• Hindi News
  • Chhattisgarh
  • Bilaspur
  • बिजली कटौती से त्रस्त लोगों ने कैंडल मार्च निकाल दफ्तर के सामने किया रोड जाम
--Advertisement--

बिजली कटौती से त्रस्त लोगों ने कैंडल मार्च निकाल दफ्तर के सामने किया रोड जाम

नगर में बुधवार दोपहर से गुल हुई बिजली रात में नहीं आने पर नाराज व्यापारियों व स्थानीय लोगोंे ने कैडल मार्च निकाला।...

Dainik Bhaskar

May 18, 2018, 02:30 AM IST
बिजली कटौती से त्रस्त लोगों ने कैंडल मार्च निकाल दफ्तर के सामने किया रोड जाम
नगर में बुधवार दोपहर से गुल हुई बिजली रात में नहीं आने पर नाराज व्यापारियों व स्थानीय लोगोंे ने कैडल मार्च निकाला। दफ्तर के सामने लोगों ने नारेबाजी कर मेन रोड काे जाम कर दिया। घंटे भर जाम के बाद थाना प्रभारी के आश्वासन पर लोगों ने आंदोलन समाप्त किया। प्रदर्शनकारियों ने बिजली कटौती की समस्या का जल्द निराकरण करने की मांग की है।

पिछले महीनेभर से कुसमी नगर में बिजली का संकट बना हुआ है। विभाग के अधिकारी कभी लाइन में फॉल्ट तो कभी मेंटेनेंस का हवाला देते हैं। लगातार बिजली कटौती से व्यापारियों का धंधा चौपट होने के साथ लोगों को गर्मी की मार झेलनी पड़ रही है। बुधवार रात बिजली गुल होने के बाद नगरवासियों व व्यापारियों ने विद्युत विभाग के खिलाफ नाराजगी जताते हुए कैडल मार्च निकाला। कार्यालय बंद होने पर लोगों ने मुख्य सड़क को जाम कर दिया। उन्होंने आरोप लगाया कि विभाग के अधिकारी मेंटेनेंस का हवाला देकर बिजली की सप्लाई दोपहर के वक्त बंद कर देते हैं।

बिजली बंद होने पर नहीं होती है पानी की सप्लाई

पीएचई द्वारा इंटेक वेल बनाया गया है जहां से समूचे नगर में पानी की सप्लाई होती है लेकिन बिजली व्यवस्था गड़बड़ाने के बाद लोगों के घरों तक पानी नहीं पहुंच रहा है। इधर बिजली नहीं होने से व्यवसायियों का कारोबार भी प्रभावित हो रहा है। गौरतलब है कि राजपुर से कुसमी करीब 65 किमी दूर 33 केवी सिंगल लाइन पहाड़ों व घने जंगलो से होते हुए आई है। इसमें आए दिन फ़ॉल्ट होने आने के बाद उसे तलाशने में काफी समय लग जाता है।

सब स्टेशन तैयार होने के बाद दूर होगी समस्या: इस संबंध में जेई राजेंद्र पन्ना ने बताया कि आए दिन मौसम के खराब होने व तेज हवा के कारण लाइन में फ़ॉल्ट आ रहा है। लाइनों के मेंटेनेंस का काम लगातार किया जा रहा है। जल्द ही राजपुर में पावर स्टेशन बनने के बाद यह समस्या दूर हो जाएगी।

रात भर अंधेरे में डूबा रहा नगर, कई गांव भी

बुधवार दोपहर दो बजे बिजली गुल होने पर लोगों ने विभाग को फोन लगाया तो बताया गया कि शंकरगढ़-डीपाडीह के बीच लाइन में फॉल्ट है, जल्द ही बहाल कर दी जाएगी। इससे नगर सहित आसपास का इलाका अंधेरे में डूबा रहा। गुरुवार सुबह 10 बजे बिजली आपूर्ति शुरू की गई। समस्या से जूझ रहे लोगों का कहना है कि बिजली व्यवस्था जल्द ही दुरुस्त नहीं की गई तो उग्र प्रदर्शन के लिए उन्हें मजबूर होना पड़ेगा।

X
बिजली कटौती से त्रस्त लोगों ने कैंडल मार्च निकाल दफ्तर के सामने किया रोड जाम
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..