--Advertisement--

किसान अपनी आय दोगुनी करने के लिए अपनाएं जैविक खेती

ग्राम स्वराज अभियान-2018 के तहत ग्राम बंजारी में कृषक कल्याण कार्यशाला का आयोजन बुधवार को हुआ, जिसमें अफसरों ने...

Danik Bhaskar | May 03, 2018, 02:30 AM IST
ग्राम स्वराज अभियान-2018 के तहत ग्राम बंजारी में कृषक कल्याण कार्यशाला का आयोजन बुधवार को हुआ, जिसमें अफसरों ने किसानों को आय दोगुनी करने जैविक खेती अपनाने की बात कही। इस मौके पर उन्नत नस्ल के पशुओं और चारे की प्रदर्शनी भी लगाई गई थी। भारत शासन की 8 फ्लैगशिप योजनाओं के क्रियान्वयन की जमीनी हकीकत जानने रक्षा मंत्रालय के उप सचिव अनुराग रोहतगी, पेट्रोलियम एवं प्राकृतिक गैस मंत्रालय के अवर सचिव वी तिर्की भी कार्यशाला में पहुंचकर ग्रामीणों से रूबरू हुए।

कार्यशाला में उप सचिव रोहतगी ने ग्राम स्वराज अभियान के तहत 14 अप्रैल से अब तक के लक्ष्य की प्राप्ति के लिए विभागों द्वारा किए गए कार्यों की जानकारी ग्रामीणों से ली। कलेक्टर डॉ. प्रसन्ना ने ग्रामीणों से कहा कि मृदा स्वास्थ्य परीक्षण कार्ड का उपयोग विभाग के अधिकारियों से सलाह लेकर करें, साथ ही मिट्टी की प्रकृति के अनुरूप जैविक खेती और फसल-चक्र परिवर्तन अपनाएं। उद्यानिकी फसलों को बढ़ावा दें, पशु नस्ल सुधार करें तथा मछलीपालन से आय का नया जरिया बनाएं। कार्यशाला में कृषि, उद्यानिकी, पशुपालन और मछलीपालन विभाग के अधिकारियों ने शासन की योजनाओं की जानकारी देकर लाभ उठाने की प्रक्रिया बताई। इस अवसर पर जपं अध्यक्ष पूर्णिमा साहू, जिपं सदस्य देवकी रात्रे समेत बड़ी संख्या में पंचायत प्रतिनिधि व किसान भी मौजूद थे।

ग्राम स्वराज अभियान

बंजारी में हुई कृषक कल्याण कार्यशाला में अफसरों ने दिए टिप्स, केंद्रीय उपसचिव ने 8 फ्लैगशिप योजनाओं के क्रियान्वयन की हकीकत को जाना

उन्नत नस्ल के पशुओं की लगाई प्रदर्शनी

पशुधन विकास विभाग द्वारा लगाए गए पशु मेले में जिले के प्रगतिशील पशुपालकों द्वारा उन्नत नस्ल की गायों का प्रदर्शन किया गया। इनमें साहीवाल, गीर, एचएफ क्रॉस, ग्रेडेड जर्सी गाय सहित अन्य उन्नत नस्ल की गाय, बछड़े व बकरियां शामिल थे। इसके अलावा अजोला चारा, बत्तख व नैपियर घास का प्रदर्शन भी मेले में किया गया। केंद्रीय उप सचिव रोहतगी, अवर सचिव तिर्की और कलेक्टर डॉ. प्रसन्ना ने भी मेले का जायजा लिया।

पशुधन विकास विभाग द्वारा लगाए गए उन्नत नस्ल के पशु मेले का जायजा लेते अधिकारी।