• Hindi News
  • Chhatisgarh
  • Dhamtari
  • 70 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से आंधी अलसुबह बूंदाबांदी के साथ गिरे ओले
--Advertisement--

70 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से आंधी अलसुबह बूंदाबांदी के साथ गिरे ओले

Dhamtari News - अंचल में अचानक आ रही तेज आंधी एवं बारिश से आम जनजीवन अस्त-व्यस्त हो रहा है। कुछ दिनों से लगातार दोपहर तक तेज धूप एवं...

Dainik Bhaskar

May 03, 2018, 02:35 AM IST
70 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से आंधी अलसुबह बूंदाबांदी के साथ गिरे ओले
अंचल में अचानक आ रही तेज आंधी एवं बारिश से आम जनजीवन अस्त-व्यस्त हो रहा है। कुछ दिनों से लगातार दोपहर तक तेज धूप एवं गर्मी का सामना करना पड़ रहा है, वहीं शाम होते ही तेज आंधी के साथ बारिश हो रही है।

मंगलवार को आधी रात शहर समेत जिले में 70 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से आंधी चली और अलसुबह 5 बजे से बूंदाबांदी के साथ कहीं-कहीं ओले भी गिरे। कई जगह पेड़ और हाेर्डिंग उखड़ गए। आंधी से आम समेत अन्य फसलों को भी नुकसान हो रहा है। 2 मई को सूरज दिनभर कहर बरपाता रहा, जिससे दोपहर का अधिकतम तापमान 42 डिग्री तक पहुंच गया। ऐसे में लोग गर्मी और उमस से बेहाल रहे।

नगरी. आधी रात को आई अांधी से सिहावा थाना क्षेत्र के ग्राम रानीगांव में प्रेमलाल के घर में विशालकाय नीम का पेड़ गिर गया।

ओले से फल-फूल वाली फसलों को होगा नुकसान

कृषि विज्ञान केन्द्र के वैज्ञानिक शक्ति वर्मा ने बताया कि जिले में पिछले कुछ दिनों से अचानक हो रही बारिश व ओले गिरने से जिन फसलों में फल व फूल आ रहे हैं, उन्हें नुकसान होगा। जो फसल अभी बोई गई है और जो प्राइमरी स्टेज में है, उन्हें कोई नुकसान नहीं होगा। वर्तमान में पक रही धान की फसल, आम, मक्के की फसल को ओले से नुकसान हो सकता है। तेंदूपत्ता उत्पादन भी इससे प्रभावित होगा।

24 घंटे बाद साफ होगा मौसम : उमेश पांंडेय

लालपुर रायपुर के मौसम वैज्ञानिक उमेश पांडेय ने बताया कि ओडिशा में बने चक्रवात का प्रभाव प्रदेश में है। कई जिलों में इसका असर दिख रहा है। गर्मी में अचानक बारिश को विंड डिसकनेक्टिविटी कहते हैं, जिसमें अचानक मौसम में बदलाव आ जाता है और बारिश होती है। अगले 24 घंटे तक यह स्थिति बनी रहेगी। इसके बाद चक्रवात कमजोर पड़ने पर मौसम साफ होगा।

नगरी में पेड़ गिरे, मगरलोड में झमाझम बारिश

मंगलवार की रात सिहावा थाना क्षेत्र के ग्राम रानीगांव में प्रेमलाल साहू के घर विशालकाय नीम का पेड़ गिर गया। हालांकि इस हादसे में उसका परिवार बाल-बाल बचा, लेकिन घर क्षतिग्रस्त हो गया। मगरलोड ब्लाक में भी शाम 7 बजे 15 मिनट तक झमाझम बारिश हुई, जिससे सड़कें पानी में डूब गई।

X
70 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से आंधी अलसुबह बूंदाबांदी के साथ गिरे ओले
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..