--Advertisement--

सफल होना है तो समस्या से लड़ना सीखें: पांडेय

Dainik Bhaskar

Jan 14, 2019, 02:21 AM IST

Champa News - स्वामी विवेकानंद जयंती पर शासकीय एमएमआर कॉलेज महाविद्यालय चांपा के एनएसएस शिविर में विचार गोष्ठी हुई। इस मौके पर...

Champa News - chhattisgarh news to be successful learn to fight the problem pandey
स्वामी विवेकानंद जयंती पर शासकीय एमएमआर कॉलेज महाविद्यालय चांपा के एनएसएस शिविर में विचार गोष्ठी हुई। इस मौके पर मोटिवेटर जितेन्द्र पाण्डेय ने कहा कि समस्याओं से पीछे भागने वाला व्यक्ति जीवन में कभी सफल नहीं हो सकता। जीवन में सफल होना है तो समस्या का सामना करना सीखना होगा।

उन्होंने बताया कि एक छोटी सी घटना ने नरेन्द्र को स्वामी विवेकानंद बना दिया। जब छोटी उम्र में वे बंदर से डरकर भाग रहे थे। इस दौरान उन्हें किसी ने कहा कि भागने से छुटकारा नहीं मिलने वाला है रूको और उसकी तरफ देखो उन्होंने ऐसा ही किया और बंदर लौट गया। इस घटना में उनकी सोच बदल दी और वे विश्व पटल पर युवाओं के प्रेरणा स्त्रोत के रूप में जाने जाते है। विशिष्ट अतिथि श्रीमती शैली अग्रवाल एवं डीआर गोयल ने भी संबोधित किया। इस दौरान कार्यक्रम अधिकारी डॉ. व्हीएम अग्रवाल ने विवेकानंद के जीवन पर आधारित प्रश्नोत्तरी प्रतियोगिता हुई, जिसमें जवाब देने वाले बच्चों को गिफ्ट दिए गए।

एकल वादन में वरूण प्रथम श्रेयस रहे दूसरे स्थान पर

भास्कर न्यूज | चांपा

स्वामी विवेकानंद की जयंती पर दिल्ली पब्लिक स्कूल में राष्ट्रीय युवा दिवस मनाया गया। अंतरविद्यालयीन संगीत एवं नृत्य स्पर्धा का आयोजन हुआ। जिसमें नव जागृति स्कूल, हसदेव पब्लिक स्कूल, लायंस पब्लिक स्कूल, ब्रिलियंट पब्लिक स्कूल तथा दिल्ली पब्लिक स्कूल ने भाग लिया। अंशुल तिवारी डीपीएस ने प्रथम, दीपक साहू ब्रिलिएंट पब्लिक स्कूल ने द्वितीय, एकल वादन श्रेणी में वरूण थवानी डीपीएस ने प्रथम तथा श्रेयस गौर हसदेव पब्लिक स्कूल ने द्वितीय स्थान हासिल किया। लोकनृत्य कैटेगरी में डीपीएस प्रथम तथा ब्रिलिएंट ने द्वितीय स्थान हासिल किया। शास्त्रीय समूह नृत्य श्रेणी में डीपीएस ने प्रथम तथा लायंस स्कूल ने दूसरा स्थान हासिल किया। निर्णायक की भूमिका राधा कृष्णा गोपाल, दिवाकर राव वाश्निक ने निभाई। प्राचार्या श्रीमती कल्पना सिंह ने कहा कि युवा उत्साह और ऊर्जा के स्त्रोत होते है उनमें समाज और देश को बदलने की क्षमता होती है। कार्यक्रम का संचालन राज राजेश्वरी क्षत्रिय ने, धन्यवाद ज्ञापन हरमीत कौर ने किया। इस मौके पर पीयूष मिश्रा, सुभाष यादव, शिल्पी त्रिपाठी, केएन साहू, तोमन साहू समेत शिक्षक-शिक्षिकाएं व विद्यार्थी मौजूद थे।

