विज्ञापन

गर्भगृह में दीए जलाए, हनुमान चालीसा का किया पाठ

Bhaskar News Network

Apr 16, 2019, 07:36 AM IST

Champa News - भगवान शिवरीनारायण मंदिर में रामनवमी का पर्व भक्तिमय वातावरण में मनाया गया। नगर के मुख्य मन्दिर श्री शिवरीनारायण...

Shivrinarayan News - chhattisgarh news burn the lamp in the sanctum sanctorum the text of hanuman chalisa
  • comment
भगवान शिवरीनारायण मंदिर में रामनवमी का पर्व भक्तिमय वातावरण में मनाया गया। नगर के मुख्य मन्दिर श्री शिवरीनारायण भगवान मंदिर में इस अवसर पर भगवान शिवरीनारायण का सुबह शुद्ध जल और गंगा जल से वैदिक मंत्रोच्चार के मध्य अभिषेक किया गया। इसके बाद भगवान को चांदी का कमरबंध और बाजू बंध पहनाकर नए वस्त्रों से राजसी आकर्षक श्रृंगार किया गया। मंदिर के गर्भगृह के साथ पूरे मंदिर को फूलों व गुब्बारों से सजाया गया। मंदिर के गर्भगृह में दीएं जलाए गए। श्रद्धालुओं ने रामायण और हनुमान चालीसा का पाठ किया।

श्री शिवरीनारायण भगवान मंदिर के मुख्य पुजारी पंडित भागवत तिवारी ने भगवान सालिकराम का दूध, दही, पंचामृत, शुद्ध जल और गंगाजल से अभिषेक किया। दोपहर ठीक बारह बजे घंटे घड़ियाल और शंख की मधुर स्वर के मध्य में आनंदकंद मर्यादा पुरुषोत्तम रामचन्द्र का जन्म कराया। इसके बाद शिवरीनारायण भगवान की महाआरती की गई। महाआरती में नगर सहित दूर दूर से आए हुए श्रद्धालुओं के साथ साधु-संत बड़ी संख्या में श्री शिवरीनारायण भगवान मंदिर में उपस्थित थे। महाआरती के बाद भये प्रगट कृपाला दीनदयाल कौशल्या हितकारी, हर्षित महतारी मुनि मन हारी अदभुत रूप विचारी...की स्तुति गाया गया। महिलाओं ने बधाई गीत के साथ मंगल गीत गाए गए। भगवान श्री रामचन्द्र जी के जन्म की बधाई हो ,बधाई हो से मंदिर परिसर गुंजायमान हो रहा था।श्री शिवरीनारायण भगवान की महाआरती,स्तुति,मंगलगान के पश्चात सभी श्रद्धालुओं को विशेष प्रसाद पंजरी,पंचामृत के साथ श्री फल नारियल और मिठाई का वितरण किया गया।श्री रामजन्म उत्सव पर मंदिर परिसर पर जोरदार आतिशबाजी की गई। इस अवसर पर नगर सहित आस पास क्षेत्र के श्रद्धालुजन बड़ी संख्या में उपस्थित थे। श्री शिवरीनारायण भगवन मंदिर के पुजारी दिलीप तिवारी ने बताया चैत्र माह की शुक्ल पक्ष की नवमी तिथि को श्री राम का जन्म हुआ था इसीलिए प्रतिवर्ष श्री रामजन्म उत्सव रामनवमी का पर्व चैत्र माह की शुक्ल पक्ष की नवमी तिथि को मनाया जाता है। श्री रामचन्द्र जी का जन्म चैत्र मास की शुक्ल पक्ष की नवमी तिथि को पुनर्वसु नक्षत्र तथा कर्क लग्न में हुआ था। भगवान राम भगवान विष्णु के अवतार हैं।

नगर में निकली साईं की पालकी यात्रा, गूंजा.. ओम साईं राम

शिवरीनारायण|रामनवमी पर रविवार की शाम को नगर में श्री साईं जी की भव्य पालकी यात्रा गाजे बाजे के साथ निकाली गई। श्री साईं जी की पालकी यात्रा बावा घाट स्थित साईं मंदिर से निकलकर मध्यनगरी चौक नटराज चौक बांबे मार्केट, मेन रोड, केरा चौक, पुराना रपटा रोड, थाना चौक, भगवान शिवरीनारायण मन्दिर मार्ग मध्यनगरी चौक होते हुए बावा घाट स्थित साईं मंदिर में आकर समाप्त हुई। इसमें बड़ी संख्या में शामिल भक्तों ने भगवान के जयकारे लगाते हुए भगवा ध्वज हाथों में थामे हुए नगर भ्रमण किया। भव्य पालकीयात्रा में श्री साईं जी के जीवंत झांकी व तैलचित्र को सुसज्जित गाड़ी में बैठाकर गाजे बाजे के साथ नगर भ्रमण कराया गया। गाड़ी को आकर्षक फूल-मालाओ से सजाया गया था। पालकीयात्रा के समय जगह जगह श्री साईं जी की पूजा अर्चना की गई। जगह जगह आकर्षक आतिशबाजी की गई। विदित हो कि नगर के बावा घाट में श्री साईं जी के मंदिर का निर्माण 2014 में किया गया था,जिसकी प्राण प्रतिष्ठा रामनवमी के दिन ही की हुई थी, तब से अनवरत प्रत्येक वर्ष रामनवमी को साईं की पालकीयात्रा निकाली जाती है।

