73 हजार रुपए मुआवजा, आश्रित के परिवार के सदस्य को कंपनी में नौकरी पर सहमति बनी है। वैधानिक प्रक्रिया के तहत दायरे में आने वाले अन्य देय का भी भुगतान किया जाएगा। इसके बाद मामला शांत हुआ। शुक्रवार को शव पीएम के बाद पुलिस ने परिजनों को सौंप दिया।

सुपरवाइजर का शव परिजनों का सौंपा, आश्रित को नौकरी देगी कंपनी

Click to listen..