स्वामी विवेकानंद के प्रयास से ही भारत को विश्व में मिली पहचान: कमलेशचंद्र

भास्कर न्यूज | बाराद्वार

सरस्वती शिशु मंदिर उच्चतर माध्यमिक विद्यालय में शनिवार को स्वामी विवेकानंद की 156 वीं जयंती मनाई गई। इस मौके पर नगर में शोभायात्रा भी निकाली गई। स्कूल परिसर में हुए समारोह में सबसे पहले स्वामी विवेकानंद के प्रतिमा पर दीप जलाकर फूल चढ़ाया गया। कार्यक्रम में विद्यालय प्रबंधकारिणी समिति के कोषाध्यक्ष कमलेशचन्द शर्मा ने स्वामी विवेकानंद के जीवन चरित्र पर प्रकाश डालते हुए कहा कि कोलकाता के एक कुलीन कायस्थ परिवार में जन्मे विवेकानंद बचपन से ही आध्यात्मिकता की ओर था। वे अपने गुरु रामकृष्ण देव से काफी प्रभावित थे। उनसे उन्होंने सीखा की सारे जीव स्वयं परमात्मा का ही एक अवतार है, इसलिए मानव जाति की सेवा करके परमात्मा की भी सेवा की जा सकती है। प्राचार्य उदयराम साहू ने कहा कि स्वामी विवेकानंद एक सिद्ध पुरुष थे। इन्हीं के अथक प्रयास से ही भारत देश की संस्कृति विश्व में पहचान मिली।

डीपीएस की टीम रही विजेता

सुबह 10 बजे से विद्यालय परिसर में अंतरविद्यालयीन फुटबाल प्रतियोगिता हुआ, जिसमें लायंस पब्लिक स्कूल, जयभारत इंग्लिश मीडियम स्कूल तथा दिल्ली पब्लिक स्कूल ने भाग लिया। जिसमें पहले मैच में लायंस स्कूल व दूसरे मैच में डीपीएस विजेता रहा। फाइनल मैच में डीपीएस विजेता बना।

शोभायात्रा में विवेकानंद व भारत माता की निकाली झांकी

स्कूल के छात्र-छात्राओं एवं शिक्षकों ने शोभायात्रा निकाली, जिसमें स्वामी विवेकानंद एवं भारत माता की वेषभूषा में सजे छात्र शामिल हुए। जो नगर के सभी प्रमुख मार्गों से होते हुए वापस स्कूल पहुंचकर समाप्त हुई। कार्यक्रम में स्कूल प्रबंधन समिति के अध्यक्ष पुरुषोत्तम सांवड़िया, व्यवस्थापक घासीराम बंसल, सदस्य ओमप्रकाश केडिया, महाबीर राठौर, प्रधानाचार्य विनोद कुमार कश्यप सहित सभी शिक्षक शिक्षिकाएं एवं छात्र छात्राएं बडी संख्या में उपस्थित थे।

आदर्श सेवा संस्थान ने मनाया युवा महोत्सव

जांजगीर-चांपा | आदर्श सेवा संस्थान द्वारा सांस्कृतिक भवन में स्वामी विवेकानंद की 156 वीं जयंती को युवा महोत्सव के रूप में मनाया गया। मुख्य अतिथि पद्मश्री डॉ.दामोदर गणेश बापट थे। विशिष्ट अतिथि कृषि वैज्ञानिक डॉ चंद्रशेखर खरे, डॉ. अनिल जगत थे।

इस मौके पर अतिथियों ने समाज के निर्माण में स्वामी विवेकानंद के योगदान को बताया। साहित्यकार अरुण सोनी ने स्वामी विवेकानंद के जीवन पर प्रकाश डालते हुए आदर्शों को अपनाने की बात कही। इस दौरान डॉ सूरज एवं टीम द्वारा योग का संचालन किया गया। अंत में देश भक्ति संगीत पर आधारित आर्केस्ट्रा का आयोजन हुआ। कार्यक्रम का संचालन सुमन पांडे एवं आभार प्रदर्शन आनंद मोहन सोनी ने किया। इस मौके पर संस्थान की अनामिका सोनी, सुचित्रा मिश्रा, अनुराधा आदित्य शुक्ला, सीता पांडे, आशा दुबे, प्रियंवदा पांडे, रूपेंद्र कश्यप, अंकित शुक्ला, सौरभ, समीर तिवारी, गोवर्धन कश्यप, विभाष देवगन अंकुर, गोलू, छोटू, अमु समेत नागरिक उपस्थित थे।

