--Advertisement--

Video: सालों से दूषित पानी पीने को मजबूर हैं ये ग्रामीण

हैंडपंप या बोर से निकलते है लाल रंग का दूषित पानी

Dainik Bhaskar

Dec 08, 2018, 07:57 PM IST

धमतरी(छत्तीसगढ़)। नगरी ब्लॉक के अंतर्गत आने वाले कई गांवों में पीने का साफ पानी नहीं आने से लोग परेशान हैं। लोग गंदे पानी को पीने के लिए मजबूर हैं। मामला नाथूकोना गांव का है, जहां हैंडपंप से निकलने वाला पानी बेहद दूषित है।

गांव के पानी में आयरन जरूरत से ज्यादा है। जिसके कारण जमीन से निकलने वाला पानी का रंग भी लाल दिखाई देता है। ये पानी लाल होने के साथ-साथ आयरन के छोटे छोटे दानों में पाइपलाईन के अंदर जाता है। जिससे हैंडपंप के जरिए गावं के लोग पानी का उपयोग करते हैं। जिसका स्पष्ट उदाहरण गांव के पानी में देखा जा सकता है।

साल भर से इस गंदे पानी का सेवन कर रहे ग्रामीणों को डायरिया, बच्चों को तरह तरह की पेट की बिमारियां हो रही है। बताया जा रहा है पूरे जिले में दूषित पानी की वजह से अब तक 100 से भी ज्यादा लोग अस्पताल में भर्ती हो चुके हैं।

पंचायत को कई बार आवेदन देने के बाद भी पानी का मोटर ठीक नहीं हुआ। गांव के सरपंच से पानी की मोटर के बारे में पूछा गया तो उन्होंने जबाब में कहा- पंचायत में पैसे की कमी के चलते साल भर से ये काम नहीं हो पाया है। लेकिन इसबार जिला केलेक्टर ने मामले की गंभीरता को देखते हुए ग्रामीणों को तुरंत ही पानी की मोटर ठीक कराने का आश्वासन दिया है।

X
Bhaskar Whatsapp

Recommended