किराए के जूते पहनकर इंटरनेशनल खेलेगी गीतांजलि

Dhamtari News - ताइक्वांडो (मार्शल आर्ट) खेल में टेक्नोलॉजी आ गई है। यह टेक्नॉलॉजी खिलाड़ियों के लिए मुश्किल भी खड़ी कर रही है। ...

Bhaskar News Network

Jun 14, 2019, 06:50 AM IST
Dhamtari News - chhattisgarh news gitanjali will play internationally by wearing rented shoes
ताइक्वांडो (मार्शल आर्ट) खेल में टेक्नोलॉजी आ गई है। यह टेक्नॉलॉजी खिलाड़ियों के लिए मुश्किल भी खड़ी कर रही है।

संबलपुर गांव की गीतांजलि साहू को ऐसी ही समस्या आई है। इनका चयन सेकंड इंडिया ओपन इंटरनेशनल चैम्पियनशिप में हुआ है। वह जी-वन रैंकिंग के लिए खेलेंगी। गीतांजलि के पास सेंसर लगा जूता नहीं है। बाजार में इस सेंसर युक्त जूते की कीमत 7 हजार रुपए है। गीतांजलि अब कोरिया, अफगानिस्तान के मार्शल आर्ट खिलाड़ियों को किराए से जूता लेकर टक्कर देगी। कोच ओमकार पटेल ने बताया कि गीतांजलि के पिता ड्राइवर हैं। वह कोचिंग कर रही है। अब इंटरनेशनल में जी वन रैंक में उसका चयन सफलता की सीढ़ी है।

सेंसर युक्त जूता अनिवार्य: तेलंगाना में 15 जून से होने वाले टूर्नामेंट में इस साल से सेंसर युक्त जूता अनिवार्य किया गया है। खिलाड़ी को स्वयं जूतों की व्यवस्था करनी है। इसका रेट मार्केट में काफी ज्यादा है। इसलिए गीतांजलि 1200 रुपए में यह जूता किराए पर लेगी और टूर्नामेंट में उतरेगी। 14 जून को वजन होने के बाद 15 जून से टूर्नामेंट शुरू होगा। यहां अफगानिस्तान, कोरिया सहित अन्य देशों के माहिर खिलाड़ी भाग लेते हैं। जूतों के साथ चेस्ट, हेड गार्ड में सेंसर लगा रहता है।

दिल्ली में हुई स्पर्धा में गीतांजलि (बीच में) ने ब्रांज मेडल जीता।

इसलिए ब्रांज मेडल से संतुष्ट होना पड़ा

5 से 8 जून तक दिल्ली में इंडिया इंटरनेशनल कुकिवन ताइक्वांडो स्पर्धा हुई थी। इसमें जिले के 4 खिलाड़ियों का चयन हुआ था। गीतांजलि साहू और भाविका साहू को ब्रांज मेडल से ही संतोष करना पड़ा। इसके अलावा गीतांजलि 7 से 12 जून तक इंदिरा गांधी स्टेडियम में आयोजित एक्बसटर कप में भी खेली। यहां भी गीतांजलि को ब्रांज मेडल मिला।

वर्ल्ड योग चैम्पियनशिप में चयन, चाहिए 1.60 लाख

शहर के मकेश्वर वार्ड में रहने वाली दामिनी साहू का चयन यूरोप के बुलगरिया में आयोजित चौथे वर्ल्ड योग चैम्पियनशिप 2019 के लिए हुआ है। महीनेभर पहले दामिनी काे चयन होने की जानकारी मिली, लेकिन इस चैम्पियनशिप में शामिल होने के लिए 1.60 लाख रुपए की जरूरत है। आर्थिक रूप से कमजोर होने के कारण दामिनी लोगों से सहयोग मांग रही है। एक लाख रुपए राज्य सरकार से 20 हजार रुपए दानदाताओं से मिले हैं। अब भी 40 हजार की जरूरत है। दामिनी ने बताया कि बड़ी मुश्किल से 1.20 लाख रुपए की व्यवस्था हुई है। इसमें 25 देशों के योग खिलाड़ी भाग लेंगे। भारत से कुल 18 खिलाड़ियों का चयन हुआ है।

X
Dhamtari News - chhattisgarh news gitanjali will play internationally by wearing rented shoes
COMMENT