• Home
  • Chhattisgarh
  • Bhilaidurg
  • आदर्श कन्या विद्यालय को बालिका और कल्याण कॉलेज को पुरुष वर्ग का खिताब
--Advertisement--

आदर्श कन्या विद्यालय को बालिका और कल्याण कॉलेज को पुरुष वर्ग का खिताब

नेहरू युवा केंद्र की ओर से बालक और बालिका दोनों वर्गों की हुई फुटबॉल प्रतियोगिता हुई। इसमें बालिका वर्ग में आदर्श...

Danik Bhaskar | Apr 01, 2018, 02:10 AM IST
नेहरू युवा केंद्र की ओर से बालक और बालिका दोनों वर्गों की हुई फुटबॉल प्रतियोगिता हुई। इसमें बालिका वर्ग में आदर्श कन्या विद्यालय ने और बालक वर्ग में कल्याण कॉलेज ने कब्जा किया। बालिका वर्ग में एमजीएम स्कूल सेक्टर-6 की लड़कियां और बालक वर्ग में दुर्ग हीरोज उपविजेता रहे। प्रतियोगिता के विजेताओं को अतिथियों ने पुरस्कृत किया।

इससे पहले बालिका वर्ग में आदर्श कन्या विद्यालय और एमजीएम सेक्टर-6 के बीच फाइनल मैच खेला गया। दोनों ही टीमों ने डिफेंस और अटैक का शानदार नमूना पेश किया। लगातार एक दूसरे के डी में आक्रमण भी करते रहे। 12वें मिनट पर आदर्श गर्ल्स की खिलाड़ी ने मैदान शॉट को गोल में तब्दील किया। इस तरह आदर्श कन्या को पहले हाफ में ही 1-0 की बढ़त मिल गई। एमजीएम की छात्राओं ने मैच में अपनी पकड़ बनाने और दबाव को हटाने के लिए भरपूर प्रयास किया।

गर्ल्स फाइनल का फैसला 1-0 गोल से हुआ

2-0 से कल्याण कॉलेज ने जीत हासिल की, आदित्य और मनोज ने किए गोल

बालक वर्ग के फाइनल में कल्याण कॉलेज और दुर्ग हीरोज के बीच मैच खेला गया। दोनों ही टीमों ने शुरू से ही एक दूसरे के डी में आक्रमण किया। इस अटैकिंग खेल का फायदा कल्याण कॉलेज को मिला। 10वें मिनट पर आदित्य ने पहला गोल किया। इस तरह टीम को पहले हाफ में ही 1-0 की बढ़त मिल गई। सेकंड हाफ में भी कल्याण कॉलेज ने अपनी रणनीति में कोई फेरबदल नहीं किया। परिणामस्वरूप कल्याण कॉलेज को सेकंड हाफ में एक और गोल करने का मौका मिला। मनोज ने मैदानी शाट से एक शानदार गोल किया। इस तरह मैच में 2-0 की बढ़त मिली।

12वें मिनट में हुआ गोल ही पूरे मैच का एकमात्र गोल रहा। इसी गोल ने मैच का फैसला किया। पूरे मैच के दौरान इसके अलावा कोई दूसरा गोल नहीं हो सका। हालांकि एक तरफ आदर्श कन्या की बालिकाओं ने बढ़त का फासला और बढ़ने की कोशिश की, वहीं एमजीएम की छात्राओं ने मैच में बराबरी पर आने की लगातार कोशिश की। पर दोनों को ही इसमें कामयाबी नहीं मिली।

इन्होंने दिया विजेताओं को पुरस्कार

प्रतियोगिता के विजेता और उपविजेता टीमों को मुख्यअतिथि कांतिलाल, नेहरू युवा केंद्र की संचालिका नीता डूमरे, गीता चक्रवर्ती, सुरेंद्र चंदेल, महेश यादव, नवीन देवांगन आदि ने पुरस्कृत किया।