• Home
  • Chhattisgarh News
  • Dhamtari News
  • पेट्रोल-डीजल की खपत कम करने में मानव समाज की भलाई, जागरुक करने निकले फ्रेंच दंपत्ति
--Advertisement--

पेट्रोल-डीजल की खपत कम करने में मानव समाज की भलाई, जागरुक करने निकले फ्रेंच दंपत्ति

देशभर में बढ़ती पेट्रोल-डीजल की खपत और विश्व शांति के लिए फ्रांस दंपती ढाई साल से देश भ्रमण पर हैं। बीते 6 माह से...

Danik Bhaskar | Jul 14, 2018, 02:30 AM IST
देशभर में बढ़ती पेट्रोल-डीजल की खपत और विश्व शांति के लिए फ्रांस दंपती ढाई साल से देश भ्रमण पर हैं। बीते 6 माह से साइकिल में भारत भ्रमण कर रहे है। शुक्रवार को 16 हजार किमी सफर कर दोनों धमतरी शहर आए। इनका शहर में कई लोगों ने स्वागत किया। दोपहर 2 बजे कलेक्टोरेट गए। यहां कलेक्टर डॉ. सीआर प्रसन्ना, जिपं सीईओ रितेश अग्रवाल ने उनका पुष्प गुच्छ देकर जिलेवासियों की ओर से स्वागत किया। लगभग 15 मिनट दोनों ने कलेक्टर से चर्चा कर भारत भ्रमण करने मकसद बताया।

फ्रांस निवासी मोटर मैकेनिकल जेवियर अपनी प|ी केमी के साथ रायपुर से विशाखापट्नम जाते समय धमतरी शहर में घंटेभर रुके। उन्होंने बताया कि देशभर में पेट्रोल-डीजल की खपत तेजी से बढ़ रही है। सांस लेने के लिए शुद्ध हवा भी नहीं मिलेगी। इसलिए उन्होंने सोचा कि क्यों न लोगों में पेट्रोल-डीजल की बढ़ती खपत को कम करने के लिए लोगों में जागरुकता लाई जाए। इस भावना को लेकर फरवरी 2018 में नेपाल से होकर भारत आए।

फ्रांसवासियों ने साइकिल को दिया बढ़ावा: उन्होंने बताया कि पेट्रोलियम पदार्थों की लगातार कमी हो रही है। रेट में इजाफा भी हो रहा है। पेट्रोल डीजल से प्रदूषण बढ़ता है। इस वजह से फ्रांस वासियों ने साइकिल अपनाना शुरु कर दिया है। लगभग 60 प्रतिशत लोग साइकिल का उपयोग करते हैं। फ्रांस से ढाई साल पहले जेवियर और उसकी प|ी केमी साइकिल से रुस पहुंचे। यहां से मंगोलिया, चीन से नेपाल, फिर भारत आए हैं।

धमतरी। फ्रांस से आए दंपती रायपुर से विशाखापट्नम जाते समय कुछ देर के लिए धमतरी शहर में रुके और कलेक्टोरेट पहुंचकर कलेक्टर से मुलाकात की।

गंगरेल गोवा जैसा लगा

कलेक्टर ने मुलाकात के बाद फ्रेंच दंपति को गंगरेल भ्रमण के लिए भेजा। जहां दोनों ने करीब एक घंटे से अधिक समय बताया। उन्होंने गंगरेल को गोवा जैसा नजारा बताया।