भिलाई + दुर्ग

  • Hindi News
  • Chhattisgarh
  • Bhilaidurg
  • निर्णायक दल ने सीएसआर के काम देखे, माइंस का भी किया मूल्यांकन
--Advertisement--

निर्णायक दल ने सीएसआर के काम देखे, माइंस का भी किया मूल्यांकन

प्रधानमंत्री ट्रॉफी निर्णायक दल के सदस्यों ने भिलाई प्रवास के दौरान 1 फरवरी को बीएसपी द्वारा संचालित विभिन्न...

Dainik Bhaskar

Feb 02, 2018, 02:15 AM IST
प्रधानमंत्री ट्रॉफी निर्णायक दल के सदस्यों ने भिलाई प्रवास के दौरान 1 फरवरी को बीएसपी द्वारा संचालित विभिन्न सीएसआर गतिविधियों एवं बीएसपी के लौह अयस्क परिसर राजहरा का मूल्यांकन किया।

निर्णायक समूह के सदस्यों के प्रथम टीम ने सेक्टर-2 स्थित दिव्यांग बच्चों के स्कूल मुस्कान का अवलोकन किया। उन्होंने संस्था के सदस्यों एवं बच्चों से मुलाकात कर वहां के शैक्षणिक गतिविधियों की विस्तृत जानकारी प्राप्त की। इसके बाद उन्होंने संयंत्र के सीएसआर विभाग द्वारा वनांचल क्षेत्र के आदिवासी विद्यार्थियों और होनहार योजना के तहत निशुल्क शिक्षा प्राप्त कर रहे ज्ञानोदय छात्रावास के विद्यार्थियों से रूबरू हुए। इसी टीम ने पीजी कॉलेज ऑफ नर्सिंग, भिलाई जहां बीएसपी द्वारा ट्राइबल बालिकाओं को निशुल्क नर्सिंग प्रशिक्षण दिया जा रहा है का जायजा लिया। इसके अलावा इस टीम ने संयंत्र के जवाहरलाल नेहरु चिकित्सालय एवं अनुसंधान केन्द्र का भ्रमण कर विस्तृत जानकारी हासिल की।

संस्था के सदस्यों से भी की चर्चा

टाउनशिप के कुछ स्कूलों में टीम ने पूछताछ भी की।

सियान सदन में किया आत्मीय संवाद

इसके अतिरिक्त द्वितीय टीम के सदस्यों ने बीएसपी द्वारा संचालित भिलाई इस्पात सियान सदन का जायजा लिया। इस दौरान उन्होंने सियान सदन के वरिष्ठ नागरिकों से आत्मीय संवाद भी किया। इसी टीम के सदस्यों ने संयंत्र के कार्यपालक निदेशक (सामग्री प्रबंधन) सभागार में आपूर्तिकर्ताओं के साथ सारगर्भित चर्चा की। तीसरी टीम के सदस्यों ने बीएसपी के माइंस लौह अयस्क परिसर, राजहरा का भ्रमण करते हुए विस्तृत जानकारी प्राप्त की।

अफसरों ने बच्चों से पूछा टीचर पढ़ाते हंै कि नहीं

प्रधानमंत्री ट्रॉफी निर्णायक दल के द्वितीय टीम के सदस्यों ने सेक्टर-8 स्थित सुनीति उद्यान गए और एथिक्स पार्क का दौरा किया। वे गरीबी रेखा से नीचे जीवन-यापन करने वाले परिवार के बच्चों के लिए संचालित किए जा रहे भिलाई इस्पात विकास विद्यालय भी गए और बच्चों से बातचीत की। उन्होंने शालेय बच्चों को स्वास्थ्यवर्धक और पौष्टिक मध्यान्ह भोजन का निर्माण और वितरण करने वाली संस्था अक्षयपात्र फाउंडेशन का भ्रमण किया। पीएम ट्रॉफी टीम संयंत्र के आदर्श इस्पात ग्राम पहुंचकर वहां के सदस्यों से सारगर्भित चर्चा की और सीएसआर विभाग द्वारा आदर्श इस्पात ग्राम के निवासियों के लिए निरंतर किए जा रहे विकास कार्यों का जायजा लिया। साथ ही वहां के ग्रामीणों से इसका फीडबैक लिया। टीम के अफसरों ने दस्तावेजों का मूल्यांकन भी बारीकी से किया।

X
Click to listen..