दल्लीराजहारा

--Advertisement--

ब्रिज बनाने रेलमंत्री ने निदेशालय को भेजा पत्र

पाररास रेलवे क्रॅासिंग में यातायात के बढ़ते दबाव को कम करने ओवरब्रिज बनाने की मांग लोग कई सालों से कर रहे हैं। इसके...

Dainik Bhaskar

Mar 01, 2018, 02:35 AM IST
ब्रिज बनाने रेलमंत्री ने निदेशालय को भेजा पत्र
पाररास रेलवे क्रॅासिंग में यातायात के बढ़ते दबाव को कम करने ओवरब्रिज बनाने की मांग लोग कई सालों से कर रहे हैं। इसके लिए अफसरों ने हमेशा आश्वासन दिया लेकिन जमीनी हकीकत में कुछ नहीं दिखा। अब बालोद-राजनांदगांव मुख्य मार्ग पाररास रेलवे क्रासिंग पर अंडरब्रिज बनाने खुद केन्द्र शासन के रेलमंत्री पीयूष गोयल ने विभागीय कार्रवाई शुरू कर दी है। राज्यसभा सांसद मोतीलाल वोरा व संजारी बालोद विधायक भैयाराम सिन्हा ने मुख्यमंत्री को पत्र भेजा है।

विधायक का कहना है कि रोजाना 36 बार ट्रेन आना-जाना कर रही है। क्रासिंग में ओवरब्रिज बने, यह लोगों की बहुप्रतीक्षित मांग है। ताकि रोजाना क्राॅसिंग में ट्रेन गुजरने के दौरान जाम की स्थिति न बने। सिन्हा का कहना है कि वर्ष 2014 में ओवरब्रिज को लेकर पत्र भेजा था। इसके बाद कई बार अपने माध्यम से यह मांग रखी लेकिन हुआ कुछ नहीं। इस बार सुनवाई हुई। केंद्र सरकार नई दिल्ली की ओर से रेल और कोयला मंत्री पीयूष गोयल ने पत्र के माध्यम से संजारी बालोद विधायक भैयाराम को इस संबंध में जानकारी दी। पत्र में रेलमंत्री ने उल्लेख किया है कि आपका 31 जनवरी का पत्र प्राप्त हुआ है। जो बालोद (पाररास) रेलवे क्रासिंग पर ओवरब्रिज निर्माण किए जाने से संबंधित है। पत्र नियमानुसार विचारार्थ और आवश्यक कार्रवाई के लिए संबंधित निदेशालय को भेज दिया गया है।

बालोद. पाररास रेलवे क्राॅसिंग में ट्रेन गुजरने के दौरान जाम लग जाता है।

रोज 36 बार गुजर रही ट्रेन क्राॅसिंग पर लगता है जाम

राज्यसभा सांसद वोरा ने अपने पत्र में उल्लेख किया है कि दक्षिण पूर्व रेलवे बिलासपुर जोन के अंतर्गत दल्लीराजहरा से दुर्ग, रायपुर तक रेल चलती है। बालोद-राजनांदगांव मुख्य मार्ग पर पाररास के पास रेलवे क्रासिंग है। जिला मुख्यालय का मार्ग होने के कारण इस मार्ग पर वाहनों के आवागमन का ज्यादा दबाव रहता है। राजनांदगांव एवं डौंडीलोहारा की ओर से आने वाले वाहन इसी रेलवे क्रासिंग को पार कर बालोद, दुर्ग एवं धमतरी की ओर जाते है। इसी प्रकार बालोद, धमतरी के वाहन राजनांदगांव की ओर जाते हैं। इस रेलवे लाइन से रोजाना 36 बार मालगाड़ी एवं यात्री गाड़ी (मालगाड़ी 15-15 बार और यात्री गाड़ी 3-3 बार आना जाना करती है।

X
ब्रिज बनाने रेलमंत्री ने निदेशालय को भेजा पत्र
Click to listen..