भिलाई + दुर्ग

  • Home
  • Chhattisgarh
  • Bhilaidurg
  • पीटी एक्टिविटी में जवानों ने दिखाए स्टंट बंबू डांस और साइलेंट ड्रिल ने चौंकाया
--Advertisement--

पीटी एक्टिविटी में जवानों ने दिखाए स्टंट बंबू डांस और साइलेंट ड्रिल ने चौंकाया

बुधवार को क्षेत्रिय प्रशिक्षण केंद्र सीआईएसएफ उतई में 77वां दीक्षांत समारोह हुआ। ये समारोह आरक्षक, जीडी बैच...

Danik Bhaskar

Mar 01, 2018, 02:10 AM IST
बुधवार को क्षेत्रिय प्रशिक्षण केंद्र सीआईएसएफ उतई में 77वां दीक्षांत समारोह हुआ। ये समारोह आरक्षक, जीडी बैच आरक्षक और जीडी तृतीय प्रशिक्षण बटालियन के कोर्स का था। जिसमें 1083 बल सदस्यों ने हिस्सा लिया। कार्यक्रम में परेड का नेतृत्व परेड का नेतृत्व तृतीय प्रशिक्षण बटालियन के पुनीत कुमार ने किया। मुख्य अतिथि उत्तर पूर्व खंड मुख्यालय कोलकाता के महानिरीक्षक अजीत नारायण महापात्रा थे।

आयोजित कार्यक्रम में बैंड डिसप्ले, साइलेंट ड्रिल, ग्राउंड वर्क, रिफलेक्स शूटिंग डेमो, मलखंब, कर्व मागा, पारकोर, बंबू डांस, बाइक स्टंट और मोटर ट्रेनिंग का प्रदर्शन भी किया गया। इस दौरान मुख्य अतिथि ने अपना कर्तव्य पूरी ईमानदारी, निष्पक्षता और लगन के साथ करने का संदेश दिया। उन्होंने कहा कि जवानों के उत्साह से ही देश की सुरक्षा संभव है। उनके लिए जनमानस में जो भाव है, उसे सबको समझना बेहद जरूरी है।

जानिए दीक्षांत समारोह में और क्या रहा खास...

खुद किया मिजोरम का बंबू डांस: जवानों ने समारोह में मिजोरम का प्रसिद्ध बंबू डांस का प्रदर्शन खूद ही सीख कर किया। पारंपरिक वेशभूषा के साथ जवानों ने कार्यक्रम स्थल में इसकी प्रस्तुत दी। बताया गया कि जवानों को सांस्कृतिक प्रस्तुति का प्रशिक्षण भी दिया गया।

साइलेंट ड्रिल का हुआ डेमो: साइलेंट ड्रिल की कार्रवाई भी दिखाई गई। जिसमें आवाज किए बिना ही जवानों ने कार्रवाई की। इस दौरान परेड भी निकाली गई। जवानों के इस प्रदर्शन को देखने वालों की खूब सराहना मिली।

39 सप्ताह का दिया प्रशिक्षण

मुख्य अतिथि ने प्रशिक्षणार्थियों द्वारा प्रस्तुत की गई दीक्षांत परेड का निरीक्षण किया। आरटीसी भिलाई के उपमहानिरीक्षक एनजी गुप्ता ने बताया कि इस प्रशिक्षण मे देश के 29 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों के प्रशिक्षणार्थी शामिल है। इन प्रशिक्षणार्थियों को 39 सप्ताह का प्रशिक्षण दिया गया। जिसमें इन्हें औद्योगिक और आंतरिक सुरक्षा के साथ विभिन्न विषयों जैसे मेजर ऐक्ट, माइनर ऐक्ट, मानव अधिकार ,फील्ड क्राफ्ट, यूएसी और विभिन्न आधुनिक हथियारों का प्रशिक्षण दिया गया है। उन्होंने यह भी बताया कि बल की तैनाती 341 औद्योगिक उपक्रमों जैसे विमानपत्तन, बंदरगाह, मेट्रो रेल, वीआईपी सुरक्षा, अंतरीक्ष और अणुविक संस्थान आदि में है।

पार्कर डेमो में किए स्टंट: पारकोर डेमो में जवानों ने एक से बढ़कर एक स्टंट किए। जिसमें छलांगें मारना और दीवार पर चढ़ना जैसे स्टंट शामिल थे। मुश्किल परिस्थितियों पर आने वाली बाधाएं भी इसमें शामिल थी।

पीटी एक्टिविटी में आग से लगाई छलांग: पीटी एक्टिविटी में दुश्मन का सामना करते समय आग से बचकर बंदूक चलाने का प्रशिक्षण भी जवानों को दिया जाता है। इसका प्रदर्शन भी जवानों ने समारोह के दौरान किया। जवानों ने मलखंब भी किया।

सचिन को मिला ऑल राउंड बेस्ट ट्रॉफी





Click to listen..