Hindi News »Chhatisgarh »Dallirajhara» सेल लाभ की स्थिति में होने के बाद भी श्रमिकों को वेतन व पेंशन देने में कर रहा आनाकानी: कंवलजीत

सेल लाभ की स्थिति में होने के बाद भी श्रमिकों को वेतन व पेंशन देने में कर रहा आनाकानी: कंवलजीत

एटक के आह्वान पर सरकार के मजदूर, किसान, श्रम विरोधी कानूनों के खिलाफ एसकेएसमएस व सीएमएसएस यूनियनों ने संयुक्त रूप...

Bhaskar News Network | Last Modified - Aug 10, 2018, 02:30 AM IST

सेल लाभ की स्थिति में होने के बाद भी श्रमिकों को वेतन व पेंशन देने में कर रहा आनाकानी: कंवलजीत
एटक के आह्वान पर सरकार के मजदूर, किसान, श्रम विरोधी कानूनों के खिलाफ एसकेएसमएस व सीएमएसएस यूनियनों ने संयुक्त रूप माइंस आफिस गेट के सामने धरना प्रदर्शन कर विरोध दिवस मनाया।

एसकेएमएस अध्यक्ष कंवलजीत सिंह मान ने कहा कि वर्तमान में इस्पात उद्योग की सबसे बड़ी कंपनी सेल में नियमित कर्मचारियों व ठेका कर्मचारियों की विभिन्न समस्या है। जिसका निराकरण नहीं होने से कर्मचारी में रोष है। आज जबकि सेल में कार्यरत नियमित एवं ठेका श्रमिकों की कड़ी मेहनत से सेल लाभ की स्थिति में आ चुका है। ऐसे समय में सरकार व सेल प्रबंधन द्वारा लंबित वेतन समझौता व पेंशन जैसे मुद्दों पर आनाकानी की जा रही है। वहीं ठेका श्रमिकों के वेतन व अन्य सुविधाओं पर भी प्रबंधन का रूख नाकारात्मक है। इसलिए आल इंडिया ट्रेड यूनियन कांग्रेस एटक के आह्वान पर पूरे सेल में विरोध दिवस मना रहा है। सीएमएसएस अध्यक्ष गणेशराम चौधरी ने मजदूरों के 16 सूत्रीय मांगों का समर्थन करते हुए कहा कि सेल के नियमित कर्मचारियों का जनवरी 2017 से लंबित वेतन समझौता को जल्द पूरा किया जाए। सभा को एसकेएमएस सचिव राजेन्द्र बेहरा, संगठन सचिव तोरण साहू, कार्यालय सचिव गौतम बेरा, कोषाध्यक्ष आरपी बरेठ, उपाध्यक्ष मुकुल वर्मा ने भी संबोधित किया। पवन गंगबोईर, चंद्रशेखर, कमलाकर सिंह, मनोज परेरा, अशोक शर्मा, कांताराव, अरबी सिंह, रमेश आदि मौजूद रहे।

दल्लीराजहरा. माइंस आॅफिस गेट के सामने प्रदर्शन करते श्रमिक संघ।

श्रमिकों की सुविधा के लिए मेडिकल कार्ड बनाया जाए

समान काम के लिए समान वेतन को तत्काल लागू की जाए। इंसेंटीव स्कीम में सुधार, ठेका मजदूरों के लिए हाजरी कार्ड, मेडिकल कार्ड, परिचय पत्र, पीएफ ग्रेच्यूटी, खदानों में शुद्ध पानी के लिए वाटर फिल्ट्रेशन प्लांट, मजदूरों के लिए सुरक्षा उपकरण, ट्यूशन फीस सौ प्रतिशत वापस की जाए।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Dallirajhara

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×