कलेक्टर ने चेताया- अस्पताल में नहीं मिले तो चेतावनी नहीं दी जाएगी, सीधे बर्खास्तगी

Dhamtari News - सरकारी अस्पतालों में स्वास्थ्य सुविधाएं बेहतर करने के लिए गुरुवार को कलेक्टोरेट में जिला स्वास्थ्य समिति की...

Bhaskar News Network

Jun 14, 2019, 06:50 AM IST
Dhamtari News - chhattisgarh news collector warns warnings will not be given if not found in hospital direct dismissal
सरकारी अस्पतालों में स्वास्थ्य सुविधाएं बेहतर करने के लिए गुरुवार को कलेक्टोरेट में जिला स्वास्थ्य समिति की बैठक हुई। कलेक्टर रजत बंसल ने कामचाेरी करने वाले कर्मचारियों की हिदायत दी कि यदि वे कार्यस्थल पर नहीं रहे तो सेवा से बर्खास्तगी की कार्रवाई की जाएगी। विभागीय जांच कर सेवा समाप्ति होगी। जिले के उप स्वास्थ्य केंद्रों में पदस्थ एएनएम, आरएचओ को मुख्यालय में रहना होगा और इसके लिए उन्हें प्रमाण पत्र भी देना पड़ेगा।

पहले जांच में धमतरी ब्लॅाक के 14, कुरूद के 23, मगरलोड के 6 तथा नगरी ब्लाक के 3 उप स्वास्थ्य केन्द्रों में एएनएम, आरएचओ के निवास में नहीं रहना पाया गया था। कलेक्टर ने विभागीय जांच के निर्देश दिए हैं। बताया गया कि मुख्यालय में नहीं रहने पर आसपास के 5 किमी के दायरे में रह सकते हैं। आदेश के बावजूद 46 से अधिक एएनएम एवं आरएचओ इसका पालन नहीं कर रहे हैं। इसकी मॉनिटरिंग कलेक्टर कर रहे हंै। मुख्यालय में नहीं रहने वालों के खिलाफ आगे आवश्यक कार्रवाई करने की जानकारी भी दी गई। कलेक्टर ने जीवनदीप समिति की समीक्षा करते हुए अस्पताल कंसल्टेंट को देरी से निविदा जारी पर नाराजगी व्यक्त करते हुए कारण बताओ नोटिस जारी करने के निर्देश दिए।

कलेक्टोरेट में जिला स्वास्थ्य समिति की बैठक लेते हुए कलेक्टर।

गुमटी, होटलों के चिकन, मटन की होगी जांच

शराब दुकानों के पास गुमटी व होटलों पर परोसे जाने वाले चिकन, मटन की जांच आबकारी विभाग, अनुविभागीय अधिकारी राजस्व, तहसीलदार, थाना प्रभारी नगरीय निकाय के साथ संयुक्त टीम बनाकर खाद्य एवं औषधि प्रशासन को कार्रवाई करने का निर्देश दिया गया। कलेक्टर ने दिए गए निर्देशों का पालन समय सीमा में करने और अधिकारी-कर्मचारियों को अपने मोबाइल हमेशा चालू रखने कहा गया। इसके अलावा उन्होंने निर्धारित कार्यों को गुणवत्तापूर्ण करने के निर्देश भी दिए हैं।

69 हेल्थ वेलनेस सेंटर बनाए गए

मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डाॅ. डीके तुर्रे ने बताया कि जिले में 69 स्वास्थ्य केन्द्रों में हेल्थ वैलनेस सेंटर स्थापित किए गए हैं, जिनमें लक्षित स्क्रीनिंग के विरूद्ध 34 हजार 584 का परीक्षण किया गया है। ओरल कैंसर के 62, ब्रेस्ट कैंसर के 48, सरवाइकल कैंसर के 344, डायबिटीज के 700 और हायपर टेंशन के 3 हजार 709 प्रकरणों का चिह्नांकित किया गया है। जिसे कुछ स्वास्थ्य केन्द्रों में जांच, उपचार के लिए भेजा जाएगा। पोषण पुनर्वास केन्द्र में बेड दरों में बढ़ोत्तरी के लिए पंचायत स्तर पर विशेष प्रयास करने के निर्देश दिए हैं।

सरकारी फ्रीज का निजी उपयोग किया, बीएमओ व बीपीएम को नोटिस देकर मांगा जाएगा जवाब

कुरूद के विद्युत बोर्ड कार्यालय के फ्रीज का उपयोग घर में किया जा रहा था। इस मामले को लेकर कलेक्टर ने बीएमओ और बीपीएम को कारण बताओ नोटिस जारी करने के निर्देश दिए। जिला अस्पताल में सोनोग्राफी मशीन की जांच के लिए 250 रुपए शुल्क रखने पर सहमति बनी। नगरी, मगरलोड में सी-सेक्शन (सीजर) स्थापित करने के निर्देश दिए। लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग को निर्देशित करते हुए कहा कि बचे हुए तीन स्वास्थ्य केन्द्रों में पानी के बोरवेल व नलजल योजना के तहत व्यवस्था की जाए। 14 से 28 जून तक कुष्ठ उन्मूलन कार्यक्रम चलाया जाएगा, जिसके तहत 2 अक्टूबर तक धमतरी को कुष्ठमुक्त जिला बनाने प्रयास किए जाएंगे। इसके लिए स्लम क्षेत्रों में डोर-टू-डोर सर्वे भी कराया जाएगा।

X
Dhamtari News - chhattisgarh news collector warns warnings will not be given if not found in hospital direct dismissal
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना