--Advertisement--

हथकरघा में 365 दिन घर बैठे मिलता है रोजगार

मदर टेरेसा बुनकर समिति पेंडरवानी के तत्वावधान में साेमवार से ग्राम ठेमाबुजुर्ग में नवीन बुनाई प्रशिक्षण केंद्र...

Danik Bhaskar | Mar 01, 2018, 02:40 AM IST
मदर टेरेसा बुनकर समिति पेंडरवानी के तत्वावधान में साेमवार से ग्राम ठेमाबुजुर्ग में नवीन बुनाई प्रशिक्षण केंद्र शुरू हुआ। जहां 20 महिलाओं को चार माह तक ट्रेनिंग के साथ स्कालरशिप भी दी जाएगी।

जिला सहकारी संघ के अध्यक्ष झुनमुन गुप्ता ने कहा कि हथकरघा रोजगार का अच्छा जरिया बन गया है। इसे महिलाएं अपने घर और बच्चों का काम निपटाने के बाद बैठकर कर सकती है। हथकरघा का काम प्रदेश के 20 जिले में चल रहा है। जिसमें जिला टॉप पर है। प्रदेश की कुल बुनकर उत्पादन का एक तिहाई हिस्सा हमारे जिले से हो रहा है। केंद्र अाैर राज्य सरकार मनरेगा के माध्यम से साल में डेढ़ सौ दिन रोजगार की गांरटी देता है। परंतु हथकरघा में 365 दिन घर बैठे रोजगार मिलेगा। इसका कोई समय सीमा नहीं है। जिला पंचायत सदस्य अनिता कुमेटी ने कहा कि डौंडी ब्लाॅक के ठेमाबुजुर्ग के लोग भाग्यशाली है। जिन्हें हथकरघा से घर बैठे रोजगार करने का अवसर मिला है। जिनका वे लोग लाभ उठाए। ग्राम धोबनी की महिलाएं हथकरघा से जुड़कर 4 से 5 सौ रुपए हर रोज कमा रही है।

ठेमाबुजुर्ग में नया बुनाई प्रशिक्षण केंद्र शुरू, 20 महिलाओं को 4 महीने तक दी जाएगी ट्रेनिंग, स्कालरशिप भी मिलेगी

डौंडी. ग्राम ठेमाबुजुर्ग में हुए कार्यक्रम में उपस्थित महिलाएं।

बुनकर घर में शौचालय बनाएंगे तो 3 हजार देंगे

बुनकर समिति के संचालक लखन लाल देवांगन ने कहा कि समिति की बैठक में लोकहित के निर्णय लिया गया। स्वच्छता अभियान के तहत बुनकर को अपने घर में शौचालय बनाने पर 3 हजार रुपए देंगे। बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओं योजना को प्रोत्साहित करने के लिए बेटी जन्म हाेने पर बेबी किट, बुनकर की मृत्यु होने पर 5 हजार रूपए समिति की आेर से तत्कालिक सहयोग, स्वदेशी अपनाओं को बढ़ावा देने के लिए बुनकर का खुद के बनाए कपड़े का उपयोग करने पर सम्मान किया जाएगा। इस अवसर पर योजनाओं की जानकरी भी दी गई।

20 महिलाओं को प्रशिक्षण के बाद मिलेगा हैंडलूम

प्रशिक्षक यशवंत कोसमे ने बताया कि ग्राम ठेमाबुजुर्ग के संतोषी विश्वकर्मा, सवित्रि यादव, दशरी देवहारी, उत्तरा यादव, बेलासिया कोठारी, माधुरी उसेंडी, ललिता यादव, मालती ठाकुर, अनिता देवहारी सहित 20 महिलाअों काे ट्रेनिंग के बाद शासन से 15 हजार रुपए का हैंडलूम व प्रतिमाह 15 सौ रुपए छात्रवृत्ति मिलेगी। इस मौके पर सरपंच केसर बारला, समिति अध्यक्ष उत्तरा देवांगन, उपाध्यक्ष हेमलता मेश्राम, सदस्य झम्मन देवांगन, लेखराम साहू, वरिष्ठ निरिक्षक डीके सोनी, मुकेन्द्र खरे, शर्माराम, प्रदीप कुमार, मूलचंद, कपिल, हुमन देवांगन अादि उपस्थित थे।