• Home
  • Chhattisgarh News
  • Dhamtari News
  • स्वस्थ होने के बाद प्रभु लौटे गर्भगृह में 56 भाेग लगाने के बाद आज रथयात्रा
--Advertisement--

स्वस्थ होने के बाद प्रभु लौटे गर्भगृह में 56 भाेग लगाने के बाद आज रथयात्रा

स्वस्थ होने के बाद महाप्रभु जगन्नाथ शुक्रवार को गर्भगृह में लौट आए। पं. बालकृष्ण शर्मा ने सुबह 12 बजे भगवान जगन्नाथ,...

Danik Bhaskar | Jul 14, 2018, 02:30 AM IST
स्वस्थ होने के बाद महाप्रभु जगन्नाथ शुक्रवार को गर्भगृह में लौट आए। पं. बालकृष्ण शर्मा ने सुबह 12 बजे भगवान जगन्नाथ, भाई बलभद्र और बहन सुभद्रा की विधि-विधान के साथ मंत्रोच्चार के बीच प्राण-प्रतिष्ठा कराई। इसके बाद हवन-पूजन हुआ। इसमें श्रद्धालुओं ने बड़ी संख्या में शामिल होकर हवन किया। पूजा के मुख्य जजमान जगदीश मंदिर ट्रस्ट के अध्यक्ष अजय अग्रवाल थे।

शनिवार सुबह 5 बजे जगन्नाथ मंदिर के पट खुलेंगे। दोपहर 1 बजे 56 भोग लगाने के बाद प्रभु की प्रतिमा को रथ पर विराजित किया जाएगा। इसके बाद ननिहाल (राष्ट्रीय गौशाला) जाने के लिए यात्रा शुरू होगी। रथयात्रा के उपलक्ष्य में सुबह से श्रद्धालुओं का तांता दर्शन के लिए लग जाएगा। रथयात्रा मठ मंदिर से चमेली चौक, सदर बाजार, इतवारी बाजार, रामबाग होते हुए गौशाला मैदान स्थित जनकपुर धाम पहुंचेगी। यात्रा के दौरान रथ को चारों ओर से पुलिस के जवान घेरकर चलेंगे। चैन स्नेचिंग, जेब काटने वाले व अन्य असमाजिक तत्वों पर पर सीसीटीवी कैमरे से नजर रखी जाएगी।

11 घंटे तक सदर में नहीं आ सकेंगे वाहन: ट्रैफिक प्रभारी रेवती वर्मा ने बताया कि रथयात्रा के कारण शनिवार सुबह 8 बजे से शाम 7 बजे तक चार पहिया, तीन पहिया वाहनों को सदर बाजार में प्रवेश नहीं दिया जाएगा। मकई चौक, बालक चौक, गोलबाजार, मठ मंदिर, चमेली चौक, कचहरी चौक, नूतन स्कूल मार्ग में शुक्रवार देर-शाम को स्टापर लगा दिए गए। भीड़ को देखते हुए मोटर साइकिल वालों को भी सदर में प्रवेश करने से रोका जाएगा। पार्किंग के लिए गांधी चौक, एकलव्य खेल परिसर, मकई गार्डन परिसर को चिन्हित किया गया है। ट्रैफिक कर्मचारी-अधिकारियों की ड्यूटी सुबह 7.30 बजे से सदर में लगा दी जाएगी। इस रुट पर आने वाले वाहनों को डायवर्ट कर दिया जाएगा।

धमतरी। जगदीश मंदिर में दोपहर 12 बजे मंत्रोच्चार के साथ भगवान जगन्नाथ की प्राण-प्रतिष्ठा हुई।

250 जवान और अधिकारियों की रहेगी ड्यूटी

एसपी रजनेश सिंह ने बताया कि रथयात्रा के दौरान सुरक्षा के मद्देनजर शहर में ढाई सौ पुलिस जवानों और अधिकारियों की ड्यूटी लगाई जाएगी। असामाजिक तत्वों पर नजर रखने भीड़ में सादी वर्दी में भी पुलिस जवान तैनात रहेंगे। गिरफ्तारी पार्टी भी अलग से बनाई गई है, जो हुड़दंगियों के खिलाफ शांति भंग होने की संभावना पर तत्काल एक्शन लेगी। सुरक्षा व्यवस्था को लेकर सभी थाने के टीआई को निर्देश दिए गए हैं।

11 क्विंटल प्रसाद बंटेगा

जगदीश मंदिर ट्रस्ट इस साल शहर में रथयात्रा का शताब्दी समारोह मना रहा है। इस अवसर पर श्रद्धालुओं को प्रसाद के रूप में बांटने के लिए 11 क्विंटल गजा-मूंग की व्यवस्था की गई है। शहर के अलावा हर साल आसपास के 50 से अधिक गांवों के श्रद्धालु प्रभु के दर्शन करने रथयात्रा के दिन आते हैं।