नगर युवा सेना ने विवेकानंद जयंती पर किया पौधरोपण

देवरी-चांपा |
नपं सारागांव में नगर युवा सेना द्वारा शनिवार को बाजार चौक के पास स्वामी विवेकानंद जयंती मनाई गई। मुख्य अतिथि रामकृष्ण पांडेय, अनिल राठौर व धनेश्वर देवांगन ने स्वामी विवेकानंद आदर्शों को जीवन में अपनाने की बात कही। बाजार चौक में नगर युवा सेना द्वारा पौधरोपण किया गया। इस अवसर पर नितेश राठौर, आकश राठौर, राज राठौर, आशीष राठौर, बल्लू राठौर, चंद्रशेखर, अभिषेक, लल्ला, प्रभात, मनीष, बबलू रितिक, शिब्बू, लालू, जोगेंद्र, युवराज, भास्कर, पिंटू, सौरभ, आदित्य, लल्लू सहित बड़ी संख्या में युवा सेना के सदस्य उपस्थित थे।

रासेयो व समाजकार्य विभाग का आयोजन

ध्यान से ही हम एकाग्रता प्राप्त कर सकते हैं: वीरेंद्र

चैतन्य कॉलेज में युवा दिवस पर विचारगोष्ठी व निबंध स्पर्धा का आयोजन

भास्कर न्यूज | पामगढ़

चैतन्य कॉलेज में स्वामी विवेकानंद के जयंती के अवसर पर रासेयो इकाई व समाजकार्य विभाग के सयुंक्त तत्वावधान में युवा दिवस पर निबंध प्रतियोगिता व विचारगोष्ठी का आयोजन किया गया। कॉलेज के संचालक वीरेंद्र तिवारी ने कहा कि पढ़ने के लिए जरूरी है एकाग्रता, एकाग्रता के लिए जरूरी है ध्यान। ध्यान से ही हम इन्द्रियों पर संयम रखकर एकाग्रता प्राप्त कर सकते हैं।

प्राचार्य डॉ. शरद के बाजपेयी ने कहा कि किसी भी देश के युवा उसका भविष्य होते हैं। उन्हीं के हाथों में देश की उन्नति की बागडोर होती है। युवाओं को हमेशा जागृत अवस्था मे रहकर अपने शक्ति का उपयोग देश हित मे करना चाहिए। सहायक प्राध्यापक पुष्कर दिनकर ने स्वामी जी के जीवन चरित्र को स्मरण करते हुए कहा कि युवाओं को संघर्ष के साथ आगे बढ़ने की आदत विकसित करना चाहिए, युवा ही राष्ट्र की शक्ति है।

राष्ट्रीय सेवा योजना कार्यक्रम अधिकारी संजय बघेल ने बताया कि आज भी स्वामी विवेकानंद जी को उनके विचारों आदर्शों के कारण जाना जाता है। आज भी वे कई युवाओं के लिए प्रेरणा के स्त्रोत बने हुए हैं। ‘देश की आशाएं युवा वर्ग पर टिकी हुई हैं। सहायक प्राध्यापक चंद्रशेखर यादव ने भी युवाओं को प्रेरक गीत के माध्यम से विचारों में शुद्धता रखने की बात कही। विद्यार्थियों ने भी अपने अपने विचार व्यक्त किया।

इस बीच निबंध प्रतियोगिता का भी आयोजन किया गया। सभी उत्कृष्ट प्रतिभागियों को पुरस्कृत किया गया। कार्यक्रम का संचालन अभिषेक पाण्डेय ने किया। कार्यक्रम में बड़ी संख्या में छात्र छात्राएं व स्टाफ मौजूद थे।

अभाविप ने मशाल रैली निकालकर मनाया राष्ट्रीय युवा दिवस

जांजगीर |
अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद जांजगीर इकाई के द्वारा स्वामी विवेकानंद जयंती राष्ट्रीय युवा दिवस के रूप में मनाया गया। कचहरी चौक जयस्तंभ से नेताजी चौक तक मशाल रैली निकाली गई। जय स्तंभ में स्वामी विवेकानंद की मूर्ति के सामने सामूहिक आरती की गई। इस मौके पर हॉकी कोच गोपेश्वर कहरा,अजीत गढ़वाल, पलाश चंदेल, अमित यादव, अमित सिंघानिया, योगेश चौरसिया, प्रमोद कटकवार, हेमंत पैगवार, सूरज यादव, नरेंद्र कश्यप, अमित राजवाड़े, केशव अग्रवाल, रामेश्वर कश्यप सहित एबीवीपी के कार्यकर्ता उपस्थित थे।

X
Champa News - chhattisgarh news to be successful learn to fight the problem pandey
Astrology

Recommended

Click to listen..