Hindi News »Chhatisgarh »Chhuikhadan» पैलीमेटा में भीड़ जुटाकर जंगल पट्‌टी में जोगी को दिखाई अपनी ताकत

पैलीमेटा में भीड़ जुटाकर जंगल पट्‌टी में जोगी को दिखाई अपनी ताकत

भास्कर न्यूज | खैरागढ़/छुईखदान कांग्रेस में हो रही उपेक्षा के कारण इस्तीफा देने वाले पूर्व सांसद देवव्रत सिंह ने...

Bhaskar News Network | Last Modified - Feb 02, 2018, 02:15 AM IST

भास्कर न्यूज | खैरागढ़/छुईखदान

कांग्रेस में हो रही उपेक्षा के कारण इस्तीफा देने वाले पूर्व सांसद देवव्रत सिंह ने गुरुवार को पूर्व मुख्यमंत्री अजीत जोगी का हाथ ही नहीं थामा, उन्हें अपनी ताकत भी दिखाई। पैलीमेटा में आसपास के गांवों से हजारों समर्थक एकत्र हुए। खैरागढ़, छुईखदान, गंडई आदि क्षेत्र से भी सैकड़ों गाड़ियों में समर्थक पहुंचे। उन्हें आश्वस्त करते हुए देवव्रत ने कहा कि जो लड़ाई जोगी जी ने शुरू कि उसे मैं भी जारी रखूंगा।

पैलीमेटा के कार्यक्रम में देवव्रत पहले से मंच पर मौजूद रहे। दोपहर तकरीबन 3 बजे जोगी का हेलीकाप्टर पहुंचा और समर्थकों ने नारेबाजी शुरू कर दी। हजारों की संख्या में आए ग्रामीणों को देख जोगी भी गदगद हुए। अपने भाषण के दौरान जैसे ही उन्होंने कहा कि मेरी तरफ से खैरागढ़ के नेता देवव्रत हैं तो ग्रामीणों ने जमकर नारे लगाए। देवव्रत ने भी कहा कि यह उनके जीवन का सबसे बड़ा दिन है। अब छत्तीसगढ़ के आदमी को दिल्ली की दौड़ नहीं लगानी पड़ेगी। सभी काम यहीं होंगे। कार्यक्रम की कमान राजेश पाल, शिरीष मिश्रा और खैरागढ़ शहर अध्यक्ष शेखर दास ने संभाली।

मंच से सुप्रीमो अजीत जोगी ने कहा मेरी तरफ से खैरागढ़ के नेता देवव्रत सिंह हैं

खैरागढ़/छुईखदान. पैलीमेटा में हुए जोगी कांग्रेस के कार्यक्रम में जुटे लोग।

क्षेत्र में नौ माह में किया दौरा, मेहनत रंग लाई

कांग्रेस छोड़ने से पहले ही देवव्रत ने इस क्षेत्र का दौरा शुरू कर दिया था। साल्हेवारा, सेतवा, देवरच्चा, परपोड़ी जैसे दर्जनों गांव में उन्होंने जनसंपर्क किया। मई 2017 से वे विभिन्न गांवों में आयोजित होने वाले सांस्कृतिक व सामाजिक कार्यक्रमों वे बतौर अतिथि शामिल हुए और लोगों की समस्याएं भी सुनी। उनकी इसी सक्रियता का परिणाम पैलीमेटा में भीड़ के रूप में सामने आया।

अब विधायक जंघेल की बढ़ेंगी मुश्किलें

जिला कोषाध्यक्ष नीलेंद्र शर्मा के साथ 14 पदाधिकारियों के इस्तीफे के बाद से ही कांग्रेस में सुगबुगाहट तेज हो गई थी। शर्मा ने विधायक गिरवर जंघेल की सक्रियता को कटघरे में खड़ा कर दिया था। अब उनके साथ गिने चुने ही कांग्रेसी रह गए हैं। इससे आगामी चुनाव में उनकी मुश्किलें बढ़ेंगी। एक तरह से उन्हें झटका दिया गया है।

मंच पर प|ी विभा और बेटी शताक्षी भी मौजूद

पैलीमेटा के कार्यक्रम में मंच देवव्रत सिंह के साथ उनकी प|ी विभा सिंह और बेटी सताक्षी भी बैठी। यूं तो सांस्कृतिक व धार्मिक कार्यक्रमों में कई बार उन्हें परिवार के साथ देखा गया है, लेकिन पहली बार राजनीतिक मंच पर वे अपनी प|ी और बेटी को भी साथ लेकर आए। इसे लेकर क्षेत्र के कार्यकर्ताओं व नागरिकों में खासा उत्साह देखने को मिला। नागरिकों ने इसकी सराहना भी की।

तीन कांग्रेसी पार्षदों ने थामा जोगी का दामन

वैसे तो छुईखदान नगर पंचायत में भाजपा की बहुमत हे। लेकिन कांग्रेस के मौजूदा पांच पार्षदों में से तीन पार्षद ममता चंद्राकर, घनाराम देवांगन और सुखी पाल ने जोगी कांग्रेस का दामन थाम लिया। इस दौरान नगर के संजीव दुबे, हेमंत वैष्णव, सज्जाक खान, सुदीप श्रीवास्तव, कैलाश शर्मा, अमृत जंघेल, लालु महोबिया, गंडई से विनोद ताम्रकार व लगभग हजारों कार्यकर्ता जोगी कांग्रेस में प्रवेश किए।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Chhuikhadan

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×