• Hindi News
  • Rajya
  • Chhattisgarh
  • Champa
  • Janjgeer News chhattisgarh news administration under the pressure of the coal mafia on no entry can give two to two hours in the evening and 4 hours in the afternoon

नो एंट्री पर कोल माफिया के दबाव में प्रशासन, दे सकते हैं सुबह शाम दो-दो घंटे और दोपहर में चार घंटे वाहन चलाने की छूट

Champa News - नगर में इन दिनों सोलह घंटे नो एंट्री है। इस दौरान बड़ी गाड़ियां जिन पर प्रशासन ने रोक लगाई है वे तो शहर के अंदर से जा...

Bhaskar News Network

May 18, 2019, 07:01 AM IST
Janjgeer News - chhattisgarh news administration under the pressure of the coal mafia on no entry can give two to two hours in the evening and 4 hours in the afternoon
नगर में इन दिनों सोलह घंटे नो एंट्री है। इस दौरान बड़ी गाड़ियां जिन पर प्रशासन ने रोक लगाई है वे तो शहर के अंदर से जा नहीं रही है, इससे कोल व्यापारियों को नुकसान हो रहा है। उनके दबाव में इस समय प्रशासन है। इसलिए शनिवार को प्रशासन ने नगर के लोगों की बैठक बुलाई है। इसकी पूरी संभावना है कि व्यापारियों के दबाव में प्रशासन नो एंट्री में सुबह दो घंटे, रात में दो घंटे छूट दे सकती है।

इसके अलावा कोयला व्यापारियों का दबाव दोपहर में भी चार घंटे छूट देने के लिए बना हुआ है। 30 अप्रैल को हाइवा की चपेट में आने ग्राम बरगवां के युवक की मौत होने के बाद नो-एन्ट्री का कड़ाई से पालन करने की बात कही गई थी। 3 मई को नगर पालिका परिषद कार्यालय में नो-एन्ट्री के संबंध में जिला प्रशासन एवं पुलिस प्रशासन एवं नगर के जनप्रतिनिधियों की आयोजित बैठक में नगरवासियों द्वारा नो-एन्ट्री का कड़ाई से पालन की मांग करते हुए नगरपालिका क्षेत्र में सुबह 6 बजे से रात 10 बजे तक भारी वाहनों की आवाजाही पर रोक लगाने एवं नियम का पालन नहीं करने पर कार्रवाई की मांग की गई थी। नगरवासियों के विरोध को देखते हुए एसडीएम जांजगीर द्वारा 3 मई को आदेश जारी करते हुए सुबह 6 बजे से रात्रि 10 बजे तक नगरपालिका क्षेत्र में नो-एन्ट्री जोन घोषित करते हुए भारी वाहनों की आवाजाही पर प्रतिबंध लगा दिया गया। अब अचानक फिर से प्रशासन यू टर्न ले रहा है। इस नो एंट्री पर विचार करने के लिए शनिवार 18 मई को फिर से एसडीएम ने बैठक बुलाई है।

बैठक जांजगीर जिला मुख्यालय में इसलिए ताकि विरोध कम हो

नो एंट्री के संबंध में चर्चा करने के लिए एसडीएम ने जांजगीर जिला मुख्यालय में बैठक बुलाई है। इसे लेकर नगर में रोष है, लोगों का कहना है कि नो एंट्री का मामला अकलतरा से जुड़ा हुआ है, इसलिए बैठक अकलतरा में होनी चाहिए। इसके बजाय प्रशासन ने वहां बैठक बुलाई है, इसके पीछे इस बात की पूरी संभावना है कि प्रशासन इसे जानता है कि अकलतरा में बैठक होने से माहौल बिगड़ सकता है, इसलिए जानबूझ कर जांजगीर में बैठक बुलाई गई है।

जांजगीर की बैठक समझ से परे: विधायक


नगर हित के विरूद्ध किए गए निर्णय का होगा विरोध: मंजू


X
Janjgeer News - chhattisgarh news administration under the pressure of the coal mafia on no entry can give two to two hours in the evening and 4 hours in the afternoon
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना