• Home
  • Chhattisgarh
  • Bilaspur
  • साइकिल बांटने बुलाए दो हजार लोग 150 को ही मिली, सैकड़ों बैरंग लौटे
--Advertisement--

साइकिल बांटने बुलाए दो हजार लोग 150 को ही मिली, सैकड़ों बैरंग लौटे

मंगल भवन में संगठित और असंगठित कर्मकारों के लिए आयोजित साइकिल वितरण कार्यक्रम में दिनभर भीड़ लगी रही लेकिन सिर्फ...

Danik Bhaskar | Jul 13, 2018, 03:30 AM IST
मंगल भवन में संगठित और असंगठित कर्मकारों के लिए आयोजित साइकिल वितरण कार्यक्रम में दिनभर भीड़ लगी रही लेकिन सिर्फ डेढ़ सौ लोगों को ही साइकिल बांटी गई। पूरे ब्लॉक में करीब 4 हजार लोगों को साइकिल बांटी जानी है लेकिन गुरुवार को दिनभर लाइन में लगे रहने के बावजूद कुछ लोगों को ही साइकिल मिल पाई। इस बात को लेकर लोगों में नाराजगी है।

साइकिल वितरण की खबर सुनकर करीब दो हजार लोग जयस्तंभ चौक के पास सुबह से ही लाइन में लगे रहे। घंटों लाइन में खड़े रहने के बाद महज 150 लोगों को ही साइकिल मिल पाई। दूर दराज गांव से आए लोगों को घंटों मशक्कत के बाद बैरंग लौटना पड़ा। ग्रामीणों ने बताया कि साइकिल मिलने की उम्मीद में वे लोग दस से बीस किमी की दूरी तय कर हम लोग लाइन में खड़े थे। घंटों लाइन में लगने के बाद उनसे कहा गया कि आज सिर्फ 150 लोगों को ही साइकिल मिलेगी। साइकिल वितरण समारोह में रोशन गुप्ता, श्रवण दास, मनोज गुप्ता, बिंधेश्वरी लाल पैकरा, दिवाकर केशरी, लवकुमार दास उपस्थित थे।

लोकल पंजीयन कराने वालों की गलती: लेबर इंस्पेक्टर

लेबर इंस्पेक्टर आरआर सूर्यवंशी ने बताया कि यहां के लोकल पंजीयन करने वालों की गलती है। हमारे द्वारा किश्तों में साइकिल वितरण किया जाना था पर सभी को एक साथ यहां बुला लिया गया। इसके कारण यह समस्या पैदा हुई। हमारा लक्ष्य है कि जुलाई तक सभी हितग्राहियों को साइकिल, सिलाई मशीन व मजदूरी संबंधित औजार उपलब्ध कर दिए जाएं।