--Advertisement--

‘कमाल की पढ़ाई’ से 71%बच्चे सीख चुके कहानी

63 फीसदी बच्चे जान चुके गुणा-भाग करना भास्कर न्यूज | धमतरी शिक्षा गुणवत्ता अभियान के तहत शिक्षकों द्वारा बीते...

Dainik Bhaskar

May 03, 2018, 02:35 AM IST
63 फीसदी बच्चे जान चुके गुणा-भाग करना

भास्कर न्यूज | धमतरी

शिक्षा गुणवत्ता अभियान के तहत शिक्षकों द्वारा बीते मार्च माह में जिले के सभी प्रायमरी स्कूलों में बच्चों की जांच की गई। इसकी रिपोर्ट के अनुसार जिले के 71 फीसदी बच्चे अब कहानी पढ़ना जानते हैं और 63 फीसदी बच्चे भाग का सवाल हल कर लेते हैं। जिले के 880 प्राथमिक शालाओं में प्रथम एजुकेशन फाउंडेशन एवं जिला प्रशासन द्वारा संयुक्त रूप से शिक्षा गुणवत्ता अभियान जून 2015-16 से शुरू किया गया है। इसके तहत सत्र 2017-18 के अक्टूबर माह में जिले के 880 स्कूलों की बेसलाइन जांच शिक्षकों द्वारा की गई, जिसमें कहानी पढ़ने में 45 फीसदी और भाग का सवाल हल करने में 34 फीसदी बच्चे बेसलाइन में मिले थे।

इसके बाद शिक्षकाें द्वारा बच्चों को उनके स्तर के अनुसार 2 घंटे तक कमाल विधि से अध्यापन कराया गया। इन बच्चों की प्रगति जानने बीते जनवरी माह में चयनित 100 स्कूलों की जांच की गई, जिसमें 10 से 12 फीसदी बच्चों के स्तर में प्रगति देखने को मिली। इस प्रगति को और बढ़ाने के जिला प्रशासन एवं संस्था द्वारा संकुल समन्वयकों की जिला स्तरीय बैठक आयोजित कर आगे की कार्ययोजना तैयार की गई। बीते मार्च माह में की गई जांच में इसके बेहतर परिणाम नजर आए।

प्राइमरी व मिडिल स्कूलों में भी 3 साल तक होगा काम

राजीव गांधी शिक्षा मिशन के समन्वयक विपिन देशमुख एवं प्रथम संस्था के जिला समन्वयक तिजेश सिन्हा ने बताया कि संस्था जिला प्रशासन के सहयोग से जिले में आने वाले तीन वर्षों तक प्राथमिक एवं माध्यमिक शालाओं में शिक्षा गुणवत्ता बढ़ाने के लिए काम करती रहेगी।

X
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..