मठ मंदिर में आरती के बाद हुआ भंडारे का आयोजन

भगवान शिवरीनारायण मठ मंदिर में ठीक 12 बजे जगदीश मंदिर में महाआरती की गई। इस दौरान भगवान के जन्मोत्सव के समय जमकर आतिशबाजी की गई। मंदिर ट्रस्ट द्वारा विशेष भोग प्रसाद भंडारे की व्यवस्था की गई थी, जिसमे नगर सहित क्षेत्र के हजारों लोगों ने प्रसाद प्राप्त किया। प्रत्येक वर्ष आज के दिन मठ मंदिर में पंजरी व मालपुआ का प्रसाद भोग लगाकर भक्तों में बांटा जाता है। भंडारे की व्यवस्था में मुख्तियार सुखराम दास, त्यागी जी महराज,ज्ञान दास नागा, टुकराम वर्मा, सुमेन्द्र यादव, बुचंगा यादव, दिलहरण साहू, सुदामा, संतोष, पंकज यादव,डिकेन्द्र कुमार ठाकुर, कृष्ण कुमार ,संतोष कश्यप,नितेश आदित्य ,राहुल मिश्रा,सतीष साहू आदि थे।

महादेवी महिला साहित्य समिति ने मनाई श्रीराम नवमी महोत्सव

चाम्पा। महादेवी महिला साहित्य समिति द्वारा श्रीराम नवमी महोत्सव मनाया गया। समिति के अध्य्क्ष सुशीला सोनी ने कहा कि श्री रामचन्द्र अखण्ड ब्राह्मण के लोक नायक है। श्रीराम पूरे विश्व के आदर्श है एवं सर्वश्रेष्ठ जीवनशैली के जन्मदाता है और विश्व मे मानव कल्याण के प्रतीक है। श्रीराम विश्वबंधुत्व के मूर्त स्वरूप है, उन्होंने उच्चतम जीवन दर्शन को मनुष्य रूप में जीकर दिखाया। मानव समाज श्रीराम के चरित्र अनुकरण से दूर होने के कारण अपने जीवन मूल्यों को खोता जा रहा हैं। महोत्सव में सामूहिक भजन गायन के बाद श्री राधाकृष्ण सकीर्तन मंडली द्वारा संगीतमय सुंदरकांड, किष्किंधा कांड एवं हनुमान चालीसा का पाठ किया गया और अंत में हनुमानलला एवं श्री रामायण की आरती की गई। इस दौरान सुशीला सोनी, सत्यभामा साव, विमला जयसवाल, कविता थवाईत, नीरा प्रधान, राधिका सोनी, कमला सोनी, सहोद्रा कंसारी, आशा सोनी, उमा सोनी, कमला देवांगन, मुन्नी देवांगन, प्रभा वैष्णव, रश्मि सोनी एवं ज्योति सोनी सहित महिलाएं बड़ी संख्या में उपस्थित थीं।

समिति में शामिल सदस्य।

18 एवं 19 अप्रैल को मनाई जाएगी हनुमान की जयंती

मंदिर परिसर की हो रही सफाई।

भास्कर न्यूज | बाराद्वार

नगर के मारवाड़ी धर्मशाला के पास स्थित दक्षिण मुखी हनुमान मंदिर में 18 एवं 19 अप्रैल को दो दिवसीय हनुमान जयंती बडे़ ही धूमधाम से मनाई जाएगी। आयोजन समिति के डिम्पू शर्मा ने बताया कि हनुमान जयंती पर सार्वजनिक हनुमान जयंती आयोजन समिति द्वारा मंदिर परिसर की सफाई एवं रंग रोगन कराया जा रहा हैं। जयंती पर पूरे मंदिर परिसर की झालरो एवं फूलों से आकर्षक सजावट की जाएगी।

18 अप्रैल की शाम 4 बजे गाजे बाजे एवं भजन कीर्तन के साथ दक्षिण मुखी हनुमान मंदिर से ध्वजयात्रा निकाली जाएगी, जो नगर के प्रमुख मार्गो का भ्रमण करते हुए वापस मंदिर पहुंचेगी, जिसके बाद वहां प्रसाद वितरण किया जाएगा। 19 अप्रैल की सुबह 9 बजे से मंदिर में हवन, पूजा के बाद आरती की होगी एवं 12 बजे से मारवाड़ी धर्मशाला में भंडारा का आयोजन होगा जिसमें भक्तों को प्रसाद बांटा जाएगा। गुरुवार की रात 8 बजे सामूहिक सुंदरकांड पाठ का आयोजन होगा, जिसमें उपस्थित सभी भक्तों द्वारा सामूहिक रूप से सुंदरकांड का पाठ किया जाएगा। हनुमान जयंती पर सवामणी लगाने के लिए मंदिर प्रबंधन समिति से 17 अप्रैल तक संपर्क किया जा सकता हैं।

Shivrinarayan News - chhattisgarh news burn the lamp in the sanctum sanctorum the text of hanuman chalisa
  • comment
Shivrinarayan News - chhattisgarh news burn the lamp in the sanctum sanctorum the text of hanuman chalisa
  • comment
X
Shivrinarayan News - chhattisgarh news burn the lamp in the sanctum sanctorum the text of hanuman chalisa
Shivrinarayan News - chhattisgarh news burn the lamp in the sanctum sanctorum the text of hanuman chalisa
Shivrinarayan News - chhattisgarh news burn the lamp in the sanctum sanctorum the text of hanuman chalisa
COMMENT
Astrology

Recommended

Click to listen..
विज्ञापन

किस पार्टी को मिलेंगी कितनी सीटें? अंदाज़ा लगाएँ और इनाम जीतें

  • पार्टी
  • 2019
  • 2014
336
60
147
  • Total
  • 0/543
  • 543
कॉन्टेस्ट में पार्टिसिपेट करने के लिए अपनी डिटेल्स भरें

पार्टिसिपेट करने के लिए धन्यवाद

Total count should be

543
विज्ञापन